• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

'अगर अकेले न गई होती' बदायूं गैंगरेप पर महिला आयोग की सदस्य के बयान पर भड़कीं पूजा भट्ट, रेखा शर्मा ने दी सफाई

|

Pooja Bhatt and NCW chief Rekha Sharma on Badaun gang rape case: उत्तर प्रदेश के बदायूं में 50 वर्षीय महिला के साथ गैंगरेप और हत्या की घटना ने सबको चौंका दिया है। इस घटना पर हाल ही में महिला आयोग की सदस्या चंद्रमुखी देवी ने एक ऐसा बयान दिया, जिसपर विवाद हो गया है। अब राष्ट्रीय महिला आयोग की अध्यक्ष रेखा शर्मा को उसपर सफाई देनी पड़ी है। महिला आयोग की सदस्या चंद्रमुखी देवी ने पीड़ित महिला के परिजनों से मुलाकात के बाद कहा, ''मैं सोचती हूं कि अगर वह शाम को वहां नहीं जाती या परिवार के किसी बच्चे को साथ ले जाती तो शायद इस घटना को टाला जा सकता था।'' महिला आयोग की सदस्य के इस बयान पर बॉलीवुड एक्ट्रेस और फिल्ममेक पूजा भट्ट ने राष्ट्रीय महिला आयोग की अध्यक्ष रेखा शर्मा को टैग कर सवाल पूछा है।

Badaun

पूजा भट्ट ने पूछा- क्या आप भी इस बयान से सहमत हैं?

    Badaun Case: NCW की सदस्य के इस बयान पर खड़ा हुआ विवाद, देनी पड़ी सफाई | वनइंडिया हिंदी

    पूजा भट्ट ने भी इस बयान को आधार बनाते हुए महिला आयोग रेखा शर्मा से पूछा, ''रेखा जी क्या आप इस बयान से सहमत हैं? क्या आपको भी यही लगता है कि महिला का गलत समय में मंदिर जाने के लिए बाहर निकलना ठीक नहीं था? कृपया बदायूं गैंगरेप केस पर अपने विचार साफ कीजिए।''

    NCW चीफ रेखा शर्मा बोलीं- मैं इस बयान की निंदा करती हूं

    पूजा भट्ट के ट्वीट का जवाब देते हुए रेखा शर्मा ने लिखा, ''मैं नहीं जानती कि आयोग की सदस्या ने यह कैसे और क्यों कहा है। महिला को यह अधिकार है कि वह अपनी इच्छानुसार कभी भी कहीं भी जा सके। यह समाज और सरकार की जिम्मेदारी है कि वो महिलाओं के लिए हर जगह को सुरक्षित बनाए।''

    वहीं एक अन्य ट्वीट का जवाब देते हुए रेखा शर्मा ने लिखा है, "यह राष्ट्रीय महिला आयोग की राय नहीं है और मैं इसकी कड़े शब्दों में निंदा करती हूं।"

    जानिए क्या है पूरा माजरा

    राष्ट्रीय महिला आयोग की सदस्य चंद्रमुखी देवी को आयोग की प्रमुख रेखा शर्मा ने पीड़िता के परिजनों से मिलने भेजा था। पीड़ित परिवार से मिलने के बाद मीडिया से बात करते हुए चंद्रमुखी देवी ने कहा, ''मैं महिलाओं से बार-बार कहती हूं कि उन्हें ऐसे गलत समय में किसी के भी प्रभाव में कहीं नहीं जाना चाहिए। मैं सोचती हूं कि अगर वह शाम को वहां नहीं जाती या परिवार के किसी बच्चे को साथ ले जाती तो शायद इस घटना ना होती। लेकिन यह सुनियोजित घटना थी, क्योंकि उसे फोन करके बुलाया गया था। वह चली गई और ऐसी घटना घट गई।''

    ये भी पढ़ें- राजस्थान: 100 लोगों ने एक साथ बस्ती पर बोला धावा, 38 दलित महिलाओं-बच्चों को किया अगवा

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    NCW chief Rekha Sharma over statement of member of Women Commission in Badaun case Pooja Bhatt angry
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X