• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

मध्य प्रदेश: अस्पताल का हाल देख मंत्री बोलीं- यह कुत्तों का अस्पताल है या इंसानों का

|

भोपाल। मध्य प्रदेश की चिकित्सा शिक्षा मंत्री डॉ विजयलक्ष्मी साधौ गुरुवार को ग्वालियर में जयारोग्य अस्पताल के दौरे पर पहुंची तो यहां अव्यवस्था देख भड़क उठीं। इस दौरान उन्होंने डॉक्टरों को भी काफी भला बुरा कहा। अस्पताल की हालत देख एक बार तो उन्होंने ये भी पूछा कि यहां जानवरों का इलाज होता है या इंसानों का। वहीं डॉक्टरों ने सफाई देने की कोशिश की तो उन्होंने साफ कर दिया कि वो कुछ नहीं सुनेंगी।

चार दिन के भीतर ठीक करें व्यवस्था

चार दिन के भीतर ठीक करें व्यवस्था

विजयलक्ष्मी साधौ विधायक प्रवीण पाठक और मुन्नालाल गोयल के साथ जेएएच के औचक निरीक्षण पर पहुंची थीं। अव्यवस्था देख उन्होंने अधीक्षक, सहायक अधीक्षक और डॉक्टर्स को फटकार लगाई। उन्होंने डॉक्टरों से मार्च तक अस्पताल की व्यवस्थाएं ठीक करने को कहा।

ओआईसी सम्मेलन से इतर सुषमा स्वराज की कई देशों के विदेश मंत्रियों से बैठक

गाली हमें खानी पड़ती है

गाली हमें खानी पड़ती है

विजयलक्ष्मी साधौ ने अस्पताल के स्टाफ और डॉक्टरों से कहा कि यहां हाल-बेहाल है, ध्यान आप लोग नहीं दे रहे हैं और गाली सरकार और मंत्रियों को खाना पड़ती हैं। मंत्री ने केआरएच में कुत्ते घूमते देखकर पूछा कि यह कुत्तों का अस्पताल है या इंसान का। इस तरह व्यवस्थाएं देख रहे हैं, तो ये हद है।

घर में सफाई रखते हैं तो यहां क्यों नहीं

घर में सफाई रखते हैं तो यहां क्यों नहीं

मंत्री ने केआरएच के लेबर रूम को देखकर सहायक अधीक्षक डॉ. रीता मिश्रा से कहा आप क्या अपने घर में भी इसी तरह से गंदगी रखती हैं। जब आपकी जिम्मेदारी सफाई व्यवस्था देखने की है तो यह देख रही हैं, यहां मरीज भर्ती हैं। बताइये इतनी गंदगी में कैसे इलाज होगा।

मंदसौर गोलीकांड में मध्य प्रदेश सरकार का यूटर्न, मंत्री बोले- किसी को क्लीन चिट नहीं

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
madhya pradesh minister Vijayalaxmi Sadho visit hospital gwalior
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X