कठुआ गैंगरेप: बच्ची की मां बोला, 'मैं चाहती थी कि वह बड़ी होकर डॉक्टर बने'

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

जम्मू। जम्मू कश्मीर के कठुआ जिले में गैंगरेप और हत्या की शिकार हुई आठ साल की बच्ची का परिवार न्याय मांग रहा है। मृतक बच्ची की मां ने शनिवार को कहा कि, बेटी के जाने के बाद वह सदमे में है। उसे नहीं पता कि अब क्या करना है। मैं बस न्याय चाहती हूं। परिवार की मांग है कि दोषियों को फांसी की सजा दी जाए। बच्ची की असली मां ने कहा , 'वह बहुत खूबसूरत और समझदार थी। मैं चाहती थी कि वह बड़ी होकर डॉक्टर बने।'

किसी और परिवार को इस दर्द से ना गुजरना पड़े

किसी और परिवार को इस दर्द से ना गुजरना पड़े

पीड़िता की मां ने दोषियों के लिए मौत की सजा की मांग की। उन्होंने कहा, 'मेरी एक ही इच्छा है कि दोषियों को इस गंभीर अपराध के लिए फांसी दी जाए, ताकि किसी और परिवार को इस दर्द से ना गुजरना पड़े। बच्ची की मां ने उस अपने भाई से गोद लिया था, जब वह एक साल की थी। बच्ची की मां अपने आप को दोष देते हुए कहती है उसने अपनी बच्ची को अपने भाई के पास क्यों छोड़ा था।

हमें सीबीआई जांच की जरूरत नहीं है

हमें सीबीआई जांच की जरूरत नहीं है

बच्ची की मां ने कहा कि, 'उसे मारा क्यों गया? वह तो जानवरों को चरा रही थी और घोड़ों की देखभाल कर रही थी। वह आठ साल की थी। उन्होंने इतने बुरे तरीके से उसे क्यों मारा ? उन्हें मौत की सजा दी जानी चाहिए।' बच्ची के पिता ने कहा कि वह रसाना में अपने मामा के घर पर थी। उन्होंने कहा, 'हत्यारों को मौत की सजा दी जानी चाहिए। हमें सीबीआई जांच की जरूरत नहीं है, क्राइम ब्रांच की जांच में हमें भरोसा है।'

इस घटना के बाद दोनों समुदाय के लोगों के रिश्तों में खटास आ गई

इस घटना के बाद दोनों समुदाय के लोगों के रिश्तों में खटास आ गई

मुस्लिम बकरवाल समुदाय से संबंध रखने वाली आठ साल की बच्ची से रेपकर उसकी हत्या कर दी गई थी। उसका शव 17 जनवरी को जंगल में मिला था। बच्ची की मां बताया कि उसके पहले हिंदुओं के साथ रिश्ते अच्छे थे और वे उनके साथ आराम से रहते थे। लेकिन इस घटना के बाद दोनों समुदाय के लोगों के रिश्तों में खटास आ गई है। हम सिर्फ अपनी बच्ची के लिए इंसाफ चाहते हैं। हम उस बहुत प्यार करते थे।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Mother of Kathua rape and murder victim says We are extremely sad, We want justice

Oneindia की ब्रेकिंग न्यूज़ पाने के लिए
पाएं न्यूज़ अपडेट्स पूरे दिन.