• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

मुस्लिम धर्मगुरुओं ने हज यात्रा के लिए ने मांगी टैक्स में छूट, यूपी अल्पसंख्यक मंत्री ने ठुकराई मांग

|
Google Oneindia News

नई दिल्ली। मुस्लिम धर्मगुरूओं की संस्था इस्लामिक सेंटर ऑफ इंडिया ने हज समेत विभिन्न तीर्थयात्राओं को जीएसटी समेत सभी टैक्स से मुक्त करने की मांग की है। यही नहीं, उनकी मांग यह भी शामिल है कि हज यात्रियों के लिए आयकर रिटर्न दाखिल की शर्त भी हटा ली जाए। इस्लामिक सेंटर ऑफ इंडिया के प्रमुख मौलाना खालिद रशीद फिरंगी महल ने कहा कि जो लोग अपना सारी उम्र पैसा बचाते हैं, वो टैक्स दाखिल नहीं कर सकते हैं।

haj

पाकिस्तान में गायब हुई ऐतिहासिक हिंदू विवाह कानून के प्रस्तावित मसौदे की कॉपी

बकौल फिरंगी महली, इस तरह के लाभ सभी धर्म के तीर्थयात्रियों को दिए जाने चाहिए, लेकिन हज यात्रियों को सरकार द्वारा वित्तीय सहायता पर विचार करने जरूरत है। इस्लामिक सेंटर ऑफ इंडिया की सभी सिफारिशों के साथ सरकार को एक पत्र भेजा गया है। बता दें, हज यात्रियों से सरकार पांच फीसदी जीएसटी वसूलती है।

haj

चीन ने जो बायडेन को बधाई देने से किया इन्कार, कहा, 'फाइनल नतीजों का इंतजार है'

इस्लामिक सेंटर ऑफ इंडिया ने सरकार से तीन मांगों पर जोर दिया है। पहला, तीर्थयात्रियों को हरसंभव तरीके से हज के लिए पहुंचाया जाए, क्योंकि हज यात्रा दिन प्रति दिन महंगी होती जा रही है। दूसरा, हज और अन्य धार्मिक यात्रियों के लिए जीएसटी और सभी प्रकार के टैक्स को खत्म कर दिया जाना चाहिए और तीसरा और आखिरी, हाजियों के लिए आयकर रिटर्न भरने की शर्त को समाप्त कर दिया जाना चाहिए।

दक्षिण एशियाई राष्ट्र फिलीपींस के साथ आपसी संबंधों को प्रगाढ़ बनाने में जुटा भारतदक्षिण एशियाई राष्ट्र फिलीपींस के साथ आपसी संबंधों को प्रगाढ़ बनाने में जुटा भारत

HMohsin

मामले पर यूपी सरकार के अल्पसंख्यक राज्य मंत्री मोहसिन रजा ने एक टीवी चैनल पर मौलाना फिरंगी महली की मांग को खारिज करते हुए कहा कि जीएसटी देना गरीबों का अधिकार है, जिसका उपयोग उन्हें पहुंचाने के लिए किया जाता है और कोई भी गरीब का अधिकार छीन कर हज पर जाने का हकदार नहीं हैं। उन्होंने आगे कहा कि मौलानाओं को ऐसे बयान देने से पहले सोचना चाहिए। वहीं, सपा ने हज यात्रियों के लिए जीएसटी और आयकर रिटर्न में छूट का समर्थन किया है।

 हरियाणा सरकार ने गन्ने का भाव 340 से बढ़ाकर 350 रुपए प्रति क्विंटल किया हरियाणा सरकार ने गन्ने का भाव 340 से बढ़ाकर 350 रुपए प्रति क्विंटल किया

English summary
The Islamic Center of India, an organization of Muslim religious leaders, has demanded that all pilgrimages including Haj be exempted from all taxes, including GST. Not only this, his demand also included that the condition of filing income tax returns for Haj pilgrims should also be removed. Maulana Khalid Rashid Firangi Mahal, head of the Islamic Center of India, said that those who save money all their life cannot file tax.
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X