• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

जानिए, क्यों TikTok को बैन कराना चाहते हैं भारतीय? मुहिम से गूगल प्ले स्टोर पर गिरी रेटिंग

|
Google Oneindia News

नई दिल्ली। एक तरफ जहां दुनिया वैश्विक महामारी से लड़ रही है तो वहीं दूसरी तरफ भारतीय चर्चित शॉर्ट वीडियो मेकिंग ऐप टिक टोक को प्रतिबंधित करवाने की लड़ाई लड़ रहे हैं, क्योंकि कथित रूप से एक वायरल हुए टिक टोक वीडियो में महिलाओं के ऊपर एसिड अटैक को ग्लेमराइज किया गया है।

tik tok

यही कारण है कि भारतीय सोशल मीडिया के जरिए और गूगल प्ले स्टोर पर निगेटिव रेटिंग देकर टिक टोक ऐप पर बैन की मांग कर रहे है। आरोप है कि टिक टोक ऐप पर निर्मित एक वीडियो में एक यूजर द्वारा जानबूझकर एसिज अटैक को बढ़ावा दिया जा रहा है, जो आजकल इंटरनेट पर खूब वायरल हो रहा है।

acid attack

नोएडा में 18 साल के लड़के ने फांसी लगाकर दी जान, सामने आया टिक-टॉक कनेक्शननोएडा में 18 साल के लड़के ने फांसी लगाकर दी जान, सामने आया टिक-टॉक कनेक्शन

रिपोर्ट के मुताबिक एसिड अटैक को बढ़ावा देने वाले उक्त वीडियो को एक टिक टोक यूजर द्वारा तैयार किया गया है। उक्त टिक टोक यूजर का नाम फैज़ल सिद्दीकी बताया जा रहा है। विवादित वीडियो बनाने वाले टिक टॉक यूजर फैजल सिद्दीकी के प्रोफाइल पर 13 मिलियन से अधिक फॉलोअर हैं।

'इतनी सुंदर लगती है, तो टिक-टॉक या वाट्सएप क्यों नहीं चलाती' कहते हुए व्यापारी ने किशोरी से की छेड़छाड़'इतनी सुंदर लगती है, तो टिक-टॉक या वाट्सएप क्यों नहीं चलाती' कहते हुए व्यापारी ने किशोरी से की छेड़छाड़

वीडियो में यूजर एसिड से भरा गिलास को महिला पर फेंक देता है!

वीडियो में यूजर एसिड से भरा गिलास को महिला पर फेंक देता है!

वीडियो में फैजल सिद्दीकी कहता है, 'क्या इस आदमी के लिए तुमने मुझे छोड़ दिया था?' यह कहते हुए यूजर फैजल सिद्दीकी एसिड से भरे गिलास को अपनी आभासित प्रेमिका पर फेंक देता है। वीडियो एसिड से झुलसे महिला के चेहरे के साथ समाप्त होता है। महिला ने कथित एसिड हमले के बाद दाग दिखाने के लिए मेक अप किया है।

राष्ट्रीय महिला आयोग ने TikTok को एक वीडियो के बारे में कंपनी को लिखा

राष्ट्रीय महिला आयोग ने TikTok को एक वीडियो के बारे में कंपनी को लिखा

मामला तूल पकड़ने पर राष्ट्रीय महिला आयोग (NCW) ने सोमवार को कहा कि उसने TikTok को एक वीडियो के बारे में लिखा है, जिसमें उसके एक यूजर द्वारा कथित तौर पर महिलाओं के खिलाफ एसिड हमले और अपराध का महिमा मंडन किया गया है, जिसके बाद फैजल सिद्दीकी का टिक टोक एकाउंट निलंबित कर दिया गया है।

भारतीयों ने टिक टोक पर बैन के लिए #BanTikTokinIndia को ट्रेंड कराया

भारतीयों ने टिक टोक पर बैन के लिए #BanTikTokinIndia को ट्रेंड कराया

इसके तुरंत बाद भारतीयों ने #BanTikTokinIndia को ट्रेंड किया और वीडियो के फोटो और स्क्रीनशॉट सोशल मीडिया पर साझा किए। साझा किए पोस्ट में कहा गया कि उन्होंने ऐप पर निगेटिव रेटिंग देने के लिए उसे डाउनलोड किया था। वर्तमान में गूगल प्ले स्टोर पर टिक टोक की वर्तमान रेटिंग 2.0 है, जबकि ऐप्पल ऐप स्टोर पर उसकी रेटिंग 4 है।

English summary
Indians have been demanding a ban on the Tik Tok app, as it is alleged that a video produced on the Tik Tok app is being promoted by an attack, which is going viral on the Internet nowadays. The above video promoting acid attack has been produced by a Tick Talk user named Faizal Siddiqui. Right now, Tick Talk user Faisal Siddiqui, who created the controversial video, has more than 13 million followers on his profile.
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X