• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

कर्नाटक हाईकोर्ट ने कंगना को दिया झटका, एक्ट्रेस बोलीं- मैं तो बागी पैदा हुई थी बागी ही रहूंगी...

|

मुंबई। फिल्म अभिनेत्री कंगना रनौत के किसान आंदोलन पर किए कथित आपत्तिजनक ट्वीट्स को लेकर उनके खिलाफ कार्रवाई पर रोक से कर्नाटक हाईकोर्ट ने इनकार कर दिया है। कंगना ने कर्नाटक हाईकोर्ट में एक याचिका दायर में कृषि कानूनों का विरोध कर रहे किसानों के खिलाफ किए ट्वीट के लिए दर्ज एफआईआर को रद्द करने की मांग की थी। जिस पर मंगलवार को हाईकोर्ट ने सुनवाई करते हुए कंगना को कोई भी राहत देने से इनकार कर दिया। जिसके बाद कंगना ने कहा है कि वो बचपन से बागी हैं और इससे डरेंगी नहीं।

18 मार्च को होगी अगली सुनवाई

18 मार्च को होगी अगली सुनवाई

मंगलवार को सुनवाई के दौरान कर्नाटक हाईकोर्ट में कंगना के वकील रिजवान सिद्दीकी ने मांग की कि उनके मुवक्किल के खिलाफ दर्ज एफआईआर रद्द की जाए और इस पर किसी भी कार्रवाई से रोक का आदेश दिया जाए। हाईकोर्ट ने मामले में ऐसा कोई आदेश ना देते हुए अगली सुनवाई के लिए 18 मार्च की तारीख दी है।

कंगना ने कहा- मैं बागी, डरूंगी नहीं

कंगना ने कहा- मैं बागी, डरूंगी नहीं

किसानों पर किए ट्वीट को लेकर रमेश नाइक नाम के शख्स ने कंगना के खिलाफ आईपीसी की धारा 156 (3) के तहत यह शिकायत दर्ज कराई गई थी। 21 सितंबर 2020 को किए इस ट्वीट को लेकर कर्नाटक के तुमकुर न्यायिक मजिस्ट्रेट प्रथम श्रेणी ने 9 अक्टूबर, 2020 को कंगना के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने का निर्देश दिया था। इसी आदेश के खिलाफ कंगना कर्नाटक हाईकोर्ट में पहुंची हैं।

कर्नाटक हाईकोर्ट से राहत ना मिलने के बाद कंगना ने ट्वीट कर कहा है कि एक के बाद एक एफआईआर उनपर हो रही है लेकिन वो डरेंगी नहीं। उन्होंने लिखा- कितने भी ज़ुल्म कर लो, मेरा घर तोड़ दो या मुझे जेल भेज दो, या झूठ फैलाकर मुझे बदनाम कर दो मैं नहीं डरने वाली, मुझे सुधारने की कोशिश करने वालों में तुम्हें सुधारकर दम लूंगी। कर लो जितनी कोशिश करनी है मुझे अबला बेचारी बनाने की, मैं बाग़ी पैदा हुई थी बागी ही रहूंगी।

किसानों पर लगातार बयानबाजी कर रही हैं कंगना

किसानों पर लगातार बयानबाजी कर रही हैं कंगना

कंगना रनौत बीते कुछ समय से काफी ज्यादा चर्चा में हैं। इसकी वजह उनकी फिल्मों से ज्यादा उनके बयान हैं। महाराष्ट्र की सरकार पर वो लगातार टिप्पणियां करती रही हैं। किसान आंदोलन पर भी उन्होंने ऐसी बातें कह दी थीं, जिसको लेकर पंजाब के कई कलाकार उनसे भिड़ गए थे। उन्होंने कृषि कानूनों को लेकर भी प्रदर्शनकारी किसानों को लगातार भला बुरा कहा है। वहीं भाजपा का विरोध करने वाले लोगों पर भी वो लगातार टिप्पणी करती रहती हैं।

तोड़फोड़ के बाद कंगना ने पहली बार की अपने ऑफिस में मीटिंग, बोलीं- आज फिर दिल टूट गया

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Karnataka High Court refuses to stay proceedings against actress Kangana ranaut for her tweet on farmers protest
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X