• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

एनआईए कोर्ट का बड़ा फैसला, ISIS के 15 आतंकियों को सुनाई सजा

|
Google Oneindia News

नई दिल्ली। नेशनल इन्वेस्टिगेशन एजेंसी (एनआईए) की अदालत ने बड़ा फैसला देते हुए आतंकी संगठन आईएसआईएस से जुड़े 15 आतंकियों को सजा सुनाई है। दिल्ली स्थित एनआईए की विशेष अदालत ने पांच साल से लेकर 10 तक की सजा इन लोगों को सुनाई है। अदालत ने शुक्रवार को ये फैसला सुनाया है। ये मामला 2015 का है। सभी को आतंक फैलाने की साजिश रचने का दोषी पाया गया था। अदालत ने इन सभी दोषियों को गैरकानूनी गतिविधि(रोकथाम) अधिनियम, आपराधिक साजिश, विस्फोटक अधिनियम के तहत सजा सुनाई है।

NIA court sentences 15 ISIS terrorists, NIA court, nia, ISIS, terrorist, एनआईए कोर्ट ने आईएसएस आंतकियों को सुनाई सजा, एनआईए, आईएसआईएस

एनआईए ने फैसला आने के बाद कहा है कि ये अपनी तरह का पहला केस है, जिसमें सोशल मीडिया और इंटरनेट के जरिए से युवाओं को जोड़कर देश में आतंकी गतिविधि को फैलाने की साजिश रची गई और दोष साबित हुआ।पटियाला हाउस स्थित विशेष न्यायाधीश प्रवीण सिंह की अदालत ने एक दोषी को दस साल की जेल की सजा सुनाई है। तीन को सात साल की जेल की सुनाई गई है। वहीं एक दोषी को छह साल की सजा सुनाई गई है। दस दोषियों को पांच-पांच साल की सजा सुनाई गई है।

बता दें कि ये मामला एनआईए ने दिसंबर 2015 को दर्ज किया था। सोशल मीडिया के जरिए युवाओं को बहकाकर आईएसआईएस से जोड़ने और आतंकवाद की तरफ ले जाने को लेकर ये मामला दर्ज हुआ था। एनआईए ने इनके खिलाफ 2017 में अदालत में आरोपपत्र दाखिल कर दिया था। जिसके बाद ये मामला अदालत में चल रहा था, जिस पर आज फैसला आया।

ये भी पढ़ें- ये भी पढ़ें- खालिस्तानी झंडा फहराने और गोल्ड स्मगलिंग मामले में NIA ने की छापेमारी, दो गिरफ्तारये भी पढ़ें- ये भी पढ़ें- खालिस्तानी झंडा फहराने और गोल्ड स्मगलिंग मामले में NIA ने की छापेमारी, दो गिरफ्तार

English summary
NIA court sentences 15 ISIS terrorists to terms between 5 to 10 years
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X