• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

अमर सिंह ने कहा-सिर्फ इस एक मुद्दे पर जीत गई भाजपा, Exit Poll जैसे ही होंगे चुनावी नतीजे

|

नई दिल्ली। पूरे देश को 23 तारीख की सुबह का इंतजार है क्योंकि इस दिन मतगणना होगी जिसके बाद ये तय होगा कि साल 2019 लोकसभा चुनाव का विजेता कौन है, इस दिन को लेकर केवल राजनीतिक पार्टियां ही बेचैन नहीं हैं बल्कि आम जनता को भी इस रिजल्ट का बेसब्री से इंतजार है, लेकिन जहां लोगों के दिल-दिमाग में ये सवाल घूम रहा है कि सरकार किसकी बनेगी, वहीं दूसरी ओर यह भी प्रश्न लोगों के जेहन में घूम रहा है कि क्या एग्जिट पोल के ही नतीजे हकीकत में बदलेंगे और एक बार फिर से मोदी सरकार की वापसी होगी।

अमर सिंह ने कहा-सिर्फ इस मुद्दे पर जीत गई भाजपा

अमर सिंह ने कहा-सिर्फ इस मुद्दे पर जीत गई भाजपा

वैसे एग्जिट पोल के नतीजों से जहां बीजेपी खेमा खुश है, वहीं दूसरी ओर विपक्ष बेचैन है, उसने एग्जिट पोल के नतीजों को सिरे से खारिज कर दिया है तो नहीं पूर्व सपा नेता अमर सिंह ने भाजपा को लेकर एक बड़ी बात कही है, अपने बेबाक बयानों के लिए मशहूर अमर सिंह ने कहा कि बीजेपी की बढ़त की वजह राष्ट्रवाद है, जिसके आगे सारे मुद्दे बेबुनियाद हो गए।

यह पढ़ें: जानिए लोकसभा चुनाव के वोटों की गिनती कैसे की जाती है?

राष्ट्रवाद के आगे सारे मुद्दे हार गए: अमर सिंह

राष्ट्रवाद के आगे सारे मुद्दे हार गए: अमर सिंह

अमर बोले कि पुलवामा हमले के बाद राष्ट्रवाद का मुद्दा ऐसा छाया कि न भाषा रही, न ही जाति और धर्म की दीवार भी नहीं रही। अमर बोले कि नोटबंदी और जीएसटी के मुद्दे भी राष्ट्रवाद के आगे फीके पड़ गए,जिन बुनियादी जरूरतों को विपक्ष मुद्दा बनाकर भाजपा को घेर रहा था, वो सारे मुद्दे देश की इज्जत और एकता के आगे फीके हो गए और जनता ने साबित किया कि देश के आगे कुछ नहीं, जिसका फायदा मोदी सरकार को मिल रहा है। अमर ने कहा कि उन्हें बिल्कुल अचरज नहीं कि एग्जिट पोल जैसे नतीजे ही मतगणना वाले दिन भी देखने को मिलेंगे।

ओपिनियन पोल और एग्जिट पोल में अंतर

ओपिनियन पोल और एग्जिट पोल में अंतर

एक खास बात आपको यहां बता दें कि चुनाव शुरू होने से पहले तमाम एजेंसी और मीडिया हाउस ने ओपिनियन पोल कराया था, लेकिन तब जो आंकड़े पेश किए गए थे, उससे अब के एग्जिट पोल में काफी अंतर है। कुल मिलाकर हर एग्जिट पोल ये कह रहा है एक बार फिर में मोदी की अगुवाई में केंद्र में भाजपा की सरकार बनने जा रही है और राहुल गांधी को नाकामी हाथ लगेगी, उनकी बहन प्रियंका गांधी की सारी कोशिशें भी कांग्रेस की सत्ता में वापसी नहीं करा पाएंगी।

अधिकांश एग्जिट पोल में NDA को ही बढ़त

अधिकांश एग्जिट पोल में NDA को ही बढ़त

  • News18-Ipsos एग्जिट पोल में एनडीए 336 सीटें और यूपीए को महज 82 सीटें मिल रही हैं।
  • इंडिया टीवी - सी वोटर के पोल में NDA को 289, UPA को 101 और अन्य को 148 सीटें मिल रही हैं।
  • न्यूज़ 24 - चाणक्य के एग्जिट पोल में NDA को 350 सीटें दी गई हैं, जबकि UPA के महज़ 95 सीट दी गई हैं।
  • टाइम्स नाउ - ओआरजी- इस एग्जिट पोल में NDA को बहुमत से दूर दिखाया गया है. सर्वे में NDA को 249 और UPA को 146 सीट मिलने का दावा किया गया है।
  • NDTV- हंसा रिसर्च - NDA को 275 और UPA को 111 सीट मिलने का दावा किया गया है।
  • ABP- नीलसन- NDA को 277 सीट मिलने का अनुमान जताया गया है, जबकि UPA को 130 सीट और अन्य को 135 सीट मिलने का दावा किया गया है।
  • इंडिया टुडे एग्जिट पोल- NDA को 339 से 365 सीटें, UPA को 77 से 108 सीटें और अन्य के खाते में 69 से 95 सीटें जा सकती हैं।

यह पढ़ें: विवेक-सलमान-ऐश्वर्या मीम विवाद: अमिताभ बच्चन को आया गुस्सा, कहा-सोच समझकर करो जिक्र...

जीवनसंगी की तलाश है? भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें - निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
The BJP will form the next government with majority as nationalism has taken over casteism in this Lok Sabha election, former Samajwadi Party leader and Rajya Sabha MP Amar Singh said Wednesday.
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X
We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Oneindia sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Oneindia website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more