मरने के बाद भी कठुआ की मासूम को नोंच रहे दरिंदे, पोर्न साइट पर सबसे ज्यादा किया सर्च

Posted By:
Subscribe to Oneindia Hindi

जम्मू। कठुआ में 8 साल की बच्ची के साथ जो हैवानियत हुई है, उसके कारण पूरा देश गुस्से में उबल रहा है, इंसानियत को शर्मसार करती इस घटना ने लोगों को ये सोचने पर विवश कर दिया है कि हम और हमारा समाज किस दिशा में आगे बढ़ रहा है। पीड़िता को न्याय दिलाने के लिए लोग सड़कों पर उतर आए हैं लेकिन इस बीच कुछ ऐसा हुआ जिसने लोगों की गंदी सोच को एक बार फिर से उजागर कर दिया है। दरअसल पीड़िता का नाम, एडल्ट साइट पर ट्रेंड कर रहा था, जिसने पीड़िता के लिए न्याय मांग रहे लोगों को झकझोर कर रख दिया है।

कठुआ की मासूम को पोर्न साइट पर खोज रहे दरिंदे..

कठुआ की मासूम को पोर्न साइट पर खोज रहे दरिंदे..

इस बारे में खुलासा किया बॉलीवुड रैपर रफ्तार वेबसाइट ने , जिसने एडल्ट साइट का प्रिंट स्क्रीन शेयर करते हुए लिखा कि पीड़िता का नाम वयस्क साइट पर ट्रेंड कर रहा है, ये है मेरे देश की सोच, वैलकम टू इंडिया।

ज्यादातर लोगों का दिमाग गंदगी से भरा हुआ है...

ज्यादातर लोगों का दिमाग गंदगी से भरा हुआ है...

वेबसाइट ने आगे लिखा- ट्रेंडिंग में कुछ भी लाने के लिए बहुत सारे सर्च की जरूरत पड़ती है, इससे अंदाजा लगाया जा सकता है कि आप में से ज्यादातर लोगों का दिमाग गंदगी से भरा हुआ है, रफ्तार के इस पोस्ट को लोगों का सपोर्ट मिला है। लोगों ने इस बारे में कड़ी प्रतिक्रिया देते हुए लिखा है कि ऐसे ही लोग, समाज में गंदगी फैलाते हैं, जिसका शिकार मासूमों को होना पड़ता है।

केस को जम्मू-कश्मीर से बाहर ट्रांसफर करने की मांग

केस को जम्मू-कश्मीर से बाहर ट्रांसफर करने की मांग

मालूम हो कि कठुआ गैंगरेप पीड़िता के पिता की अर्जी पर सुनवाई के बाद सुप्रीम कोर्ट ने जम्मू कश्मीर सरकार को नोटिस भेजा है और पीड़िता के परिवार और वकील को सुरक्षा मुहैया कराने का आदेश दिया है। सुप्रीम कोर्ट ने जम्मू-कश्मीर सरकार से इस केस को चंडीगढ़ शिफ्ट किए जाने पर भी राय मांगी है। आपको बता दें कि पीड़िता के परिवार ने सुप्रीम कोर्ट में अर्जी दाखिल कर सुरक्षा मुहैया कराने और केस को जम्मू-कश्मीर से बाहर ट्रांसफर करने की मांग की थी।

अगली सुनवाई 28 अप्रैल को

अगली सुनवाई 28 अप्रैल को

इससे पहले सोमवार को इस केस की पहली सुनवाई मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट की अदालत में हुई। आठों आरोपियों को कोर्ट लाया गया। आरोपी के वकील के मुताबिक कि कोर्ट ने निर्देश किया कि चार्जशीट की कॉपी सभी आरोपियों को मुहैया कराई जाए। मामले की अगली सुनवाई 28 अप्रैल को होगी।

कठुआ में 8 साल की बच्ची से गैंगरेप के बाद हुआ मर्डर

कठुआ में 8 साल की बच्ची से गैंगरेप के बाद हुआ मर्डर

आपको बता दें कि कश्मीर के कठुआ में 8 साल की बच्ची से गैंगरेप और उसके बाद उसकी निर्दयतापूर्वक हत्या कर देने के मामले में सोमवार से कोर्ट में सुनवाई शुरू हुई।यह सुनवाई आठ आरोपियों के खिलाफ है, जिन पर एक बच्ची को इस साल के जनवरी में एक सप्ताह तक मंदिर में बंधक बनाकर गैंगरेप करने और फिर उसकी हत्या करने का आरोप है। इन 8 आरोपियों में एक नाबालिग भी है, आरोप है कि कठुआ के एक छोटे गांव के एक मंदिर का रखरखाव करने वाले शख्स सांजी राम ने विशेष पुलिस अधिकारी दीपक खजूरिया और सुरेंद्र वर्मा के साथ मिलकर बकरवाल समुदाय की 8 साल की लड़की को पहले किडनैप किया, फिर उसे मंदिर में बंधक बनाया और उसके बाद उसका रेप करके उसकी हत्या कर दी। ये सभी बकरवाल समुदाय को डराना चाह रहे थे और इसलिए इन्होंने इस काम को अंजाम दिया।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
a Facebook post shocked and left the author speechless. The post had a screenshot of a popular porn website’s trending searches. On top, even above the celebrities and sought-after porn genres, was the name of the little girl who was gangraped and murdered in Kathua.

Oneindia की ब्रेकिंग न्यूज़ पाने के लिए
पाएं न्यूज़ अपडेट्स पूरे दिन.