• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

LoC:सीजफायर समझौते के बाद इस वजह से भारतीय और पाकिस्तानी सेना के बीच फिर हुई बातचीत

|

नई दिल्ली: भारतीय और पाकिस्तानी सेना के बीच आज ब्रिगेड कमांडर स्तर की फ्लैग मीटिंग हुई है। भारतीय सेना के मुताबिक यह मीटिंग सीजफायर समझौते को लागू करने के तरीके को लेकर पुंछ-रावलकोट क्रॉसिंग प्वाइंट पर हुई है। दोनों देशों की सेना के बीच यह बैठक डायरेक्टर जनरल ऑफ मिलिट्री ऑपरेशन्स अंडरस्टैंडिंग 2021 के बाद हुई है। इसके बारे में भारतीय सेना ने बताया है कि 'डीजीएमओ समझौता 2021 के बाद भारतीय और पाकिस्तानी सेनाओं के बीच पुंछ-रावलकोट क्रॉसिंग प्वाइंटर पर आज उस करार के मुताबिक उसे लागू करने के तरीके को लेकर ब्रिगेड कमांडर लेवल की एक फ्लैग मीटिंग हुई है।'

Discussions were held today at the brigade commander level of the Indo-Pakistani Army to discuss how to implement it as per the ceasefire agreement on the Line of Control

गौरतलब है कि फरवरी में भारत और पाकिस्तान की सेना ने ऐलान किया था कि वो लाइन ऑफ कंट्रोल पर 24 और 25 फरवरी की आधी रात से क्रॉस-बॉर्डर फायरिंग रोक देंगे, ताकि विवादित सीमा पर शांतिपूर्ण माहौल कायम किया जा सके। इसकी घोषणा रक्षा मंत्रालय ने दोनों सेनाओं के डायरेक्टर जनरल ऑफ मिलिट्री ऑपरेशन्स (डीजीएमओ) की ओर से हॉटलाइन के जरिए टेलिफोन पर हुई बातचीत के बाद की थी।

Discussions were held today at the brigade commander level of the Indo-Pakistani Army to discuss how to implement it as per the ceasefire agreement on the Line of Control

इस बीच भारतीय सेना ने साफ किया है कि उसे इस साल शंघाई कोऑपरेन ऑर्गेनाइजेशन (एससीओ) की ओर से पाकिस्तान में होने वाले कई देशों के अभ्यास में शामिल होने का अबतक कोई प्रस्ताव नहीं मिला है। एनआईए ने सेना के सूत्रों के हवाले से ये कहा है। पिछले कुछ दिनों से इस बात को लेकर कयास लगाए जा रहे हैं कि क्या भारतीय सेना 'पब्बी-एंटी-टेरर-2021' में हिस्सा लेगी या नहीं। यह अभ्यास इस साल सितंबर-अक्टूबर में पाकिस्तान के खैबर पख्तूनख्वा इलाके के नौशेरा जिले के पब्बी में कराने की योजना है। उधर पाकिस्तानी मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक भी उसने भारत को इसके लिए बुलाने को लेकर अभी तक कोई फैसला नहीं किया है। पाकिस्तानी न्यूज साइट डॉन ने पाकिस्तानी सेना के एक अज्ञात अधिकारी का हवाला देकर कहा है, 'भारतीय सेना को आमंत्रित करने पर अभी तक कोई फैसला नहीं हुआ है।' पहले इस तरह के अभ्यास में भारत भी पाकिस्तान और चीन के साथ हिस्सा लेता था, लेकिन पिछले साल भारत ने उसमें अपने जवानों को नहीं भेजा था और सिर्फ चीन और पाकिस्तान की सेनाओं ने ही उसमें हिस्सा लिया था।

इसे भी पढ़ें- वैक्सीन देने के लिए बांग्लादेश के विदेश मंत्री ने पीएम मोदी का जताया आभार, बोले- हमारे लोगों का दिल जीत लियाइसे भी पढ़ें- वैक्सीन देने के लिए बांग्लादेश के विदेश मंत्री ने पीएम मोदी का जताया आभार, बोले- हमारे लोगों का दिल जीत लिया

English summary
Talks were held today at the brigade commander level of the Indo-Pakistani Army to discuss how to implement it as per the ceasefire agreement on the Line of Control.
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X