• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

अब हाथरस गैंगरेप आरोपियों का बचाव करेगा एपी सिंह, निर्भया केस में भी दोषियों का वकील था

|

नई दिल्ली। 2012 के निर्भया कांड के सभी दोषियों का केस लड़ने वाले वकील एपी सिंह अब हाथरस गैंगरेप के चारों आरोपियों का बचाव करता हुआ कोर्ट में दिखेगा। हाथरस गैंगरेप केस में गिरफ्तार चार आरोपियों के खिलाफ पूरे देश में जमकर विरोध-प्रदर्शन किया जा रहा है और यूपी की योगी सरकार ने मामले की जांच के लिए एसआईटी का गठन किया है। हालांकि मामले में विवाद बढ़ने के बाद सीएम योगी आदित्यनाथ ने मामले की जांच की सिफारिश सीबीआई को भी कर दी है।

AP singh

जानिए, क्या टाटा Vs अंबानी की सुपर ऐप की लड़ाई उन्हें भारत का अलीबाबा-टेनसेंट बना सकती है?

अखिल भारतीय क्षत्रिय महासभा ने वकील एपी सिंह को नियुक्ति किया

अखिल भारतीय क्षत्रिय महासभा ने वकील एपी सिंह को नियुक्ति किया

रिपोर्ट के मुताबिक हाथरस गैंगरेप मामले के आरोपियों के बचाव के लिए अखिल भारतीय क्षत्रिय महासभा ने एक उच्च जाति निकाय एपी सिंह को नियुक्त किया है। अखिल भारतीय क्षत्रिय महासभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष और पूर्व केंद्रीय मंत्री राजा मानवेंद्र सिंह ने एपी सिंह से हाथरस मामले के आरोपियों से लड़ने के लिए कहा है। एक प्रेस विज्ञप्ति में सिंह ने कहा कि संस्था ने एपी सिंह की फीस का भुगतान करने के लिए बहुत सारे पैसे एकत्र किए हैं।

एपी सिंह आरोपी पक्ष के लिए सच्चाई को सामने लाने की दलील देंगे

एपी सिंह आरोपी पक्ष के लिए सच्चाई को सामने लाने की दलील देंगे

पत्र में यह भी कहा गया है कि हाथरस मामले के जरिए एससी-एसटी समुदाय को उच्च जाति के समाज के साथ दुर्व्यवहार करने के लिए "दुरुपयोग" किया जा रहा है, जिससे राजपूत समुदाय विशेष रूप से आहत हुआ है। पत्र में आगे कह गया है कि इस मामले में निर्णय लिया गया है कि एपी सिंह आरोपी पक्ष के लिए सच्चाई को सामने लाने की दलील कोर्ट में देंगे।

निर्भया गैंगरेप मामले में सभी 4 बलात्कारियों का केस लड़ा था एपी सिंह

निर्भया गैंगरेप मामले में सभी 4 बलात्कारियों का केस लड़ा था एपी सिंह

वकील एपी सिंह राजधानी दिल्ली के बहुचर्चित निर्भया गैंगरेप मामले में सभी 4 बलात्कारियों का केस लड़ा था, जिन्हें दोष सिद्धि के बाद फांसी पर चढ़ा दिया गया था। हालांकि एपी सिंह ने मामले दोषी चारों आरोपियों की फांसी कई वर्ष तक टालने में जरूर कामयाब हुआ था, लेकिन दोषियों को फांसी के फंदे से नहीं बचा सका था। वही एपी सिंह अब फांसी हाथरस मामले के चारों आरोपियों की ओर से वकील के रूप में केस लड़ेंगे।

हाथरस में अभियुक्तों को उच्च जाति समूहों से समर्थन मिल रहा है

हाथरस में अभियुक्तों को उच्च जाति समूहों से समर्थन मिल रहा है

उल्लेखनीय है पश्चिमी उत्तर प्रदेश के हाथरस शहर में हुए पीड़िता के साथ गैंगरेप मामले के अभियुक्तों को उच्च जाति समूहों से समर्थन मिल रहा है, जो "निष्पक्ष" जांच की मांग कर रहे हैं। पिछले सप्ताह, सवर्ण समाज (उच्च जाति समाज) से जुड़े कार्यकर्ताओं ने हाथरस में 19 वर्षीय दलित लड़की के साथ छेड़खानी करने के आरोपियों को न्याय दिलाने की मांग को लेकर धरना भी दिया था। इसके अलावा सभी चार आरोपियों के पक्ष में एक पंचायत भी आयोजित की गई, जो अभी पुलिस हिरासत में हैं।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Lawyer AP Singh, who fought the case of all the culprits of the 2012 Nirbhaya case, will now appear in court defending the four accused of Hathras gangrape. The four accused arrested in the Hathras gang rape case are being fiercely protested all over the country and the Yogi government of UP has formed an SIT to investigate the case. However, after the controversy in the case increased, CM Yogi Adityanath has also recommended the investigation of the case to the CBI.
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X