• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

अखिलेश यादव के ठिकानों पर CBI छापेमारी पर बोले सिब्बल, SP-BSP गठबंधन की खबर के बाद BJP ने कराई रेड

|

नई दिल्ली। समाजवादी पार्टी अध्यक्ष अखिलेश यादव के ठिकानों पर सीबीआई की छापेमारी के बाद कांग्रेस ने भारतीय जनता पार्टी के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। अवैध खनन मामले को लेकर अखिलेश यादव के ठिकानों पर छापेमारी की गई, जिसे कांग्रेस ने सपा-बसपा गठबंधन से जोड़ दिया। कांग्रेस सांसद और वरिष्ठ अधिवक्ता कपिल सिब्बल ने कहा है कि यूपी में सपा-बसपा के गठबंधन की खबर सामने आते ही भाजपा बौखला गई और इसी वजह है कि अखिलेश यादव के ठिकानों पर छापे पड़ने शुरू हो गए ।

 Now that the reports of SP-BSP alliance have come, raids have started against Akhilesh. : Kapil Sibal

सिब्बल ने कहा कि ये तो पहले से तय था कि जो भी भाजपा के खिलाफ बोलेगा, उस पर रेड पड़ेगी। भाजपा की यह सरकार ऐसे ही चलती है।वहीं अखिलेश ने भी इस छापेमारी के बाद भाजपा पर जुबानी प्रहार किया और कहा कि भाजपा के पास CBI है तो हमारे पास गठबंधन (एसपी-बीएसपी) है। अखिलेश ने कहा कि सीबीआई उनसे सवाल करेगी तो वो उसका वो जवाब देंगें।

उन्होंने कहा कि लोकसभा चुनाव से पहले भाजपा अपना असली रंग दिखा रही है। अखिलेश ने कहा वो खुश हैं कि भाजपा अपना असली रंग दिखा रही है। उन्होंने कहा कि भाजपा जो कुछ भी कर रही है उसे पता होना चाहिए कि बाद में उन्हें इसकी कीमत चुकानी पड़ेगी। अखिलेश ने कहा कि पहले कांग्रेस सीबीआई भेजती थी अब भाजपा।

गौरतलब है कि शनिवार को सीबीआई की टीम ने अवैध खनन घोटाले मामले में इलाहाबाद हाईकोर्ट के आदेश सपा अध्यक्ष के दिल्ली , लखनऊ, कानपुर, जालौन, हमीरपुर समेत एक दर्जन ठिकानों पर छापेमारी की।

English summary
Kapil Sibal, Congress MP: Now that the reports of SP-BSP alliance have come, raids have started against Akhilesh. This was expected, whoever speaks against them(BJP) is raided, that's how this government is running.
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X