• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

निसारगा तूफानः तटीय इलाकों से वर्ली Covid-19 केंद्र में शिफ्ट किए जाएंगे 150 कोरोना मरीज

|

नई दिल्ली। मौसम विभाग द्वारा निसारगा चक्रवात की चेतावनी के मद्देनजर महाराष्ट्र सरकार ने एमएमआरडीए (मुंबई मेट्रोपॉलिटन रीजनल डेवलपमेंट अथॉरिटी) में एडमिट 150 कोरोना संक्रमित मरीजों को बीकेसी में स्थानांतरित करने का निर्णय लिया है। सभी 150 मरीजों को वर्ली स्थित Covid-19 सुविधा केंद्र में शिफ्ट किया जाएगा। वर्ली स्थित Covid -19 सुविधा केंद्र एक छत युक्त केंद्र है।

    Nisarga Cyclone : Maharshtra-Gujrat में निसर्ग की दस्तक , Amit Shah ने की CM से बात |वनइंडिया हिंदी

    भारत में तैयार हो रही हैं कोरोना वायरस की दो वैक्सीन, जानिए इनसे जुड़ी हर बात

    mumbai

    गौरतलब है महाराष्ट्र सरकार ने यह निर्णय आईएमडी द्वारा चक्रवातीय तूफान निसारगा को लेकर की गई भविष्यवाणी के बाद लिया है, क्योंकि चक्रवातीय तूफान निसारगा की हवा की गति 125 किमी / घंटा तक जाने की चेतावनी दी गई है।

    mumbai

    Cyclone Nisarga: महाराष्ट्र-गुजरात के तटीय इलाकों में हुई बारिश, मुंबई में Red Alert

    एमएमआरडीए के आयुक्त आरए राजीव ने बताया कि एहतियात के तौर पर राज्य सरकार ने मरीजों को सुरक्षित स्थान पर स्थानांतरित करने का निर्णय लिया है। उन्होंने बताया कि निसारगा तूफान के देखते हुए समुद्री तटों की मजबूती के लिए इंजीनियर्स काम पर रहे हैं और खंभों को रेत की थैलियों से मजबूत किया जा रहा है ताकि तूफान से होने वाले नुकसान को कम किया जा सकें।

    mumbai

    Cyclone Nisarga: अरब सागर में सक्रिय तूफान हुआ शक्तिशाली, मुंबई पर मंडराया खतरा, Red Alert जारी

    MMRD सूत्रों के मुताबिक तटीय इलाकों में जर्मन प्रौद्योगिकी वाले सफेद टेंट लगाए गए है, जो 100 /घंटा तक हवा की गति का सामना कर सकते है, लेकिन आईएमडी की चेतावनी के मद्देनजर उक्त 125 किमी / घंटा की हवा की गति में निष्प्रभावी रहेंगी। हालांकि अतीत के अनुभवों के आधार पर MMRDA का मानना ​​है कि निसारगा तूफान में हवा की गति 100 किमी / घंटा से ऊपर नहीं जाएगी।

    mumbai

    पीएम मोदी ने दिया Cyclone Amphan से प्रभावित लोगों को मदद का आश्वासन, अमित शाह ने की ममता से बात

    उल्लेखनीय है महाराष्ट्र सरकार ने गत 1 जून को निसारगा चक्रवातीय तूफान की चेतावनी के मद्देनजर सभी संबंधित अधिकारियों के साथ जमीनी तैयारियों को पूरा करने के लिए एक महत्वपूर्ण बैठक की थी, जिसमें यह तय किया गया कि कोरोनावायरस मरीजों को सुरक्षित स्थान पर स्थानांतरित किया जाए।

    mumbai

    बीएमसी के एक अधिकारी ने कहा कि बीकेसी-एमएमआरडीए के मरीज एसिम्प्टोटिक हैं, इसलिए उन्हें शिफ्ट करने में बहुत अधिक समस्या नहीं है।

    निसारगा तूफान: एनडीएमए अधिकारियों के साथ अमित शाह ने की बैठक, महाराष्ट्र में 10, गुजरात में NDRF की 11 टीम तैनात

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    In view of the Nisarga cyclone warning by the Meteorological Department, the Government of Maharashtra has decided to transfer 150 Corona infected patients admitted to MMRDA (Mumbai Metropolitan Regional Development Authority) to BKC. All 150 patients will be shifted to Covid-19 facility center in Worli. The Covid-19 facility center in Worli is a rooftop building.
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X
    We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Oneindia sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Oneindia website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more