• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

नहीं रहे चेतन चौहान: जानिए सलामी बल्लेबाज से मंत्री बनने तक का सफर

|

नई दिल्ली। उत्तर प्रदेश के होमगार्ड मंत्री और पूर्व क्रिकेटर चेतन चौहान का निधन हो गया, उन्‍होंने रविवार को शाम 4:30 पर गुरुग्राम के मेदांता हॉस्पिटल में आखिरी सांस ली, प्राप्त जानकारी के मुताबिक चेतन चौहान का निधन आज कार्डियक अरेस्ट के कारण हुआ। गुरुग्राम के मेदांता अस्पताल में पिछले एक महीने से उनका इलाज चल रहा था, उनके छोटे भाई पुष्पेंद्र चौहान ने कहा कि कोविड-19 से संबंधित समस्याओं की वजह से उनकी मौत हो गई, उन्होंने कहा कि 11 जुलाई को चेतन कोरोना पॉजिटिव पाए गए थे, उसके बाद उन्‍हें एसजीपीजीआई में एडमिट कराया गया था, जिसके बाद उन्हें किडनी और ब्‍लड प्रेशर की समस्‍याएं शुरू हो गईं, जिससे वो उबर नहीं पाए और आज उन्होंने दुनिया को अलविदा कह दिया।

    Chetan Chauhan passed away: चेतन चौहान का Cricketer से Minister बनने तक का सफर | वनइंडिया हिंदी
    टीवी डिबेट में एक्सपर्ट की भूमिका में नजर आते थे चेतन चौहान

    टीवी डिबेट में एक्सपर्ट की भूमिका में नजर आते थे चेतन चौहान

    आपको बता दें अक्सर टीवी डिबेट में एक्सपर्ट की भूमिका में नजर आने वालेच चेतन चौहान (73) यूपी कैबिनेट में खेल मंत्री की भूमिका निभा रहे थे, वो दो बार बीजेपी के टिकट पर सांसद भी चुने गए थे, उत्तर प्रदेश मंत्रिमंडल में चौहान के पास खेल मंत्रालय के अलावा सैनिक कल्याण, होमगार्ड, पीआरडी और नागरिक सुरक्षा मंत्रालय था। चेतन ने साल 1991 में अमरोहा से बीजेपी के टिकट पर चुनाव लड़ा था और लोकसभा पहुंचे थे और इसके बाद वो साल 1998 में भी सांसद चुने गए थे। मौजूदा समये में वे अमरोहा जिले की नौगांवा विधानसभा के विधायक थे।

    यह पढ़ें: प्रणब मुखर्जी की सेहत में सुधार, वह जल्‍द हमारे बीच वापस होंगे: अभिजीत मुखर्जी

    गावस्कर के साथ खेली कई यादगार पारी

    गावस्कर के साथ खेली कई यादगार पारी

    चेतन चौहान का जन्म 21 जुलाई 1947 को यूपी के बरेली में हुआ था, उन्होंने अपना करियर एक क्रिकेटर के तौर पर शुरु किया था। लिटिल मास्टर सुनील गावस्कर के साथ सलामी भूमिका निभाने वाले चेतन चौहान ने अपने टेस्ट करियर में 3000 रन बनाए थे, इन्होंने गावस्कर के साथ मिलकर कई यादगार पारियां खेली हैं, जिसमें ओवल का मैच कोई नहीं भूल सकता है। साल 1979 में ओवल भारत के लिये पहले विकेट के लिये 213 रनों की साझेदारी की और उस समय की 203 रनों की सबसे लंबी पार्टनरशिप का रिकॉर्ड तोड़ा था।

    साल 1969 में खेला पहला इंटरनेशनल मैच

    इन्होंने अपना पहला इंटरनेशनल मैच साल 1969 में खेला था, जबकि इन्होंने अपना पहला वनडे साल 1978 में खेला था। चेतन चौहान 40 टेस्‍ट और 7 वनडे मैच खेले थे और इन्होंने 2084 टेस्ट रन और 153 वनडे रन बनाये। भारत के इस पूर्व सलामी बल्लेबाज का सर्वाधिक स्कोर 97 रहा।

    नहीं बनाया कोई शतक फिर 2000 से ज्यादा रन

    चेतन चौहान कभी भी अपने पूरे करियर में एक भी शतक नहीं लगाया था, बावजूद इसके वो बिना शतक लगाए टेस्‍ट क्रिकेट में 2 हजार से अधिक बनाने वाले पहले खिलाड़ी थे। जबकि फर्स्‍ट क्‍लास क्रिकेट में उनके नाम 21 शतक और 59 अर्धशतक है। उन्‍होंने 1981 में न्‍यूजीलैंड के खिलाफ आखिरी बार इंटरनेशनल मैच खेला था। गावस्कर और चौहान की जोड़ी ने टेस्ट की 60 पारियों में 11 शतकीय साझेदारियां कीं थी।

    यह पढ़ें: कंगना ने दी अटल बिहारी वाजपेयी को श्रद्धांजलि, कहा-अगर वो जिंदा होते तो मेरे पड़ोसी होते

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    Minister in UP government and former cricketer Chetan Chauhan passed away, Read Profile in Hindi.
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X