• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

ड्रग्स फंडिंग में केरल CPI (M) सचिव का बेटा गिरफ्तार, केरल CM पूर्व सहयोगी भी हो चुका है अरेस्ट

|

नई दिल्ली। मनी लॉन्ड्रिंग मामले में केरल के मुख्यमंत्री पिनरई विजयन के पूर्व सचिव एम शिवशंकर की गिरफ्तारी के एक दिन बाद प्रवर्तन निदेशालय ने सत्तारूढ़ सीपीआई (एम) को गुरुवार को एक और झटका देते हुए पार्टी सचिव कोडरारी बालाकृष्णन के बेटे बिनेश कोडियारी को मादक पदार्थ मामले में गिरफ्तार किया है। ईडी ने बताया कि ड्रग फंडिंग में ठोस जवाब देने में विफल रहने पर बिनेश को गिरफ्तार किया गया।

ED

पूरी दुनिया जानती है आतंकवाद और पाकिस्तान के गठजोड़ की सच्चाईः भारतीय विदेश मंत्रालय

प्रवर्तन निदेशालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि गिरफ्तार बिनेश कोडियारी को दूसरी बार बेंगलुरु में ईडी कार्यालय में बुलाया गया था, जहां उससे 3 घंटे की पूछताछ के बाद ड्रग रैकेट की कथित फंडिंग के बारे में ठोस जवाब देने में विफल रहने के बाद उसे गिरफ्तार किया गया, जिसे बाद में एक अदालत में पेश किया जाएगा।

बाइडेन को वोट देने का मतलब है कि अमेरिका में कोई क्रिसमस और 4 जुलाई नहीं होगाः ट्रंप

गौरतलब है बिनेश कोडियारी की मुश्किल तब शुरू हुई जब बेंगलुरु ड्रग रैकेट के आरोपी अनूप मोहम्मद ने नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (NCB) को दिए एक बयान में उनका नाम लिया। उसने एनसीबी को बताया कि बालकृष्णन के दूसरे बेटे बिनेश कोडियरी ने उनके "व्यावसायिक उद्यम" में उसकी बहुत मदद की थी। बाद में कोडियारी का नाम मोहम्मद की कॉल लिस्ट में भी पाया गया था।

ed

दिल्ली में ठंड ने तोड़ा 26 साल पुराना रिकॉर्ड, 29 अक्टूबर को 12.5 डिग्री दर्ज किया गया तामपान

दिलचस्प बात यह है कि बिनेश कोडिएरी ने बाद में स्वीकार किया कि वह मोहम्मद को जानता था और बेंगलुरु में एक होटल स्थापित करने में उसकी मदद की थी, लेकिन वह उसके कथित ड्रग सौदे के बारे में नहीं जानता था, लेकिन बाद में ईडी ने पाया कि कोडियरी द्वारा खड़े गए दो सेल कंपनियों क्रमशः बी कैपिटल सॉल्यूशंस और बी कैपिटल फॉरेक्स कंपनियां कथित तौर पर कई गलत सौदों में शामिल थे।

eD

जनवरी में ऑक्सफोर्ड, और मार्च में रूसी टीके का परीक्षण भारत में पूरा होने की उम्मीद!

यही नहीं, वर्ष 2015 में निर्मित दोनों फर्म टैक्स रिटर्न और अन्य औपचारिकताओं को दर्ज करने में विफल रही थीं और ईडी को संदेह है कि दोनों फर्मों को कथित मनी लॉंडरिंग और हवाला लेनदेन के लिए बनाई गई थीं। जांच के दौरान ईडी ने यह भी पाया कि पिछले छह महीनों में मोहम्मद के खाते में 50 लाख रुपए भेजा गया। ईडी को संदेह है कि कोडिएरी ड्रग कार्टेल के फाइनेंसरों में से एक था। इससे पहले, ईडी ने उसकी सभी संपत्तियों के लेन-देन को फ्रीज कर दिया था।

ED

जनवरी में ऑक्सफोर्ड, और मार्च में रूसी टीके का परीक्षण भारत में पूरा होने की उम्मीद!

उल्लेखनीय है सोने की तस्करी मामले की जांच के दौरान भी ईडी ने यह पाया था कि सोने की तस्करी और साइकेडेलिक ड्रग केस के बीच एक करीबी संबंध था। तस्करी का मामला गत 5 जुलाई को सामने आया था, जब तिरुवनंतपुरम में संयुक्त अरब अमीरात के कांसुलर कार्यालय के नाम पर पहुंची एक खेप से 30 किलोग्राम सोना जब्त किया गया थ और ड्रग का मामला 28 अगस्त को अनूप मोहम्मद और दो अन्य लोगों की बेंगलुरु में गिरफ्तारी के बाद सामने आई थी। ऐसी खबरें हैं कि सोना तस्करी मामले में तीसरा आरोपी के टी रमीस और अनूप मोहम्मद दोस्त थे।

ED

केंद्रशासित प्रदेश जम्मू-कश्मीर में नए भूमि कानून का विरोध, हिरासत में ली गई महबूबा मुफ्ती

उधर, सीपीआई (एम) के महासचिव सीताराम येचुरी ने दिल्ली में कहा कि केरल में पार्टी या सरकार पर कोई संकट नहीं था और कोडियरी बालाकृष्णन ने अपनी स्थिति स्पष्ट कर दी थी कि पार्टी मामले में हस्तक्षेप नहीं करना चाहती है।

8 साल डेटिंग के बाद ब्वॉयफ्रेंड ने शादी से किया इंकार तो गर्लफ्रेंड ने फेंका तेजाब

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
A day after the arrest of M Shivshankar, the former secretary of Kerala Chief Minister Pinarayi Vijayan in the money laundering case, the Enforcement Directorate on Thursday gave another blow to the ruling CPI (M), arrested Binesh Kodiyari, son of party secretary Kodarari Balakrishnan, in a drug case Have done ED said that Binesh was arrested for failing to give concrete answers in drug funding.
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X