• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

Essay on Children's Day: स्कूल में बच्चों को बाल दिवस पर निबंध कैसे लिखना चाहिए

|

नई दिल्ली। भारत में बाल दिवस (चिल्ड्रंस डे) हर वर्ष 14 नवंबर को मनाया जाता है। इस दिन भारत के पहले प्रधानमंत्री पंडित जवाहर लाल नेहरू का जन्म भी हुआ था। पंडित जवाहर लाल नेहरू को बच्चों से काफी लगाव था इसलिए बच्चे उन्हें प्यार से 'चाचा नेहरू' भी कहा करते थे। भारत में बाल दिवस प्रधानमंत्री नेहरू के जन्म दिवस के रूप में भी मनाया जाता है। इस दिन स्कूलों में बच्चों के लिए खास कार्यक्रमों का आयोजन भी किया जाता है। अक्सर स्कूलों में बच्चों को बाल दिवस पर निबंध लिखने को कहा जाता है लेकिन छात्रों को इस बारे में ज्यादा जानकारी नहीं होती। आज हम आपको बाल दिवस पर निबंध लिखने का आसान तरीका बताने जा रहे हैं जिससे आप अपने स्कूल के शिक्षकों को इम्प्रेस कर सकते हैं। आइए जानते हैं...

ऐसे करें निबंध की शुरूआत

ऐसे करें निबंध की शुरूआत

बाल दिवस पर निबंध लिखने से पहले छात्रों को यह जानकारी होनी चाहिए कि भारत में बाल दिवस कब और क्यों मनाया जाता है? जैसा कि हमने आपको पहले बताया, भारत में बाल दिवस प्रधानमंत्री जवाहर लाल नेहरू के जन्मदिवस के उपलक्ष में मनाया जाता है। जवाहर लाल नेहरू का जन्म 14 नवंबर 1889 को उत्तर प्रदेश के प्रयागराज जिले में हुआ था। वह बच्चों में चाचा नेहरू के नाम से लोकप्रिय थे इसलिए भी उनके जन्मदिन के दिन पूरे देश में बाल दिवस मानया जाता है।

बाल दिवस का इतिहास

बाल दिवस का इतिहास

बाल दिवस सिर्फ भारत में ही बल्कि पूरे विश्व में मनाया जाता है। सबसे पहले बाल दिवस 1925 में मनाया गया था जिसके बाद पूरे विश्व में इसे 1953 को मान्यता मिली। बाल दिवस हर देश में मनाया जाता है लेकिन इसे मनाने की तरीख हर देश में अलग-अलग है, हालांकि यूएन ने 20 नवंबर को बाल दिवस मनाने की घोषणा की थी। भारत में यह 14 नवंबर को मनाया जाता है। कुछ देशों में यह 20 नवंबर को ही मनाया जाता है। वहीं कई अन्य देशों में इसे 1 जून को मनाया जाता है।

बाल दिवस पर खास

बाल दिवस पर खास

बाल दिवस पर निबंध लिखने से पहले आप यह जान लें कि इस दिन आपके स्कूल में और दूसरे स्कूलों में क्या खास होता है। उन सबको आप अपने निबंध में लिख सकते हैं। जैसे, कई स्कूलों में इस मौके पर बच्चों के लिए विशेष कार्यक्रमों का आयोजन किया जाता है। कई स्कूलों में बच्चों को एक दिन का शिकक्ष बनने का मौका भी दिया जाता है। बाल दिवस के दिन छात्र-छात्राएं स्कूल में होने वाले कार्यक्रमों में भाग लेते हैं। इसके अलावा आप अपना अनुभव भी निबंध में लिख सकते हैं।

बाल दिवस पर कार्यक्रम

बाल दिवस पर कार्यक्रम

बाल दिवस पर करीब सभी स्कूलों में बच्चों के लिए अलग-अलग कार्यक्रमों का आयोजन किया जाता है। इस दिन शिक्षक छात्रों के लिए क्वीज, डिबेट, सांस्कृतिक प्रोग्राम, डांस-संगीत और ड्रामा का आयोजन करते हैं। इसमें कई छात्र अपने मनमसंद कार्यक्रम में भाग लेकर अपनी कला का प्रदर्शन कर सकते हैं।

बाल दिवस पर क्या करना चाहिए ?

बाल दिवस पर क्या करना चाहिए ?

बाल दिवस भारत के सभी स्कूलों में मनाया जाता है। यह सिर्फ मनोरंजन और मस्ती का दिन नहीं होता बल्कि अपने सहपाठियों से मिलने का और बिगड़े संबंधों को ठीक करने का भी समय होता है। बाल दिवस के मौके पर हम कई संकल्प ले सकते हैं जिसे हमें खुद में बदलना है। इस मौके पर बच्चों को घर में भी अपने भाई बहन और स्कूलों में सहपाठियों को उपहार या फूल देकर उन्हें शुभकामनाएं देनी चाहिए।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
know how to write essay on children's day
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X