• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

पिता अरुण जेटली को याद करके भावुक हुईं बेटी सोनाली, कहा-हर पल मेरे साथ हैं डैड, बताई खास बात

|

नई दिल्ली। आज भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के दिग्गज नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री अरुण जेटली की पहली पुण्यतिथि है। केवल बीजेपी के ही नहीं बल्कि देश के दिग्गज नेताओं में गिने जाने वाले जेटली की पहली बरसी पर आम से लेकर खास लोग उन्हें अपनी तरह से याद कर रहे हैं, पीएम मोदी ने जहां Twitter पर अपने करीबी मित्र को याद करते हुए लिखा है कि मुझे मेरा दोस्त बहुत याद आता है तो वहीं दूसरी ओर जेटली की बेटी सोनाली ने भी अपने पिता को याद करते हुए एक भावुक पोस्ट लिखी है।

    Arun Jaitely Death Anniversary :PM Modi,Amit Shah ने अरुण जेटली को ऐसे किया याद | वनइंडिया हिंदी
    'आई लव यू डैड, सबकुछ देने के लिए आपका शुक्रिया'

    'आई लव यू डैड, सबकुछ देने के लिए आपका शुक्रिया'

    जिसमें उन्होंने अपने पिता के साथ अपनी बचपन की तस्वीर शेयर करते हुए लिखा है कि आज मेरे पिता के बिना एक साल,@arunjaitley, क्या मुझे उनकी याद आती है? हां। क्या मैं उनकी उपस्थिति को मिस करती हूं? कभी नहीं, क्योंकि वह हमेशा मेरे साथ है। आई लव यू डैड, सबकुछ देने के लिए आपका शुक्रिया।

    यह पढ़ें: अरुण जेटली की पहली पुण्यतिथि पर पीएम मोदी बोले- मुझे अपने दोस्त की बहुत याद आती है

    'मेरे पिता के दिल के करीब था कश्मीर का मुद्दा'

    'मेरे पिता के दिल के करीब था कश्मीर का मुद्दा'

    मालूम हो कि अपने पिता की बरसी के एक दिन पहले ही सोनाली जेटली ने हिंदुस्तान टाइम्स से बात करते हुए कहा था कि कश्मीर का मुद्दा हमेशा से मेरे पिता अरुण जेटली के दिल के काफी करीब रहा था, पापा मानते थे कि अनुच्छेद 370 कश्मीर के विकास में रुकावट है, अगर देश का संपूर्ण विकास चाहिए तो कश्मीर से अनुच्छेद 370 को हटाना ही विकल्प है। इसी वजह से वो अपने जीवन के अंतिम दिनों में भी कश्मीर की समस्याओं और धारा-370 के बारे में पढ़ते रहते थे।

    कश्मीर के जमाई राजा थे जेटली

    कश्मीर के जमाई राजा थे जेटली

    गौरतलब है कि जेटली ने धारा-370 को कश्मीर से खत्म करने के प्लान में अहम रोल निभाया था, सोनाली ने कहा कि मेरे पिता का सपना तब सच हुआ जब पीएम मोदी जी और अमित शाह जी के साथ की बदौलत अगस्त 2019 में अनुच्छेद 370 हटाया गया। मालूम हो कि अरुण जेटली, कश्मीर के जमाई राजा थे, उनकी पत्नी संगीता डोगरा, कश्मीर की रहने वाली हैं।

    मेरे पिता को भारत के डॉक्टरों पर था पूरा भरोसा: सोनाली

    मेरे पिता को भारत के डॉक्टरों पर था पूरा भरोसा: सोनाली

    अपने इंटरव्यू में सोनाली ने एक और खास बता बताई है, उन्होंने कहा कि मेरे पिता किडनी की परेशानियों से त्रस्त थे, उन्हें कई लोगों ने कहा कि आप विदेश चले जाएं, इलाज करा लें, उन्हें किडनी ट्रांसप्लांट के लिए सिंगापुर जाने की सलाह दी गई थी लेकिन मेरे पिता को देश के डाक्टरों पर ही भरोसा था, इसलिए डॉक्टरों के साथ हो रहे गलत बर्ताव से उन्हें कष्ट भी होता था, वो कहते थे कि वो ठीक हो जाने के बाद स्वास्थ्यकर्मियों की रक्षा के लिए कड़े कानूनी नियम बनाएंगे।

    बेटी सोनाली की शादी लॉयर जयेश बख्शी से हुई है

    गौरतलब है कि अरुण जेटली को सांस लेने में तकलीफ को लेकर नौ अगस्त 2019 को अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) में भर्ती कराया गया था, जहां बीमारी से जूझते हुए उन्होंने 24 अगस्त को दुनिया को अलविदा कह दिया, उनके दो बच्चे एक बेटा और एक बेटी है, बेटे का नाम रोहन ह और बेटी का नाम सोनाली है, जो कि अपने पिता की ही तरह वकील हैं। मालूम हो कि ये तीसरी पीढ़ी है जिसने वकालत में अपना करियर बनाया है। आपको बता दें कि जेटली पिता का नाम महाराज किशन जेटली था जो एक जानेमाने वकील थे । अरुण जेटली की बेटी सोनाली की शादी बिजनेसमैन और लॉयर जयेश बख्शी से हुई है।

    यह पढ़ें: सीएम शिवराज सिंह का तीखा हमला, बोले- कमलनाथ ने कांग्रेस को 'अनाथ 'कर दिया

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    My Father always with me, every Time says Sonali Bakhshi daughter of Arun Jaitley, Here is her emotional post, please have a look. Arun Jaitley's first death anniversary today.
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X