• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

महाराष्‍ट्र ने कोरोना मरीजों का इलाज प्‍जाज्मा थेरेपी से करने की केन्‍द्र से मांगी इजाजत

|

मुंबई। महाराष्‍ट राज्य में कोरोना के बढ़ते हालात को देखते हुए सीएम उद्धव ठाकरे ने विगत दिवस कहा था कि राज्य में कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए हम केंद्र से बीसीजी का टीका और प्लाज्मा तकनीक के इस्तेमाल की मंजूरी मांगी है। अगर हमें मंजूरी मिल जाती है तो जल्द हम इसका इलाज ढूंढ कर पूरी दुनिया को दिखा सकते है। उद्धव ने यह भी कहा कि राज्य में हम कुछ उद्योगों को शुरू कर सकते हैं। वहीं गुरुवार को महाराष्ट्र के स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री ने राजेश टोपे ने बताया कि हमने कोविड 19 के रोगियों का इलाज प्लाज्मा थेरेपी करने के लिए केंद्र से अनुमति मांगी हैं। इसकी जानकारी उन्‍होंने अपने ट्ववीटर हैंडिल पर दी है।

corona
बता दें महाराष्ट्र कोरोना से सबसे बुरी तरह जूझ रहा है। राज्य में कोरोना के तीन हजार से ज्यादा मरीज हैं और लगभग दो सौ लोगों की मौत हो चुकी है। मालूम हो कि केरल और दिल्ली और गुजरात में कोरोना के मरीजों का इलाज प्‍लाज्मा थेरेपी से किए जाने का ट्रायल शुरु हो चुका हैं और कुछ मरीजों में इसके बेहतर परिणाम देखने को मिल रहे हैं।
ampm
सीएम ठाकरे ने कहा था कि कोरोना के खिलाफ हमारी लड़ाई जारी है। महाराष्ट्र में सबसे ज्यादा कोरोना टेस्ट कर रहा है। मुंबई में 22 हजार सैंपल टेस्ट किए गए हैं और आज सुबह तक 2334 पॉजिटिव केस आए थे, जिसमें से लगभग 10 प्रतिशत लोग ठीक हो गए हैं। उन्होंने कहा कि मैं प्रधानमंत्री को धन्यवाद देता हूं कि जब उनके साथ वीडियो कॉन्फ्रेंस हुई तो महाराष्ट्र के सीएम को सबसे पहले बोलने का मौका दिया। हमने लॉकडाउन को लेकर कहा और प्रधानमंत्री ने आज लॉकडाउन 3 मई तक बढ़ाने का एलान किया।

वहीं मीडिया रिपोर्ट के अनुसार राज्य में कोरोना संक्रमण लगातार फैलने का सबसे बड़ा कारण प्रशासनिक व्यवस्था की कमी है। आलम यह है कि एक कोरोना मरीज को एडमिट होने के लिए 30 घंटे तक पार्किंग में इंतजार करना पड़ा। राज्य में कोई सेंट्रलाइज्ड सिस्टम या सिंगल विंडो सलूशन ना होने के कारण आम मरीजों को भी तीन-चार अस्पतालों का चक्कर काटना पड़ रहा है।

कोरोना से जंग जीत चुके लोगों के खून से अब भारत में भी किया जाएगा कोरोना मरीजों का इलाज, आईसीएमआर ने दी अनुमतिकोरोना से जंग जीत चुके लोगों के खून से अब भारत में भी किया जाएगा कोरोना मरीजों का इलाज, आईसीएमआर ने दी अनुमति

वेंटिलेटर पर जा चुके कोरोना संक्रमित मरीज की प्‍लाज्‍मा थेरेपी से सुधरी हालत, चिकित्‍सकों में जागी नई उम्मीदवेंटिलेटर पर जा चुके कोरोना संक्रमित मरीज की प्‍लाज्‍मा थेरेपी से सुधरी हालत, चिकित्‍सकों में जागी नई उम्मीद

English summary
Maharashtra asks permission from Center to treat corona patients with plasma therapy
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X