• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

मुर्शिदाबाद ट्रिपल मर्डर: पुलिस ने बताया, तीन लोगों की हत्या के पीछे क्या थी वजह

|
Google Oneindia News
    Murshidabad Triple Murder Case resolved, accused arrested | वनइंडिया हिंदी

    कोलकाता। पश्चिम बंगाल के मुर्शिदाबाद में एक अध्यापक की पत्नी और बेटे सहित हत्या के बाद सियासत गरमा गई थी। इस हत्याकांड को लेकर बीजेपी ने ममता सरकार पर निशाना साधा था। जबकि इस मामले में मृतक बंधु प्रकाश पाल के परिवारवालों ने बीजेपी के उन दावों को खारिज किया था, जिसमें उनको राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ का सदस्य बताया था। वहीं, पश्चिम बंगाल पुलिस ने इस तिहरे हत्याकांड की गुत्थी को सुलझाने का दावा किया है। पुलिस ने मुख्य आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है।

    पैसे को लेकर था विवाद- पुलिस

    पैसे को लेकर था विवाद- पुलिस

    मुर्शिदाबाद में तीन लोगों की हत्या के पीछे राजनीतिक कारणों को पुलिस ने पहले ही खारिज कर दिया था। इस मामले में पुलिस का कहना है कि मुख्य आरोपी उत्पल बेहरा पेशे से राजमिस्त्री है। बेहरा ने दो जीवन बीमा पॉलिसी (पीएनबी मेटलाइफ) के लिए बंधु प्रकाश पाल को पैसे दिए थे। पाल ने पहली पॉलिसी के लिए रसीद दी थी लेकिन दूसरी पॉलिसी के लिए रसीद नहीं दी, इसी को लेकर दोनों के बीच विवाद चल रहा था। पुलिस ने कहा कि इसी विवाद के कारण आरोपी ने बंधु प्रकाश पाल, उसकी पत्नी और बेटे की हत्या कर दी।

    ये भी पढ़ें:अयोध्या केस: हिंदू पक्ष ने कहा- भारत के गौरवशाली इतिहास को नष्ट करने की इजाजत नहीं दी जा सकतीये भी पढ़ें:अयोध्या केस: हिंदू पक्ष ने कहा- भारत के गौरवशाली इतिहास को नष्ट करने की इजाजत नहीं दी जा सकती

    आरोपी ने जुर्म कबूल किया- पुलिस

    आरोपी ने जुर्म कबूल किया- पुलिस

    मुर्शिदाबाद पुलिस ने बताया कि आरोपी उत्पल बेहरा को सागरदीघि के साहापुर इलाके से सुबह गिरफ्तार किया गया था। रसीद को लेकर विवाद के बाद बेहरा ने गुस्से में आकर पाल को जान से मारने का फैसला किया। इस दौरान उसने पाल की पत्नी और 6 साल के बेटे की भी हत्या कर दी। गिरफ्तार किए गए मुख्य आरोपी ने अपना जुर्म कबूल किया है।

    मृतक के परिवार ने खारिज की थी आरएसएस से जुड़े होने की बात

    इसके पहले, इस तिहरे हत्याकांड पर राज्य में सियासी पारा चढ़ा हुआ था।बीजेपी ने बंधु प्रकाश पाल के आरएसएस सदस्य होने का दावा किया था। जिसपर मृतक के परिवार का कहना था कि पाल का किसी राजनीतिक पार्टी या संगठन से कोई संबंध नहीं था। परिवार ने राजनीतिक दलों पर इस मामले का राजनीतिकरण करने का आरोप लगाया था। बता दें कि पाल और उनके बेटे का शव एक कमरे में मिला था, जबकि पत्नी ब्यूटी की लाश दूसरे कमरे में मिली थी। पुलिस का कहना था कि पहले पति और पत्नी की हत्या की गई, इसके बाद बेटे का गला घोंटा गया और किसी भारी चीज से उसपर वार किया गया ताकि वह जिंदा ना बचे।

    English summary
    Murshidabad triple murder case: key accused arrested, was financial dispute says west bengal police
    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X