• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

Miss India 2020 Runner up: रिक्शा चालक की बेटी हैं मान्या सिंह, घर में धोने पड़े थे बर्तन

|

Manya Singh,Femina Miss India 2020 Runner-up: her Life full of Struggle and Pain: मुंबई: तेलंगाना गर्ल मानसा वाराणसी ने मिस इंडिया 2020 का खिताब अपने नाम किया है, तो वहीं इस प्रतियोगिता में उत्तर प्रदेश की मान्या सिंह और हरियाणा की मनिका शियोकांड फर्स्ट और सेकेंड रनर अप रहीं। मालूम हो कि ये प्रतियोगिता 10 फरवरी को मुंबई में संपन्न हुईं।

    Manya Singh ने Miss India की Runner Up बन रचा इतिहास, जानिए Success Story । वनइंडिया हिंदी
    रिक्शा चालक की बेटी हैं मान्या सिंह

    रिक्शा चालक की बेटी हैं मान्या सिंह

    आपको जानकर हैरत होगी कि इस प्रतियोगिता में यूपी की मान्या ओमप्रकाश सिंह ने जिस तरह से लोगों के सामने परफार्म किया, उससे कोई अंदाजा भी नहीं लगा सकता है कि यहां तक पहुंचने के लिए उन्होंने कितना और कैसा संघर्ष किया है। दरअसल मान्या सिंह यूपी के एक छोटे से शहर के रिक्शाचालक की बेटी हैं। हाल ही में टाइम्स ऑफ इंडिया को दिए गए इंटरव्यू में मान्या ने अपनी जिंदगी के कड़वे सच के बारे में लोगों को बताया था।

    यह पढ़ें: Miss India World 2020: तेलंगाना की मानसा वाराणसी ने जीता मिस इंडिया 2020 का खिताब, जानिए उस सुंदरी को

    मान्या की मां का हुआ कई बार शोषण

    मान्या की मां का हुआ कई बार शोषण

    मान्या ने कहा था कि यहां तक पहुंचना ही एक ख्वाब के पूरे होने जैसा है, उनके पापा रिक्शा चालक हैं और उनकी मां घरों में साफ-सफाई का काम किया करती थीं। उनका बचपन दूसरों के दिए कपड़े, किताबें और खिलौनों पर ही बीता है। यहां तक उनकी मां को शारीरिक और मानसिक शोषण का भी शिकार होना पड़ा, उन्होंने काफी कुछ सहा है। मां-पापा दोनों ने अपने जेवर बेचकर मुझे पढ़ाया है तो वहीं उन्होंने कई रातें बिना खाए गुजारी हैं।

    मां-बाप ने जेवर बेचकर मान्या को पढ़ाया

    मां-बाप ने जेवर बेचकर मान्या को पढ़ाया

    मान्या ने ये भी कहा था कि जब वो 14 साल की थीं तो वो घर से भाग गई थीं, जिससे वो घर के हालात को सही कर सके लेकिन मान्या ने कहा कि उन्हें समझ आ गया कि परिवार बिना वो अधूरी हैं। फिर वो घर वापस लौट आईं थी। उन्होंने अपनी पढ़ाई पर फोकस किया।

    काफी कम उम्र में ही नौकरी करनी शुरू कर दी थी

    अपने पुराने दिनों को याद करते हुए मान्या ने भावुक होते हुए बताया था कि घर की माली हालत सुधारने के लिए उन्होंने काफी कम उम्र में ही नौकरी करनी शुरू कर दी थी, उन्होंने भी घरों में बर्तन साफ किए हैं तो वहीं वो कई बार ट्रेनों के वॉशरूम में रेडी होती थीं और रात में कॉल सेंटर्स में काम करती थीं।

    मान्या सिंह बनीं मिसाल

    मान्या सिंह बनीं मिसाल

    मान्या ने बताया था कि आर्थिक, मानसिक और शारीरिक कष्टों और मां-बाप के प्रोत्साहन ने ही उन्हें आगे बढ़ने, सपने देखने के लिए प्रेरित किया। आज यहां जब मैं पहुंची हूं तो लगता है कि जैसे मैंने अपने सपने को सही साबित कर दिया है। मैं शुक्रगुजार हूं ऊपरवाले और अपने परिवार की, जिनका आशीर्वाद हमेशा मेरे साथ है।

    ख्वाब देखिए और उसको पूरा करने में जुट जाइए

    मान्या ने अपने पिता, मां और भाई की स्थिति ठीक करने के लिए बहुत कुछ किया है। मान्या ने कहा कि अगर आप कुछ करने की ठान लें और उसके लिए दिन-रात सोचे और शिद्दत से उसके लिए मेहनत करें, तो आप हर चीज हासिल कर सकते हैं। ख्वाब देखिए और उसको पूरा करने में जुट जाइए।

    यह पढ़ें: मशहूर हरियाणवी डांसर-सिंगर सपना चौधरी के खिलाफ धोखाधड़ी का केस दर्ज, जानिए क्या है मामला?

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    One of the biggest examples of such a successful and hardworking person is VLCC Femina Miss India 2020 first runner up Manya Omprakash Singh.her Life full of Struggle and Pain.
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X