• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

फांसी से बचाने के लिए निर्भया के गुनहगारों का नया पैंतरा, अब दिल्ली के LG से लगाई गुहार

|

नई दिल्‍ली। निर्भया के गुनहगारों ने मौत की सजा से बचने के लिए अब नया पैंतरा चला है। दोषियों ने दिल्ली के उपराज्यपाल से गुहार लगाई है। दोषी विनय शर्मा ने अपने वकील एपी सिंह के जरिए दिल्ली के उपराज्यपाल अनिल बैजल से फांसी की सजा को उम्रकैद में बदलने की मांग की है। एपी सिंह ने सीआरपीसी के सेक्शन 432 और 433 के तहत फांसी की सजा को निलंबित करने की मांग की है। आपको बता दें कि दिल्ली की अदालत ने सभी दोषियों के खिलाफ चौथी बार डेथ वारंट जारी किया है, जिसके मुताबिक 20 मार्च सुबह साढ़े पांच बजे सभी दोषियों को फांसी की सजा दी जानी है।

इससे पहले भी विनय ने मांगी थी मेडिकल सहायता

इससे पहले भी विनय ने मांगी थी मेडिकल सहायता

इससे पहले भी निर्भया के दोषी विनय ने कोर्ट में याचिका देकर मेडिकल सहायता की मांग की थी जिसे कोर्ट ने खारिज कर दिया था। कोर्ट ने इस याचिका की जांच के लिए तिहाड़ जेल से मेडिकल रिपोर्ट मांगी थी। जिसमें यह साफ हो गया था कि उसने खुद दीवार पर अपना सिर पटका था जिसके बाद उसे तुरंत मेडिकल सहायता दी गई। अदालत ने गौर किया कि मौत की सजा के मामले में सामान्य चिंता और अवसाद होता है। यह भी पता चला कि इस मामले में निस्संदेह, पर्याप्त चिकित्सा और मनोवैज्ञानिक मदद प्रदान की गई है।

दोषी मुकेश कुमार ने भी सुप्रीम कोर्ट में दायर की थी याचिका

दोषी मुकेश कुमार ने भी सुप्रीम कोर्ट में दायर की थी याचिका

इससे पहले दोषी मुकेश सिंह ने शुक्रवार को सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर कर अपने कानूनी उपाय बहाल करने का अनुरोध किया है। दोषी का आरोप है कि उसके वकील ने उसे गुमराह किया था। वकील मनोहर लाल शर्मा के माध्यम से दायर याचिका में मुकेश सिंह ने आरोप लगाया है कि केन्द्र , दिल्ली सरकार और न्याय मित्र की भूमिका निभाने वाली अधिवक्ता वृन्दा ग्रोवर ने 'आपराधिक साजिश' रची और 'छल' किया जिसकी सीबीआई से जांच कराई जानी चाहिए।

20 मार्च को होनी है फांसी

20 मार्च को होनी है फांसी

आपको बता दें कि चारों दोषियों की सभी कानूनी विकल्प खत्म हो गए हैं। सभी दोषी अपनी क्यूरेटिव याचिका से लेकर राष्ट्रपति के पास भेजे जाने वाली दया याचिका का इस्तेमाल कर चुके हैं। उल्लेखनीय है कि निर्भया के चारों दोषियों विनय, पवन, मुकेश और अक्षय को 20 मार्च की सुबह साढ़े 5 बजे फांसी दी जानी है।

राखी के चेहरे पर दिखा कोरोना का खौफ, VIDEO अपलोड कर बोलीं- होली पर भूलकर भी न करना ये काम

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Nirbhaya Case: Convict Vinay Sharma approached Delhi LG seeking to commute death sentence to life imprisonment.
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X