• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

केशुभाई पटेल का निधन, प्रधानमंत्री, गृहमंत्री, राष्ट्रपति ने जताया दुख

|

नई दिल्ली। गुजरात के पूर्व मुख्यमंत्री केशुभाई पटेल का 92 साल की उम्र में गुरुवार को निधन हो गया है। केशुभाई पटेल के निधन पर पीएम मोदी ने उन्हें बड़ा नेता बताते हुए दुश जाहिर किया है। पीएम मोदी ने ट्वीट कर लिखा, हमारे प्यारे और सम्मानित केशुभाई का आज निधन हो गया है। मैं बहुत दुखी हूं। वह एक उत्कृष्ट नेता थे जिन्होंने समाज के हर वर्ग के लिए काम किया। उनका जीवन गुजरात की प्रगति और हर गुजराती के सशक्तीकरण के लिए समर्पित रहा। पीएम मोदी ने केशुभाई पटेल के साथ अपनी कई तस्वीरें भी शेयर की हैं।

गुजरात के पूर्व मुख्यमंत्री केशुभाई पटेल का निधन पर बोले पीएम मोदी, उन्हें गुजरातियों के लिए समर्पित किया जीवन
    Keshubhai Patel Passed Away: केशुभाई पटेल के निधन पर भावुक नजर आए PM Narendra Modi | वनइंडिया हिंदी

    पीएम ने कहा, केशुभाई ने जनसंघ और भाजपा को मजबूत करने के लिए गुजरात की लंबी यात्राएं की। किसान कल्याण के मुद्दे उनके दिल के सबसे करीब थे। उन्होंने विधायक, सांसद, मंत्री और सीएम रहते किसानों के लिए कई काम किए। केशुभाई ने मुझे और दूसरे युवा कार्यकर्ताओं का लगातार मार्गदर्शन किया। सभी को उसका मिलनसार स्वभाव पसंद था। उनका निधन एक अपूरणीय क्षति है। हम सब आज शोक कर रहे हैं। मेरे विचार उनके परिवार और शुभचिंतकों के साथ हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और केशुभाई पटेल को एक-दूसरे का करीबी माना जाता था। मोदी ने उन्हें अपना राजनीतिक गुरू भी कहा था। 2001 में उनके बाद ही नरेंद्र मोदी ने पहली बार गुजरात के सीएम पद की शपथ ली थी।

    गुजरात के सीएम विजय रुपाणी ने केशुभाई पटेल के निधन पर ट्वीट कर लिखा, गुजरात के पूर्व मुख्यमंत्री और भाजपा के वरिष्ठ नेता और हमारे गुरु केशुभाई पटेल के निधन से मुझे गहरा दुख हुआ है, जिन्होंने जनसंघ से लेकर भाजपा को खड़ा करने का काम किया, देश के काम के लिए अपना बलिदान दिया, किसानों के लिए एक किसान के बेटे के रूप में काम किया।

    केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने ट्वीट कर लिखा, गुजरात के पूर्व मुख्यमंत्री केशुभाई पटेल जी के निधन का दुःखद समाचार प्राप्त हुआ। उनका लम्बा सार्वजनिक जीवन गुजरात की जनता की सेवा में समर्पित रहा। केशुभाई के निधन से गुजरात की राजनीति में ऐसी रिक्तता आयी है जिसका भरना आसान नहीं है। उनके परिजनों के प्रति संवेदना व्यक्त करता हूँ। भाजपा में रहते हुए गुजरात में संगठन को सशक्त करने में केशुभाई ने अहम भूमिका निभाई। सोमनाथ मंदिर के ट्रस्टी के रूप में उन्होंने मंदिर के विकास में हमेशा बढ़ चढ़कर सहयोग किया। अपने कार्यों व व्यवहार से केशुभाई सदैव हमारी स्मृति में रहेंगे। ईश्वर उन्हें अपने श्रीचरणों में स्थान दें।

    राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने ट्वीट कर लिखा, केशुभाई पटेल ने समाज की सेवा के लिए जीवन जिया। गुजरात के पूर्व मुख्यमंत्री केशुभाई पटेल के निधन के साथ, राष्ट्र ने एक शानदार नेता को खो दिया है। उनका लंबा सार्वजनिक जीवन लाखों लोगों के जीवन को बेहतर बनाने के लिए समर्पित था, खासकर गांवों में। किसानों के लिए खासतौर से उनका काम जबरदस्त था।

    दो बार गुजरात के दो बार मुख्यमंत्री रहे केशुभाई पटेल को गुरुवार को सांस लेने में तकलीफ के बाद अस्पताल ले जाया गया। जहां उनकी मौत हो गई। केशुभाई पटेल का राजनीतिक जीनव काफी लंबा रहा। वो जनसंघ के संस्थापक सदस्यों में से थे। 1977 में केशुभाई पटेल राजकोट से लोकसभा के लिए चुने गए थे। बाद में उन्होंने इस्तीफा दे दिया और विधानसभा लड़े और जीते। बाबूभाई पटेल की जनता मोर्चा सरकार में 1978 से 1980 तक वो कृषि मंत्री रहे। 1980 में वो भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ आयोजक बने और उनके नेतृत्व में ही 1995 के विधानसभा चुनाव में गुजरात में भाजपा को जीत मिली थी। दो बार, 1995 और 1998 में गुजरात के मुख्यमंत्री बने, हालांकि दोनों ही बार वो अपना कार्यकाल वो पूरी नहीं कर सके। केशुभाई पटेल साल 1980 से वर्ष 2012 तक भारतीय जनता पार्टी में रहे। 2012 में उन्होंने भाजपा से अल होकर गुजरात परिवर्तन पार्टी का गठन किया था।

    पढ़ें- नहीं रहे गुजरात के पूर्व मुख्यमंत्री केशुभाई पटेल, 92 साल की उम्र में ली अंतिम सांस

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    Keshubhai passes away narednra modi tweet I am deeply pained and saddened
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X