• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

मुंबई की अदालत ने 'शादी का वादा कर बलात्‍कार' के आरोपी को ये कहते हुए किया बरी

|
Google Oneindia News

मुंबई, 20 मई: मुंबई की एक अदालत ने बलात्कार के एक आरोपी को शादी का वादा तोड़ने पर बरी कर दिया। मुंबई सत्र अदालत ने 33 वर्षीय एक व्यक्ति को बलात्कार के एक मामले में यह कहते हुए बरी कर दिया कि "शादी का हर उल्लंघन शादी का झूठा वादा नहीं है।"

court

कोर्ट ने ये कहते हुए बरी करने का आदेश दिया कि शिकायतकर्ता पहले से ही किसी और से शादी कर चुकी थी और तलाक के बिना वह आरोपी से शादी नहीं कर सकती थी। यह फैसला उस मामले में किया गया था जिसमें एक महिला, जो शादीशुदा थी लेकिन अपने पति से अलग रह रही थी, ने दावा किया कि उसके साथ बलात्कार किया गया और उसे गर्भवती कर दिया गया और आरोपी ने उससे शादी करने का वादा किया लेकिन बाद में पीछे हट गया।

अदालत ने निष्कर्ष निकाला कि महिला वैसे भी आरोपी से शादी नहीं कर सकती थी। न्यायाधीश ने कहा कि रिकॉर्ड में ऐसा कुछ भी नहीं है जो यह दर्शाता हो कि महिला की पिछली शादी तलाक ले चुकी है।

जज ने अपने आदेश में कहा,

आरोप है कि वह अलग रह रही थी। रिकॉर्ड में ऐसा कुछ भी नहीं है कि तलाक की डिक्री द्वारा महिला की शादी को भंग कर दिया गया हो। इसलिए शादी के वादे का सवाल ही नहीं उठता। यहां तक ​​कि अगर आरोपी शिकायतकर्ता से शादी करने के लिए तैयार था, तो भी वह अपनी पिछली शादी को निभाने के दौरान शादी करने के लिए सक्षम नहीं थी। इसके अलावा, शादी का हर उल्लंघन शादी का झूठा वादा नहीं है।"

वैज्ञानिकों ने ढूढ़ निकाला धरती जैसा हरियाली से भरा दूसरा ग्रह, जानिए वहां क्‍या हम पहुंच पाएंगे?वैज्ञानिकों ने ढूढ़ निकाला धरती जैसा हरियाली से भरा दूसरा ग्रह, जानिए वहां क्‍या हम पहुंच पाएंगे?

Comments
English summary
Mumbai court said in the order - every violation of marriage is not a false promise of marriage
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X