• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

साल भर की लंबी लड़ाई के बाद अब जाकर मिली मुंबई पुलिस को गैंगस्टर रवि पुजारी की कस्टडी

|

मुंबई। गैगस्टर रवि पुजारी, जिसपर मुंबई में 80 से अधिक आपराधिक मामले दर्ज हैं, को मंगलवार की सुबह कर्नाटक से मुंबई लाया गया। मालूम हो कि पिछले सप्ताह, बेंगलुरु की एक अदालत ने एक साल की लंबी लड़ाई के बाद मुंबई पुलिस को रवि पुजारी की कस्टडी सौंपने का फैसला सुनाया था। शनिवार को महाराष्ट्र क्राइम ब्रांच के संयुक्त आयुक्त मिलिंद भारम्बे ने कहा था कि, 'हम एक साल से साल 2016 के गजाली होटल फायरिंग मामले में उसकी कस्टडी के लिए प्रयास कर रहे थे। अंतत: अब जाकर हमें इस मामले में सफलता मिली है।

    Gangster Ravi Pujari को 9 मार्च तक Mumbai Police हिरासत में भेजा गया | वनइंडिया हिंदी

    Ravi Pujari

    अधिकारियों ने कहा कि रिमांड की मांग के लिए उसे आज कोर्ट में पेश किया जाएगा। पिछले साल तक दो दशकों से भगोड़ा घोषित 59 वर्षीय गैंगस्टर रवि को बेंगुलुरु पुलिस की पांच सदस्यीय टीम ने अफ्रीकी देश सेनेगल से गिरफ्तार किया था। रवि पुजारी कभी अंडर वर्ल्ड डॉन छोटा राजन से जुड़ा हुआ था। उस पर कई लोगों के मर्डर, रियल एस्टेट व्यापारियों और फिल्म जगत से जुड़े लोगों को धमकी देकर उनसे अवैध वसूली करने के आरोप हैं।

    कर्नाटक में भी उसके खिलाफ 100 से अधिक मामले दर्ज हैं। वह 1994 से भगोड़ा घोषित था। पुलिस का कहना है कि वह वह नेपाल, बैंकॉक, युगांडा, बुर्किना फासो होते हुए सेनेगल चला गया था। अंडर वर्ल्ड डॉन छोटा राजन ने उसे एंटॉनी फर्नांडीज नाम दिया था, जिसके बाद उसने टॉनी फर्नांनडीज, रॉकी फर्नांडीज जैसे कई नाम बदले। पुलिस ने कहा कि उसके नवीनतम नकली पासपोर्ट में उसका नाम रॉकी फर्नांनडीज दर्ज है। वह कथित तौर पर मुंबई जाने से पहले कर्नाटक में कई अपराधों में शामिल था।

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    Mumbai Police gets custody of gangster Ravi Pujari after a year-long battle
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X