• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

कोरोना संकट के बीच कर्नाटक के स्वास्थ्य मंत्री का बेतुका बयान, कहा-भगवान ही बचा सकता है अब

|

बेंगलुरु। देश में कोरोना महामारी का प्रकोप थमने का नाम ही नहीं ले रहा है। वहीं कर्नाटक प्रदेश और उसकी राजधानी बेंगलुरु में जुलाई माह से कोरोना संक्रमितों की संख्‍या बहुत तेजी से बढ़ रही है। कोरोना महामारी को लेकर कर्नाटक के बिगड़ते हालात को लेकर प्रदेश सरकार पर चारों ओर से हमला हो रहा है। कोरोना महामारी के बेकाबू होते हालात पर घिरने पर कर्नाटक के स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री बी श्रीरामुलु ने बड़ा ही बेतुका बयान दे डाला जिसके बाद वो विपक्ष के निशाने पर आ गए हैं। उनके इस बयान पर विवाद शुरू हो और कांग्रेस ने कर्नाटक की बीजेपी सरकार पर हमला बोला दिया है।

केवल भगवान ही हमें कोरोना से बचा सकते हैं

केवल भगवान ही हमें कोरोना से बचा सकते हैं

कर्नाटक के स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री ने श्रीरामुलु ने कहा कि दुनिया भर में कोरोनावायरस के मामलों की संख्या बढ़ रही है। हम सभी को सचेत रहना चाहिए। मीडिय से बात करते हुए मंत्री ने कहा चाहे आप सत्ताधारी दल के सदस्य हों या विपक्ष में, अमीर हो या गरीब ... वायरस भेदभाव नहीं करता है। केवल भगवान ही हमें कोरोना से बचा सकते हैं। उन्‍होंने कहा कि मुझे यकीन है कि राज्य में 100 प्रतिशत, केवल अगले दो महीनों में मामले बढ़ सकते है। उन्‍होंने कहा भले ही ये आरोप लगाया जाए कि यह सरकार की लापरवाही या मंत्रियों की गैर-जिम्मेदारी और मंत्रियों के बीच समन्‍वय की कमी के कारण ऐसा हो रहा है लेकिन सत्य ये है कि केवल भगवान ही हमें कोरोना से बचा सकते हैं।

कांग्रेस ने कहा फिर सरकार की क्या जरुरत

कांग्रेस ने कहा फिर सरकार की क्या जरुरत

कर्नाटक के स्वास्थ्य मंत्री की टिप्पणी को लेकर बीएस येदियुरप्पा सरकार पर निशाना साधते हुए, कांग्रेस के डीके शिवकुमार ने ट्वीट करते हुए लिखा कि "कर्नाटक के स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि" केवल भगवान ही कर्नाटक को बचा सकते हैं कोव‍िड संकट से निपटने के लिए ये बीएस युरियुरप्‍पा सरकार की खराब क्षमता को दर्शाता है। हमें ऐसी सरकार की आवश्यकता क्यों है? अगर वे महामारी से नहीं निपट सकते हैं, तो सरकार की अक्षमता ने नागरिकों को भगवान की दया पर छोड़ दिया है। "

देश के सर्वाधिक प्रभावित 5 राज्यों में शामिल हो चुका है कर्नाटक

देश के सर्वाधिक प्रभावित 5 राज्यों में शामिल हो चुका है कर्नाटक

गौरतलब है कि भारत में कोरोनोवायरस मामलों में वृद्धि जारी है। कर्नाटक में स्वास्थ्य मंत्री ने बुधवार को कहा कि कर्नाटक में गुरुवार सुबह तक कोरोना के कुल 47,253 मामले सामने आए हैं जिनमें से 918 संक्रमितों की मौत हो चुकी है और 18,466 मरीज ठीक हो चुके हैं। महाराष्ट्र (2.75 लाख मामले), तमिलनाडु (1.51 लाख मामले) और दिल्ली (1.16 लाख मामले) के बाद कर्नाटक देश के चौथे सबसे खराब प्रभावित राज्य के रूप में बदल चुका हैं । पिछले 24 घंटों में, कर्नाटक देश के उन पांच राज्यों में शामिल हो गया है जहां सबसे अधिक नए संक्रमणों के मामले दर्ज हुए हैं। 3,176 नए रोगियों और 86 मौतों को दर्ज किया गया। बता दें कर्नाटक में कोरोना बीमारी से अब तक कुल 928 मरीजों की मौत हो चुकी है।

बेंगलुरु में लगाया एक सप्‍ताह का सख्‍त लॉकडाउन

बेंगलुरु में लगाया एक सप्‍ताह का सख्‍त लॉकडाउन

बता दें प्रदेश की राजधानी बेंगलुरु में अचानक कोरोना संक्रमण बढ़ने के कारण यहां 14 जुलाई से 22 जुलाई तक सख्‍त लॉकडाउन लागू कर दिया गया है। वहीं राज्य के धारवाड, मंगलोर और आस-पास के क्षेत्रों में भी बहुत तेजी से संक्रमितों की संख्‍या बढ़ रही है। सोमवार को, राज्य सरकार ने फैसला किया कि सप्ताहांत में राज्य में शुरू होने वाले रैपिड एंटीजन परीक्षणों को प्राथमिकता दी जाएगी। जिला अधिकारियों को सलाह दी गई कि वे इन परीक्षण किटों का बुद्धिमानी से उपयोग करें, मुख्यतः आपातकालीन मामलों के लिए जहां एक त्वरित परिणाम आवश्यक है। जिलों में एक लाख परीक्षण किट खरीदे और वितरित किए गए हैं।

सितंबर तक देश में कोराना की स्थिति होगी भयावह, IISC के दावे डराने वाले

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
On the increasing cases of Corona, the Health Minister of Karnataka said - God will save now, Congress asked - what is the need of the government?
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X