• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

दिल्ली में एंटी बीजेपी दलों की चाय पर चर्चा, कांग्रेस को बुलावा नहीं

|

नयी दिल्ली। बिहार विधानसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी को मात देने के लिए पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कमर कस ली है। ममता ने भाजपा के खिलाफ एंटी बीजेपी दलों से सांठ-गांठ की शुरुआत भी कर दी है। इसकी शुरुआत मंगलवार को दिल्ली में ममता बनर्जी और दिल्ली के मुख़्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के बीच हुई डिनर पे मुलाकात के साथ हो गई है।

mamta banerjee

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार सभी विपक्षी दल इस बात के लिए दृढ़ संकल्प हैं कि इन चुनावों में बीजेपी को किसी भी तरह से जीत से दूर रखना है। ऐसे में ममता ने एंटी बीजेपी दलों को चाय पे चर्चा के लिए बुलाया है। हलांकि इस चर्चा में कांग्रेस को आमंत्रित नहीं किया गया है।

ये बैठक एनसीपी अध्यक्ष शरद पवार के घर पर हो सकती है। इस बैठक में एसपी अध्यक्ष मुलायम सिंह यादव शामिल होंगे। ऐसी जानकारी है कि बिहार के दोनों बड़े नेता लालू यादव और नीतीश कुमार इस बैठक में अपने प्रतिनिधी भी भेजने वाले हैं।

हलांकि आपको बता दें कि ममता बनर्जी की पार्टी तृणमूल कांग्रेस बिहार चुनाव में अपने प्रत्याशी खड़ी नहीं कर रही है और जिस तरह से उन्होंने चाय पर अन्य दलों के नेताओं से मिलने की रणनीति बनाई है, उसका मकसद अपने राज्य के अल्पसंख्यक वोटरों के ये संदेश देना है कि वे बीजेपी के साथ खड़ी नहीं हैं। ऐसे में बीजेपी के खिलाफ खड़ी हो रही पार्टियां उसकी मुश्किलों को हवा दे सकती है।

English summary
TMC and Left have been together in Parliament as part of the combined opposition with Congress so far in taking on the BJP-led government at the Centre.
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X