• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

महिलाओं की सुरक्षा के लिए अन्‍य प्रदेशों को भी करना चाहिए ऐसे पुख्‍ता इंतजाम

|

बेंगलुरु। हैदराबाद गैंगरेप की घटना के सामने आने के कुछ ही दिन बाद आज उत्तर प्रदेश के उन्नाव जिले में गैंगरेप की पीड़िता को जलाने की एक भयावह घटना सामने आई है। पीड़िता के ऊपर पेट्रोल डालकर जिंदा जलाने की कोशिश भी की गई। जो अभी भी अस्‍पताल में जिंदगी और मौत से जूझ रही है। महिलाओं के साथ हो रही इन वारदातों से पूरे देश में जबरदस्त गुस्सा है वहीं हर किसी के मन में खौफ समा गया है। ऐसे में महिलाएं स्‍वयं को असुरक्षित महसूस कर रही हैं। रोज सामने आ रही रेप की घटनाएं चीख-चीखकर बता रही हैं कि देश में महिलाएं कहीं भी सुरक्षित नहीं है। ऐसे में देश में महिलाओं की सुरक्षा पर बहुत ही पुख्‍ता कदम उठाए जाने की जरुरत है। नागपुर में महिलाओं की सुरक्षा के लिए जो पहल की गई है अगर सभी प्रदेशों में उसे अपनाया जाए तो महिलाएं बाहर सुरक्षित रहेगी।

रात में घर तक पहुंचा कर आएगी पुलिस

रात में घर तक पहुंचा कर आएगी पुलिस

बता दें, हैदराबाद में 27 साल की एक पशु चिकित्सक के साथ हुए गैंगरेप और उसे जला देने की बर्बरता के बाद से सभी राज्यों और शहरों की पुलिस महिलाओं की सुरक्षा को लेकर अधिक चौकन्नी हो गई है। वहीं नागपुर पुलिस महिलाओं की सुरक्षा को लेकर बहुत ही संजीदा हो गई है। उसने महिलाओं की सुरक्षा के लिए एक कदम उठाया है। इस नयी व्‍यवस्‍था के तहत पुलिस की टीम रात के 9 बजे से सुबह 5 बजे के बीच सूनसान इलाकों में फंसी महिलाओं को उनके घर पहुंचाने की व्यवस्था की है।

बता दें यह निर्णय नागपुर पुलिस कमिश्नर भूषण कुमार उपाध्याय ने लिया है। उन्‍होंने मीडिया को दिए गए साक्षात्कार में बताया कि उन्‍होंने इसके लिए एक टीम गठित की है। यह टीम उन महिलाओं की मदद करेगी जो रात 9 बजे से सुबह 5 बजे तक सूनसान इलाके में फंसी होगी। उन्‍हें पुलिस की टीम उनके घर पर सुरक्षित पहुंचा कर आएगी। वहीं पुलिस जरूरत पड़ने पर इसके लिए महिला स्टाफ के साथ गाड़ी का इंतजाम किया जाएगा। उन्‍होंने बताया कि उनकी टीमें रात 8 बजे से 11 बजे नागपुर के कई चुने हुए इलाकों में गश्त बढ़ा दी है। इसके अलावा महिलाओं की सुरक्षा के लिए पुलिस द्वारा जागरुकता अभियान भी शुरु करने की योजना बनायी जा रही है। ताकि वह महिलाएं आत्मरक्षा के लिए हमेशा अलर्ट रहे।

लुधियाना पुलिस महिलाओं को रात में दे रही फ्री कैब सुविधा

लुधियाना पुलिस महिलाओं को रात में दे रही फ्री कैब सुविधा

हाल ही में पंजाब की लुधियाना पुलिस ने महिलाओं के लिए फ्री कैब सुविधा की घोषणा की थी। लुधियाना पुलिस ने भी शहर में महिलाओं के लिए फ्री कैब सुविधा की शुरुआत की थी। कैब सुविधा की शुरुआत पर लुधियाना पुलिस के कमिशनर ऑफ पुलिस राकेश अग्रवाल ने कहा था कि महिलाओं की मदद के लिए हमारे पास दो डेडिकेटेड हेल्पलाइन नंबर हैं। 1091 और 7837018555, ये नंबर हफ्ते के सातों दिन, चौबीसों घंटे काम करेंगे। महिला इन हेल्पलाइन नंबर पर फोन करके अपने घर के लिए फ्री ड्रॉप ले सकेंगी।

नागपुर पुलिस दे रही रात 9 से सुबह 5 बजे तक फ्री कैब की सुविधा

नागपुर पुलिस दे रही रात 9 से सुबह 5 बजे तक फ्री कैब की सुविधा

लुधियाना पुलिस के बाद नागपुर पुलिस ने महिलाओं के लिए रात 9 से सुबह 5 बजे तक फ्री कैब की सुविधा उपलब्ध करवाएगी। इसके लिए पुलिस ने हेल्पलाइन नंबर भी जारी किए हैं। नागपुर पुलिस ने 07122561103 हेल्पलाइन नंबर जारी किया है। इमर्जेंसी में इस नंबर पर फोन करके महिलाएं पुलिस की फ्री होम ड्रॉप फैसिलिटी का लाभ ले सकेंगी। नागपुर पुलिस भी महिलाओं के लिए रात 9 से सुबह 5 बजे तक फ्री कैब की सुविधा उपलब्ध करवाएगी। इस नंबर के अलावा 100 या 1091 पर कॉल करके भी महिलाएं पुलिस की मदद ले सकेंगी।

इस बारे में नागपुर पुलिस ने अपने ऑफिशियल ट्विटर अकाउंट से ट्वीट करते हुए लिखा,'महिलाओं की सेफ्टी और सुरक्षा के लिए हम होम ड्रॉप सुविधा दे रहे हैं। रात 9 बजे से लेकर सुबह 5 बजे के बीच कोई भी महिला जो अकेली है या फंस गई है और जिसके पास जाने के लिए कोई साधन नहीं है। उसे हम घर तक सुरक्षित छोड़कर आएंगे। बिना किसी शुल्क के।

 हैदराबाद में वेटरनरी डॉक्टर की बलात्कार के बाद हत्या

हैदराबाद में वेटरनरी डॉक्टर की बलात्कार के बाद हत्या

बता दें हैदराबाद में 27 नवंबर को टू-व्हीलर का टायर पंक्चर होने के बाद एक टोल प्लाजा के पास इंतजार कर रही 26 वर्षीय वेटरनरी डॉक्टर की दुष्कर्म के बाद हत्या कर दी गई। डॉक्टर का जला हुआ शव अगले दिन मिला। डॉक्टर शादनगर में रहती थी। वहां से करीब 30 किमी दूर शमशाबाद में एक वेटरनरी हॉस्पिटल में काम करती थीं। वह हर दिन हैदराबाद-बेंगलुरु नेशनल हाईवे पर स्थित टोंडुपल्ली टोल प्लाजा पर अपना टू-व्हीलर पार्क करती थीं। वहां से कैब लेकर अस्पताल तक जाती थीं। पुलिस ने इस मामले में 4 आरोपियों को गिरफ्तार किया।

रेप पीड़िता को जिंदा जलाने का प्रयास

रेप पीड़िता को जिंदा जलाने का प्रयास

उत्तर पद्रेश में गुरुवार यानी आज ही सुबह एक रेप पीड़िता को जमानत पर छूट कर आए दो आरोपियों ने 3 साथियों के साथ मिलकर पेट्रोल डालकर जिंदा जला डाला, जिसे गंभीर हालत में इलाज के लिए भर्ती करवाया गया है। उन्‍नाव के बिहार थानाक्षेत्र के हिंदुनगर गांव का है। यहां कुछ दिन पहले एक युवती के साथ बलात्कार हुआ था। मामले में दो नामजद आरोपियों को गिरफ्तार कर जेल भेजा गया था। आज युवती इसी मामले की पैरवी के लिए रायबरेली जा रही थी। तड़के करीब 4 बजे शिवम त्रिवेदी सहित 5 लोगों ने उसे रोक लिया और पेट्रोन पदार्थ डालकर जिंदा जलाकर मार डालने का प्रयास किया। सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची और महिला को जिला अस्पताल भर्ती करवाया। करीब 70 प्रतिशत झुलस गई पीड़िता को उपचार के लिए लखनऊ अस्‍पताल में भेजा गया। पुलिस ने 3 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है।

दुष्कर्म पर इन देशों में मिलती है ऐसी क्रूर सजा, सुनकर कांप उठेगी रूह

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
After the Hyderabad doctor murder case, Nagpur police is arranging to take women to their homes at night for the safety of them, and not only providing them free cabs.
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X
We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Oneindia sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Oneindia website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more
X