• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

सीतारमण के ब्याज दर घटाने का फैसले वापस लेने को प्रियंका ने बताया चुनावी दांव, शिवसेना ने भी साधा निशाना

|

नई दिल्ली। केंद्र सरकार के छोटी बचत योजनाओं पर ब्याज दर घटाने के ऐलान और फिर इस फैसले को वापस लेने पर विपक्षी दलों ने सवाल उठाए हैं। कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी ने वित्त मंत्री सीतारमण के ब्याज दर घटाने का फैसले वापस लेने को चुनावी दांव बताते हुए कहा है कि पांच राज्यों में चुनाव चल रहे हैं इसलिए ये फैसला वापस ले लिया गया है। शिवसेना ने भी इस पर सवाल किए हैं।

interest cut, Nirmala Sitharaman cuts Interest rate, Priyanka Gandhi, priyanka chaturvedi, Nirmala Sitharaman, Interest rate, shiv sena, congress, बचत पर ब्याज दर में कटौती, शिवसेना, कांग्रेस, प्रियंका गांधी
    Interest Rate Cut: Digvijay Singh और Priyanka Gandhi ने Modi Govt पर कसा तंज | वनइंडिया हिंदी

    प्रियंका गांधी ने ने निर्मला सीतारण से सवाल करते हुए ट्वीट किया है कि आपकी सरकार का छोटी बचत योजनाओं पर ब्याज दर घटाने के फैसले को वापस लेना का मामला 'चूक' है या फिर चुनाव को देखते हुए ये कदम उठाया गया है। प्रियंका ने ये ट्वीट सीतारमण के गुरुवार सुबह किए उस ट्वीट के जवाब में किया है, जिसमें उन्होंने बताया है कि ट्वीट किया, छोटी बचत योजनाओं पर ब्याज दर को लेकर नया आदेश वापस लिया जा रहा है। भारत सरकार की छोटी बचत योजनाओं पर ब्याज दर वही रहेगी जो 2020-2021 की अंतिम तिमाही में थी, यानी जो मार्च 2021 तक थीं। सीतारमण ने अपने ट्वीट में दरें बढ़ाने को एक चूक बताया है।

    कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने वित्तमंत्री से सवाल किया है, मैडम आप सरकार चला रही हैं या सर्कस? कोई भी इस स्थिति में अर्थव्यवस्था के चलने को लेकर कल्पना ही कर सकता है जब करोड़ों लोगों को प्रभावित करने वाले फैसले को चूक कह दिया जाए। आखिर यह आदेश किसने जारी किया?

    शिवसेना ने भी साधा निशाना

    शिवसेना की नेता प्रियंका चतुर्वेदी ने ट्वीट कर कहा है, फैसला वापस ले लिया गया है। ऐसा लगता है कि वित्तमंत्री मैडम ने अखबारों में आज की सुबह की हेडलाइन पढ़ने के बाद कटौती की घोषणा को वापस लेने का इरादा किया। सच्चाई यह है कि केंद्र सरकार की नीतियां पूरी तरह से चूक और असफल अर्थव्यवस्था का परिणाम हैं।

    क्या है पूरा मामला

    केंद्र सरकार ने बुधवार को ऐलान किया था कि लोक भविष्य निधि (पीपीएफ) और एनएससी (राष्ट्रीय बचत प्रमाण पत्र) समेत लघु बचत योजनाओं पर ब्याज दरों में 1.1 प्रतिशत तक की कटौती की जाएगी और यह कटौती एक वित्त वर्ष 2021-22 की पहली तिमाही से शुरू होगी। कुछ घंटे बाद गुरुवार सुबह वित्तमंत्री ने बचत योजनाओं के ब्याज दर में कटौती के ऐलान को वापस ले लिया। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने आज सुबह एक ट्वीट कर कहा कि छोटी बचत योजनाओं की ब्याज दरें पहले की तरह बनी रहेंगी जो 2020-2021 की अंतिम तिमाही में थीं। कल शाम जो आदेश जारी किया गया था उसे वापस लिया जा रहा है।

    ये भी पढ़ें- छोटी बचत योजनाओं पर ब्याज दरों में कटौती का आदेश वापस, निर्मला सीतारमण ने कहा- जारी रहेंगी पुरानी दरेंये भी पढ़ें- छोटी बचत योजनाओं पर ब्याज दरों में कटौती का आदेश वापस, निर्मला सीतारमण ने कहा- जारी रहेंगी पुरानी दरें

    English summary
    Nirmala Sitharaman withdrew cuts Interest rate decision Priyanka Gandhi calls election driven hindsight shivsena also slams Centre
    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X