• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

दिल्‍ली में शुरू हुई हाई सिक्यॉरिटी नंबर प्लेट और कलर-कोडेड स्टिकर के लिए ऑनलाइन प्रक्रिया

|

नई दिल्‍ली। दिल्ली में पुराने वाहनों के लिए हाई सिक्योरिटी रजिस्ट्रेशन नंबर प्लेट और कलर-कोडेड स्टिकर के लिए ऑनलाइन बुकिंग की प्रक्रिया को सरल बनाया गया है। दिल्ली परिवहन विभाग ने एक सार्वजनिक नोटिस में आदेश दिया है कि अप्रैल 2019 से पहले पंजीकृत वाहनों के मालिकों को बिना देरी के हाई सिक्यॉरिटी नंबर प्लेट (एचएसआरपी) और कलर-कोडेड स्टिकर प्राप्त कर लें।

HSRP

अधिकारियों ने कहा कि 2019 से पहले पंजीकृत 10-12 लाख कारों और 20 लाख दोपहिया वाहनों सहित 32 लाख से अधिक वाहनों को एचएसआरपी और तीसरा कलर-कोडेड स्टीकर प्लेट लगानी होगी। इसमें से अब तक 3.5 लाख वाहनों ने अनुपालन किया है। अधिकारियों ने बताया कि इसके लिए नियुक्ति लेने की प्रक्रिया को उपभोक्ताओं के लिए सुविधाजनक बनाने के लिए एडवांस किया गया है, और इसमें लगभग दो मिनट ही लगते हैं। हालांकि, चेसिस नंबर और इंजन नंबर दर्ज किए जाने की आवश्यकता है, क्योंकि यह www.bookmyhsrp.com पर बुकिंग करते समय पंजीकरण प्रमाण पत्र (आरसी) और भुगतान विकल्प तैयार रखने की रिक्‍वेस्‍ट की जाती है। वैध एचएसआरपी वाले वाहन 100 रुपये की लागत से रंगीन कोडेड स्टिकर प्राप्त करने के लिए पंजीकरण कर सकते हैं। इसकी बुकिंग जल्द ही शुरू होने की संभावना है।

HSRP)

रोसमेर्टा सिक्योरिटी सिस्टम्स प्राइवेट लिमिटेड जो कि उच्च सुरक्षा पंजीकरण संख्या प्लेटों का एक विक्रेता हैं, इसके प्रवक्‍ता ने कहा कि "ग्राहक के पास अपने वाहन ब्रांड के चुने हुए डीलरशिप पर प्लेट के प्रत्यक्षण के लिए एक सुविधाजनक तारीख और समय की नियुक्ति लेने का विकल्प है। भुगतान को विभिन्न प्लेटफार्मों - क्रेडिट कार्ड, डेबिट कार्ड, इंटरनेट बैंकिंग या यूपीआई के माध्यम से ऑनलाइन किया जा सकता है।" उन्होंने कहा, "आरसी को अपलोड करने और बुकिंग के दौरान वन-टाइम पासवर्ड (ओटीपी) जेनरेट करने की आवश्यकता प्रक्रिया को आसान बनाने के लिए किया गया है।

प्रवक्ता ने कहा कि नंबर प्लेट को ठीक करने के लिए अधिकृत वाहन डीलरों की सूची दिल्ली परिवहन विभाग के पोर्टल पर उपलब्ध है। HSRP को तैयार होने और वाहन डीलर तक पहुंचाने में चार से पांच दिन लगते हैं। ग्राहक को एचएसआरपी चिपकाए जाने के लिए निर्धारित तिथि और समय पर डीलर को बस एक बार जाना होगा। इस प्रक्रिया में 30 मिनट से ज्यादा का समय नहीं लगता है।

परिवहन विभाग के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा 2019 से पहले पंजीकृत 10-12 लाख कारों और 20 लाख दोपहिया वाहनों सहित 32 लाख से अधिक वाहनों को एचएसआरपी और तीसरा रंग-कोडित स्टिकर प्लेट लगानी होगी। उन्होंने कहा कि अब तक 3.5 लाख वाहनों का अनुपालन किया गया है। HSRP और रंग-कोडित स्टिकर राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र दिल्ली (NCT) में पंजीकृत सभी वाहनों के लिए अनिवार्य हैं और मोटर वाहन अधिनियम, 1988 और केंद्रीय मोटर वाहन नियम, 1989 के तहत, वाहन मालिकों द्वारा मानक का उल्लंघन करने वाले के खिलाफ कार्रवाई की जा सकती है।

1 अप्रैल, 2019 से पहले पंजीकृत वाहनों को एचएसआरपी और रंगीन-कोडेड स्टिकर प्राप्त करने होंगे। 1 अप्रैल, 2019 के बाद पंजीकृत नए वाहन इन सुविधाओं से लैस हैं, उन्होंने कहा। रंग-कोडित स्टिकर अपने ईंधन प्रकार के आधार पर वाहनों की पहचान करने के लिए होते हैं, जिनमें पेट्रोल और सीएनजी के लिए हल्के नीले रंग के 'स्टिकर' और डीजल चालित वाहनों के लिए नारंगी रंग के होते हैं। यह पंजीकरण संख्या, पंजीकरण प्राधिकरण, लेजर-ब्रांडेड पिन, और वाहन के इंजन और चेसिस नंबर जैसे विवरणों को वहन करता है। एचएसआरपी एक क्रोमियम-आधारित होलोग्राम है जो स्थायी पहचान संख्या के लेजर-ब्रांडिंग के अलावा आगे और पीछे दोनों नंबर प्लेटों पर हॉट स्‍टेपिंग द्वारा लगाया जाता है।

तमिलनाडु के पैतृक गांव में एसपी बालासुब्रमण्यम का राजकीय सम्‍मान के साथ किया गया अंतिम संस्‍कार

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Online process for high security number plate and color-coded stickers started in Delhi
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X