• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

कौन हैं IAS ऑफिसर लव अग्रवाल, जिनके पास होता है कोरोना वायरस के हर सवाल का जवाब

|

नई दिल्‍ली। पूरा देश इस समय कोरोना वायरस के खिलाफ बड़ी जंग लड़ रहा है। देश में कोरोना के मामले 6,000 के आंकड़ें की तरफ बढ़ रहे हैं। कोरोना के मामलों के बीच आजकल आप शाम को अपनी टीवी स्‍क्रीन पर एक चेहरे को देख रहे होंगे। पिछले करीब एक माह से यह व्‍यक्ति आपके स्‍क्रीन पर देश में कोरोना के मामलों के बारे में जानकारी देते हैं। यह व्‍यक्ति हैं आईएएस ऑफिसर लव अग्रवाल जो स्‍वास्‍थ्‍य और परिवार कल्‍याण मंत्रालय में ज्‍वॉइन्‍ट सेक्रेटरी हैं। शाम चर बजे लव कोरोना वायरस के ताजा हालातों के बारे में मीडिया और देश को जानकारी देते हैं।

    Corona पर daily update देने वाले IAS officer Lav Agarawal कौन हैं,जाने उनके बारे में| वनइंडिया हिंदी

    <strong>यह भी पढ़ें-ब्राजील के राष्‍ट्रपति बोलसोनारो ने की पीएम मोदी की तारीफ</strong>यह भी पढ़ें-ब्राजील के राष्‍ट्रपति बोलसोनारो ने की पीएम मोदी की तारीफ

    IIT दिल्‍ली से पासआउट लव

    IIT दिल्‍ली से पासआउट लव

    48 साल के लव अग्रवाल हमेशा ही कोविड-19 पर मीडिया के हर सवाल का पूरे आत्‍मविश्‍वास से जवाब देते हैं। उत्‍तर प्रदेश के सहारनपुर जिले के रहने वाले लव ने इंडियन इंस्‍टीट्यूट ऑफ टेक्‍नोलॉजी (आईआईटी) दिल्‍ली से बीटेक की पढ़ाई की। सन् 1993 में मैकेनिकल इंजीनियरिंग में डिग्री लेने वाले लव ने साल 1996 मे आईएएस की परीक्षा पास की। इसके बाद उनकी पोस्टिंग आंध्र कैडर के तहत हुई। स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय के अलावा लव ने शिक्षा के क्षेत्र में भी काम किया है। लव, आंध्र प्रदेश में माध्यमिक शिक्षा विभाग के डायरेक्टर थे। यहां पर उन्होंने शिक्षा के साथ स्वास्थ्य के क्षेत्र में भी काम किया। इसके अलावा आंध्र प्रदेश में स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग के कमिश्नर रह चुके हैं।

    केंद्र सरकार की तरफ से मौका

    केंद्र सरकार की तरफ से मौका

    लव पर स्वास्थ्य मंत्रालय में ग्लोबल हेल्थ, मेंटल हेल्थ, टेक्नोलॉजी, पब्लिक पॉलिसी की जिम्मेदारी है। वह लीक से हटकर काम करने और योजनाओं को सही तरीके से जनता के बीच ले जाने में यकीन रखते हैं। इसी क्‍वालिटी की वजह से मोदी सरकार उन्हें कई अंतरराष्ट्रीय आयोजनों में भारत के प्रतिनिधित्‍व का मौका दे चुकी है। लव अग्रवाल ने इस साल जनवरी में जी20 देशों के हेल्थ वर्किंग ग्रुप के सम्मेलन में मोदी सरकार की आयुष्मान भारत स्‍कीम पर एक प्रेजेंटेशन दी थी। वह जी20 देशों के लिए डिजिटल हेल्थ टास्क फोर्स बनाने की भी वकालत कर चुके हैं।

    अगस्‍त 2016 से केंद्र सरकार के साथ

    अगस्‍त 2016 से केंद्र सरकार के साथ

    साल 2016 में केंद्र में उनकी पोस्टिंग हुई थी। उनका बेहतर ट्रैक रिकॉर्ड देखने के बाद केंद्र सरकार ने उन्‍हें अपने साथ काम करने का मौका दिया। मोदी सरकार ने उन्हें 28 अगस्त, 2016 को स्वास्थ्य मंत्रालय में ज्‍वॉइन्‍ट सेक्रेटरी नियुक्‍त किया था। पांच साल के लिए इस पर नियुक्‍त लव, साल 2021 तक इस पद की जिम्मेदारी निभा सकेंगे। उनके जूनियर उन्‍हें काम के प्रति समर्पित रहने वाला ऑफिसर मानते हैं जिनका भरोसा हासिल करना बहुत जरूरी है। लव को एक ऐसा ऑफिसर माना जाता है जिनका भरोसा जीते बिना उनसे बात करना बहुत मुश्किल है।

    15 से 16 घंटे काम कर रहे हैं लव

    15 से 16 घंटे काम कर रहे हैं लव

    लव आजकल 15 से 16 घंटे रोजाना काम कर रहे हैं। उनके एक जूनियर ने बताया कि वह सबसे पहले ऑफिस आते हैं और फिर सबसे आखिरी में घर जाते हैं। लव बहुत ही अनुशासन वाली जिंदगी जीते है जिसमें एक्‍सरसाइज और योगा का बड़ा योगदान है। लव अग्रवाल की पहचान इनोवेटिव अफसर की रही है। उनके साथी उनके बारे में कहते हैं वे उनकी योग्यता और समझ का कायल हैं। जिस तरह से लव चीजों को संभालते हैं और जिस दबाव में काम करते हैं, उनसे काफी कुछ सीखा जा सकता है। शायद यह उनकी अनुशासित जिंदगी की वजह से है।

    English summary
    Meet the ex-IITian Lav Agarwal the face of India's response against Coronavirus.
    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X