• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

PUBG तो बैन हो गया लेकिन इसकी वजह से हुए ये 5 बड़े हादसे कभी भुलाए नहीं जा सकेंगे

|

नई दिल्ली। हाल ही में भारत सरकार ने पबजी (PUBG) समेत 118 एप बैन कर दिए हैं। जिससे देशभर के गेमर्स को गहरा सदमा लगा है। खासतौर पर उन लोगों को जो दिन रात केवल पबजी खेलते रहते थे। वक्त वक्त पर कई गेम आए और कई गए लेकिन वो गेम जो हमेशा सुर्खियों में बना रहा, वो है पबजी। इस गेम से देश के विभिन्न राज्यों में कई बडे़ हादसे हुए हैं। कई में तो खेलने वाले की जान तक चली गई। भारतीय बाजार में साल 2017 में आया पबजी कब घर घर में खेला जाने लगा किसी को भनक तक नहीं पड़ी। हालांकि माता-पिता इस नशीले गेम के कारण शुरू से ही परेशान रहे हैं। पबजी के प्रति लोगों की दीवानगी का अंदाजा आप इसी बात से लगा सकते हैं कि ये गेम थोड़े समय में ही सबसे ज्यादा डाउनलोड और खेला जाने वाला मोबाइल गेम बन गया।

पबजी से बढ़ा हिंसक व्यवहार और नकारात्मकता

पबजी से बढ़ा हिंसक व्यवहार और नकारात्मकता

इस गेम को खेलने वाला इसमें ऐसा खो जाता है कि ना उसे खाने का होश रहता है और ना ही किसी और काम का। इस गेम के कारण कई आत्महत्याएं हुईं, बच्चों ने गेम के चक्कर में घर से पैसे चोरी किए, कई जगह तो इसके चक्कर में हत्याएं तक हुईं। तो कई की हार्ट अटैक और घातक दुर्घटनाओं के चलते मौत हुई। इन सब दुखद घटनाओं की मुख्य वजह बना पबजी गेम। इस गेम से बच्चे हिंसक व्यवहार करने लगे, उनमें नकारात्मकता बढ़ने लगी। तो चलिए अब ऐसी पांच घटनाओं के बारे में जान लेते हैं, जिन्हें शायद ही कभी भुलाया जा सकेगा। जब भी कभी पबजी का नाम लिया जाएगा, तो ये घटनाएं जरूर जहन में आएंगी।

जब आंसर शीट बन गई पबजी बैटलग्राउंट

जब आंसर शीट बन गई पबजी बैटलग्राउंट

ये मामला देश के कर्नाटक राज्य का है। जहां प्री यूनिवर्सिटी परीक्षा में एक छात्र ने अर्थशास्त्र की परीक्षा में पबजी की पूरी गाइड लिख डाली। छात्र ने राष्ट्रीय आय और जीडीपी की बजाय आंसर शीट पर लिखा कि पबजी खेलते समय किन बातों का ध्यान रखें और किनका नहीं। ये लड़का पढ़ाई में अच्छा था क्योंकि उसे एसएसएलसी परीक्षा में डिस्टिंक्शन तक मिली थी लेकिन जब पबजी उसकी दुनिया का महत्वपूर्ण अंग बना गया तो वह अपने रास्ते से ही भटक गया। छात्र ने इंडियन एक्सप्रेस से बातचीत में कहा था, 'मैं पढ़ने लिखने वाला छात्र था लेकिन पबजी ने मुझे आकर्षित किया क्योंकि वो मुझे मनोरंजक लगा और जल्द ही मुझे पबजी की लत लग गई। कई बार मैं गेम खेलने के लिए अपनी क्लास बंक करने लगा। और पास के गार्डन में बैठकर पबजी खेलता था। मैं खुद पर गुस्सा होता था और आंसर शीट में भी पबजी के बारे मे लिख देता। अब मेरे माता-पिता ने मेरा फोन ले लिया है लेकिन गेम को दोबारा खेलने की तस्वीर मेरे दिमाग से नहीं जाती। मैं समझ गया हूं कि ये कितना खतरनाक गेम है।'

जब पानी की जगह पी लिया तेजाब

जब पानी की जगह पी लिया तेजाब

घटना मार्च 2019 की है। जब एक व्यक्ति को पबजी खेलते समय प्यास लग गई और उसने पानी की बजाय तेजाब पी लिया। टाइम्स की रिपोर्ट के अनुसार, मध्य प्रदेश के छिंदवाड़ा का रहने वाला ये 25 साल का शख्स पबजी खेलने के दौरान पानी की बजाय तेजाब पी गया। इस व्यक्ति की जान तो बच गई लेकिन तेजाब के कारण उसके पेट में छाले हो गए और वह कई दिन तक कुछ भी नहीं खा सका। एक रिपोर्ट में तो ये भी कहा गया है कि जब ये व्यक्ति तेजाब पीने के बाद अस्पताल में भर्ती हुआ, तो वहां भी पबजी खेलता रहता था।

जब पब्जी की लत ने पहुंचा दिया अस्पताल

जब पब्जी की लत ने पहुंचा दिया अस्पताल

बीते साल जनवरी की बात है, जब जम्मू कश्मीर का रहने वाला एक फिटनेस ट्रेनर पबजी में इतना खो गया कि उसने खुद को ही घायल कर लिया। इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के अनुसार, गेम खेलना शुरू करने के कुछ दिनों बाद ही इस फिटनेस ट्रेनर को पबजी की लत लग गई। लत ऐसी लगी कि इसने खुद को ही मारना पीटना शुरू कर दिया। वह गेम खेलते समय खुद पर हमले करने लगा। उसने खुद को इतनी बुरी तरह घायल कर लिया कि उसे अस्पताल में भर्ती होना पड़ा। इस व्यक्ति का इलाज करने वाले डॉक्टर ने बताया था, 'मरीज घटना के बाद अस्थिर हो गया और आंशिक रूप से अपना मानसिक संतुलन खो चुका था।' डॉक्टर ने ये भी कहा कि व्यक्ति पूरी तरह से होश खो चुका था और पबजी के प्रभाव में था।

जब रेलवे ट्रैक पर पबजी खेलना पड़ा भारी

जब रेलवे ट्रैक पर पबजी खेलना पड़ा भारी

महाराष्ट्र के हिंगोली जिले में दो लड़के पबजी खेलते हुए उसमें इतना खो गए कि ट्रेन के नीचे आ गए। सामने से ट्रेन आ रही थी और ये लोग गलत ट्रैक पर चले गए। उस समय पीटीआई से बातचीत में हिंगोली पुलिस ने कहा था, '24 साल के नागेश और 22 साल के स्वपनिल रेलवे ट्रैक के पास पबजी खेल रहे थे। वह हैदराबाद-अजमेर ट्रेन के नीच आ गए। वहां रहने वाले लोगों को रात के समय उनके शव मिले थे।'

पबजी के कारण भाई ने भाई की हत्या कर दी

पबजी के कारण भाई ने भाई की हत्या कर दी

ये घटना महाराष्ट्र के ठाणे की है। जब 15 साल के एक लड़के ने अपने बड़े भाई की कैंची से गोदकर हत्या कर दी। बड़े भाई ने छोटे भाई को पबजी खेलने से रोका था। महज 15 साल का ये लड़का पबजी के पीछे इतना खो गया कि उसने पहले अपने भाई का सिर दीवार में मारा और फिर कई बार उसे कैंची से गोदकर मार दिया।

PUBG बैन के बाद अक्षय कुमार लेकर आए देशी गेम FAU-G, कमाई का 20 % जाएगा सेना को

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
know five biggest incidents in country that happened due to pubg mobile game before its ban
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X