• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

मसूद अजहर के भाई ने रची थी नगरोटा में बड़े आतंकी हमले की साजिश, घाटी में तबाही का था इरादा

|

नगरोटा। एक बार फिर पाकिस्‍तान की बड़ी साजिश को सेना और सुरक्षाबलों ने जम्‍मू कश्‍मीर के नगरोटा में विफल कर दिया है। जैश-ए-मोहम्‍मद के चार आतंकियों को जम्‍मू से 14 किलोमीटर दूर नगरोटा में एक एनकाउंटर में ढेर कर दिया गया। जैश आतंकी एक बार फिर देश को पुलवामा जैसे आतंकी हमले से दहलाना चाहते थे। सुरक्षाबलों के चौकन्‍ने होने की वजह से आतंकी अपने प्रयास में सफल नहीं हो सके। सूत्रों की मानें तो हमले को अंजाम देने के लिए आतंकियों को जैश सरगना और मोस्‍ट वॉन्‍टेड टेररिस्‍ट मसूद अजहर के भाई से ऑर्डर मिले थे।

nagrota-attack .jpg
    Nagrota Encounter: Pakistan में बैठे आकाओं के संपर्क में थे मारे गए Terrorists | वनइंडिया हिंदी

    यह भी पढ़ें-फ्रांस की इमैनुएल मैंक्रो सरकार ने कतरे पाकिस्‍तान के पंख

    इंटेलीजेंस के बाद चलाया गया ऑपरेशन

    गुरुवार को तड़के नगरोटा के बन टोल प्‍लाजा के करीब एनकाउंटर हुआ और इस मुठभेड़ के खत्‍म होने के बाद मालूम चला कि मारे गए आतंकी जैश से जुड़े थे। ये कोई ऐसा एनकाउंटर नहीं था जो अचानक हुआ बल्कि सेना के पास पहले से इंटेलीजेंस थी कि आतंकी बड़े हमले को अंजाम देने की फिराक में हैं। यह एनकाउंटर एक इंटेलीजेंस बेस्‍ड ऑपरेशन था। एक बड़े आतंकी हमले की साजिश को सीमा के दूसरी तरफ पाकिस्‍तान में तैयार किया गया था। इस मामले से परिचित लोगों की मानें तो जीपीएस डिवाइस से मिली शुरुआती जानकारी और आतंकियों के पास से मिले मोबाइल फोन से स्‍पष्‍ट है कि वो लगातार पाक स्थित आतंकी संगठन जैश के ऑपरेशनल कमांडर मुफ्ती रऊफ असगर और कारी जरार के साथ संपर्क में थे। आतंकियों का मकसद हमले के जरिए घाटी में अशांति की स्थिति पैदा करना था। मुफ्ती असगर, मसूद अजहर का छोटा भाई है।

    पीएम मोदी ने दी पाक को चेतावनी

    शुक्रवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी नगरोटा को लेकर ट्वीट किया और पाकिस्‍तान को आगाह किया है। पीएम मोदी को इस पूरे ऑपरेशन के बारे में राष्‍ट्रीय सुरक्षा सलाहकार (एनएसए) अजित डोवाल की तरफ से ब्रीफ किया गया। शुक्रवार को हुई मीटिंग में गृह मंत्री अमित शाह, विदेश सचिव हर्षवर्धन श्रींगला और दो इंटेलीजेंस ऑफिसर्स मौजूद थे। पीएम मोदी ने अपनी ट्वीट में लिखा, 'पाकिस्‍तान स्थित‍ आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्‍मद के चार आतंकियों को मारा गया है और उनके पास से भारी मात्रा में मिला गोला-बारूद बताता है कि कैसे एक बार फिर विनाश और तबाही की साजिश को असफल कर दिया गया है।' पीएम मोदी ने सुरक्षाबलों की भी तारीफ की और कहा है कि उनके अलर्ट रहने की वजह से ही इस खतरे को टाला जा सका है।

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    Nagrota Encounter: Jaish terrorists gor orders from Masooz Azhar's brother.
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X