• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

कोविड वेरिएंट पर टिप्पणी से फंसे शशि थरूर, बीजेपी सांसद ने स्पीकर को लिखा पत्र, कहा- संसद के अयोग्य

|
Google Oneindia News

नई दिल्ली, 25 मई। शशि थरूर एक बार फिर से आरोपों के घेरे में हैं। सत्ताधारी पार्टी बीजेपी के सांसद निशिकांत दूबे ने थरूर पर आरोप लगाते हुए लोकसभी स्पीकर ओम बिड़ला को पत्र लिखा है। दूबे ने कोरोना वायरस के वेरिएंट बी.1.617 को भारतीय वेरिएंट कहने को लेकर शशि थरूर पर निशाना साधा है और उन्हें लोकसभा के अयोग्य बताया है।

Shashi Tharoor

स्पीकर को लिखे पत्र में निशिकांत दूबे ने शशि थरूर पर आरोप लगाया है कि वह अपने समृद्ध राजनयिक अनुभव के बावजदू अपने ट्वीट में 'भारतीय वेरिएंट' शब्द का प्रयोग कर रहे हैं जबकि विश्व स्वास्थ्य संगठन इसे बी.1.617 वेरिएंट कह रहा है।

दूबे ने बताया शर्मनाक
दूबे ने पत्र में आगे लिखा है कि यह मेरी समझ से परे है कि एक भारतीय सांसद ऐसी भाषा का प्रयोग क्यों करेगा जो भारतीयों के प्रति अवैज्ञानिक और अपमानजनक है। जब भारत सरकार ने इस शब्द के प्रयोग को हटाने के लिए सभी सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म को पहले ही लिख दिया है, तो यह शर्मनाक है कि हमारी सम्मानित लोकसभा का एक सदस्य देश और उसके लोगों को शर्मसार करने के लिए इस तरह के विचार का उपयोग करता है।"

दूबे ने कहा है है शशि थरूर पर अपने राजातिक आकाओं को खुश करने के लिए ऐसा कर रहे हैं। उन्होंने यह भी कहा कि शशि थरूर देश के बजाय और पार्टी और राहुल गांधी के एजेंडा को लेकर ज्यादा चिंतिंत हैं।

बीजेपी सांसद ने लिखा "इस तरह के हानिप्रद तत्वों को हमारी संसदीय समिति के अध्यक्ष के रूप में हमारी संसद में बने रहने की अनुमति देना हमारे लोकतंत्र के लिए खतरनाक प्रवृत्ति है।

टूलकिट को लेकर भी घेरा
दूबे ने कहा कि हाल ही में "ट्विटर टूलकिट विवाद पर वह (थरूर) सूचना और प्रौद्योगिकी मंत्रालय से स्पष्टीकरण मांग रहे हैं जबकि ट्विटर की कार्रवाई इस देश के आईटी कानून के खिलाफ है। शशि थरूर अपनी पार्टी और उनके गॉड फादर, जो विदेशों में बैठे हुए हैं, के इशारे पर सरकार और राष्ट्र के खिलाफ ट्विटर कार्रवाई में मदद कर रहे हैं।"

पिछले दिनों बीजेपी नेताओं की कांग्रेस की कथित टूलकिट को शेयर करने पर विवाद खड़ा हो गया था। इस टूलकिट में कोविड-19 के खिलाफ जंग में फेल होने को लेकर मोदी सरकार पर निशाना साधा गया था। इस कथित टूलकिट को बीजेपी नेता संबित पात्रा ने शेयर करते हुए कांग्रेस से सवाल पूछा था। जिसके बाद कांग्रेस ने टूलकिट को फर्जी बताते हुए ट्विटर से शिकायत की थी। बाद में ट्विटर ने इस ट्वीट पर मैनुपुलेटेड मीडिया लिख दिया था।

मैनुपुलेटेड मीडिया लिखने पर सरकार ने ट्विटर से इसे हटाने के लिए कहा था। यही नहीं एक दिन पहले दिल्ली पुलिस की एक टीम ट्विटर ऑफिस पर उसे नोटिस देने भी पहुंची थी।

केंद्रीय मंत्री हरदीप सिंह पुरी पर भड़के शशि थरूर, पूछा- क्या कांग्रेस के ट्वीट की वजह से वैक्सीन की कमी है?केंद्रीय मंत्री हरदीप सिंह पुरी पर भड़के शशि थरूर, पूछा- क्या कांग्रेस के ट्वीट की वजह से वैक्सीन की कमी है?

English summary
nishikant dubey wrote letter to speaker against shashi tharoor over covid remarks
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X