• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

महाराष्ट्र के सियासी संकट पर पूर्व प्रधानमंत्री एचडी देवगौड़ा ने कांग्रेस को लेकर कही ये बड़ी बात

|

नई दिल्ली। महाराष्ट्र में जारी सियासी घमासान पर पूरे देश की नजरें टिकी हुई हैं। विधानसभा चुनाव के बाद सभी को इंतजार इस बात का है कि आखिर महाराष्ट्र में नई सरकार कौन बनाएगा। जैसा कि चुनाव में बीजेपी सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरी, वहीं शिवसेना दूसरे नंबर पर रही। गठबंधन के बावजूद दोनों पार्टियों में मुख्यमंत्री के पद को लेकर विवाद नहीं थमा। शिवसेना के नहीं मानने के बाद बीजेपी ने साफ कर दिया कि उनकी पार्टी प्रदेश में सरकार नहीं बनाएगी। इसके बाद सभी की निगाहें शिवसेना पर टिक गईं। वहीं शिवसेना की ओर से लगातार कांग्रेस-एनसीपी के साथ गठबंधन में सरकार गठन को लेकर कवायद में जुट गए हैं। हालांकि, सभी की निगाहें अब कांग्रेस और एनसीपी की तरफ हैं कि उनका क्या फैसला होगा? इस बीच महाराष्ट्र में जारी सियासी उठापटक पर पूर्व प्रधानमंत्री और जेडीएस नेता एचडी देवगौड़ा ने बड़ा बयान दिया है। साथ ही उन्होंने कांग्रेस को लेकर बेहद अहम टिप्पणी भी की है।

कांग्रेस के शिवसेना को समर्थन की खबरों पर बोले देवगौड़ा

कांग्रेस के शिवसेना को समर्थन की खबरों पर बोले देवगौड़ा

महाराष्ट्र में शिवसेना के साथ एनसीपी-कांग्रेस के गठबंधन को लेकर माथापच्ची का दौर जारी है। शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने सोमवार को एनसीपी अध्यक्ष शरद पवार से मुलाकात की है। वहीं कांग्रेस और एनसीपी अपने-अपने पार्टी स्तर पर बातचीत कर रहे हैं कि क्या राज्य में शिवसेना के नेतृत्व वाली सरकार को समर्थन दिया जाए। दोनों पार्टियों ने पहले ही ऐलान किया है कि जो भी फैसला होगा, वो मिलकर ही लेंगी। फिलहाल महाराष्ट्र में जारी सियासी घमासान को लेकर जेडीएस अध्यक्ष एचडी देवगौड़ा ने प्रतिक्रिया दी है। उन्होंने कहा, 'अगर कांग्रेस, शिवसेना को समर्थन देने का विचार बना रही है तो उसे फिर अगले 5 सालों तक शिवसेना को परेशान नहीं करना चाहिए। तभी लोग कांग्रेस पर विश्वास कर सकेंगे।'

देवगौड़ा बोले- ...तभी लोग कांग्रेस पर विश्वास कर सकेंगे

दिग्गज नेता और पूर्व प्रधानमंत्री एचडी देवगौड़ा ने आगे कहा, 'बाला साहेब ठाकरे ने महाराष्ट्र में भारतीय जनता पार्टी को जगह दी। लालकृष्ण आडवाणी और अटल बिहारी वाजपेयी ने बाला साहेब के निवास पर जाकर उनसे बीजेपी के लिए सीटों का निवेदन किया। बीजेपी ने उसे ही पलट दिया है, इसीलिए उद्धव ठाकरे ने बीजेपी को सबक सिखाने के लिए ये फैसला लिया है। अब कांग्रेस और एनसीपी को भी बीजेपी को हटा देना चाहिए।'

सोनिया गांधी और उद्धव ठाकरे के बीच हुई फोन पर बात

सोनिया गांधी और उद्धव ठाकरे के बीच हुई फोन पर बात

फिलहाल महाराष्ट्र में आगे क्या राजनीतिक घटनाक्रम होगा ये तो कांग्रेस-एनसीपी के फैसले पर निर्भर करेगा। इस बीच सोनिया गांधी और उद्धव ठाकरे के बीच फोन पर बातचीत हुई है। इससे पहले महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी ने शिवसेना को सरकार गठन का दावा पेश करने के लिए सोमवार शाम को साढ़े सात बजे बुलाया है। 288 सदस्यीय महाराष्ट्र विधानसभा में शिवसेना के पास 56 सीटें हैं। सबसे बड़ी पार्टी होने के बावजूद बीजेपी के सरकार गठन से इनकार किए जाने के बाद राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी ने शिवसेना को सरकार बनाने के लिए आमंत्रित किया।

सोनिया गांधी से मिलने पहुंचे महाराष्ट्र कांग्रेस के दिग्गज नेता, अशोक चव्हाण बोले- सही समय पर लेंगे फैसला

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Maharashtra Govt Formation: JDS Chief HD Deve Gowda reacts on Congress NCP support to Shiv Sena
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X