• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

राज्यसभा में उपसभापति के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव खारिज, वेंकैया नायडू ने बताया नियमों के खिलाफ

|

नई दिल्ली: संसद के उच्च सदन यानी राज्यसभा में रविवार को दो कृषि विधेयक मोदी सरकार ने पेश किए। इसके बाद ध्वनि मत से उसे पास भी करवा दिया गया। जिस पर हंगामा करते हुए कुछ सांसद वेल में पहुंच गए, तो कुछ सभापति की सीट के पास। इसके अलावा रविवार की कार्यवाही से नाराज 12 विपक्षी दलों ने उपसभापति के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव पेश किया था, जिसे सभापति ने खारिज कर दिया है।

rajya
    Agriculture Bill 2o20 : Rajyasabha के 8 सांसद निलंबित,कृषि बिल पर किया था बवाल | वनइंडिया हिंदी

    राज्यसभा के सभापति एम. वेंकैया नायडू के मुताबिक रविवार का दिन राज्यसभा के लिए एक बुरा दिन था, जब कुछ सदस्य वेल में आ गए। इस दौरान डिप्टी चेयरमैन को शारीरिक रूप से खतरा था, लेकिन वो कर्तव्य निभाने के लिए बाध्य थे। उन्होंने कहा कि ये घटना दुर्भाग्यपूर्ण और निंदनीय है। मैं सांसदों को सुझाव देता हूं कि वो आत्मनिरीक्षण करें। इसके साथ ही सभापति वेंकैया नायडू ने उपसभापति के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव को खारिज कर दिया। उन्होंने कहा कि नियमों के तहत ये स्वीकार्य नहीं है।

    राज्यसभा में हंगामा: सांसदों ने फाड़ी रूल बुक, धरने पर भी बैठे फिर भी आधी रात तक चली संसद

    8 सांसद राज्यसभा से सस्पेंड

    राज्यसभा में हंगामा करने वाले आठ सांसदों को आज सभापति वेंकैया नायडू ने सस्पेंड कर दिया है। जिसमें तृणमूल कांग्रेस के डेरेक ओ'ब्रायन और डोला सेन, कांग्रेस के राजू साटव, सैयद नासिर हुसैन और रिपुण बोरा, आम आदमी पार्टी के संजय सिंह, सीपीआई-एम के केके रागेश और एलमाराम करीम शामिल हैं। ये सभी एक हफ्ते तक सदन की कार्यवाही में हिस्सा नहीं ले सकते हैं।

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    No-confidence motion against the Deputy Chairman is not admissible: Venkaiah Naidu
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X