• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

किसान बिल पर कांग्रेस के विरोध की पूर्व कांग्रेसी ने ही खोल दी पोल, ट्वीट कर बताई ये सच्‍चाई

|

नई दिल्‍ली। केंद्र की मोदी सरकार द्वारा लाए जा रहे कृषि विधेयक के खिलाफ जहां देशभर के किसानों में गुस्सा है वहीं इसे लेकर कांग्रेस से निकाले गए संजय झा ने बड़ा खुलासा किया है। संजय झा ने कहा है कि कांग्रेस पार्टी ने 2019 के लोकसभा चुनाव में एमपीएमसी अधिनियम को समाप्त करने का प्रस्ताव दिया था। उन्होंने कहा कि इस मुद्दे पर बीजेपी और कांग्रेस एकमत है। संजय झा ने आज ट्वीट कर लिखा, "2019 लोकसभा चुनावों के लिए हमारे कांग्रेस घोषणापत्र में, हमने खुद एपीएमसी अधिनियम को समाप्त करने और कृषि उपज को प्रतिबंधों से मुक्त बनाने का प्रस्ताव दिया था। यह मोदी सरकार ने किसानों के बिल में किया है। इस मुद्दे पर बीजेपी और कांग्रेस एकमत हैं।"

sanjay

देश का किसान जागृत

पीएम मोदी ने विपक्ष पर निशाना साधते हुए कहा कि, "ये लोग भूल रहे हैं कि देश का किसान कितना जागृत है। वो ये देख रहा है कि कुछ लोगों को किसानों को मिल रहे नए अवसर पसंद नहीं आ रहे। देश का किसान ये देख रहा है कि वो कौन से लोग हैं, जो बिचौलियों के साथ खड़े हैं।"

    Agriculture Ordinance 2020: Rahul Gandhi ने किसानों के लिए बताया काला अध्यादेश | वनइंडिया हिंदी

    sanjay jha

    दुष्प्रचार किया जा रहा है

    दुष्प्रचार करने का आरोप लगाते हुए विपक्ष को लेकर पीएम मोदी ने कहा कि, "अब ये दुष्प्रचार किया जा रहा है कि सरकार के द्वारा किसानों को MSP का लाभ नहीं दिया जाएगा। ये भी मनगढ़ंत बातें कही जा रही हैं कि किसानों से धान-गेहूं इत्यादि की खरीद सरकार द्वारा नहीं की जाएगी। ये सरासर झूठ है, गलत है, किसानों को धोखा है। हमारी सरकार किसानों को MSP के माध्यम से उचित मूल्य दिलाने के लिए प्रतिबद्ध है। पहले भी थे, आज भी हैं और आगे भी रहेंगे। सरकारी खरीद भी पहले की तरह जारी रहेगी।"

    मैं मां को ICU में छोड़कर आई थी, दुख है कि बात नहीं सुनी गई: हरसिमरत कौर बादल

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    "On The Same Page As BJP": Sanjay Jha Reminds Congress In Farm Bills Row.
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X