• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

इमरती देवी को 'आइटम' कहने पर कमलनाथ की सफाई, 'अगर किसी को बुरा लगा तो मुझे खेद है'

|

भोपाल: कांग्रेस नेता और मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ (Kamal Nath) ने बीजेपी नेता और राज्य मंत्री इमरती देवी (BJP leader Imarti Devi) पर की अपनी 'आइटम' वाली टिप्पणी पर खेद प्रकट किया है। कमलनाथ ने कहा, 'अगर किसी को मेरी टिप्पणी अपमानजनक लगी, तो मैं खेद व्यक्त करता हूं।' मीडिया से बात करते हुए कमलनाथ ने कहा, "बीजेपी को आज ये महसूस हो रहा है कि वह हार नहीं रहे, वो पिट रहे हैं। इसलिए वो ये सब करके ध्यान भटका रहे हैं। ये मध्य प्रदेश में चुनाव के असली मुद्दे, 15 साल के और पिछले 7 महीने के मुद्दों से लोगों को भटकाने की कोशिश में लगे हैं। बीजेपी ये सब करके मुझे वास्तविक मुद्दों से विचलित करने की कोशिश में हैं, ध्यान भटकाने के लिए कुछ भी बोल दो। लेकिन मैं उन्हें इसमें फल नहीं होने दूंगा।''

Kamal Nath
    Kamalnath ने 'आइटम' वाले बयान पर जताया खेद,कहा- BJP को सफल नहीं होने दूंगा | वनइंडिया हिंदी

    कमलनाथ बोले- मैं महिलाओं का सम्मान करता हूं

    कमलनाथ सफाई देते हुए अपने बचाव में कहा, ''बीजेपी कहती है, मैंने एक अपमानजनक टिप्पणी की। कौन सी टिप्पणी? मैं महिलाओं का सम्मान करता हूं। अगर किसी को लगता है कि यह अपमानजनक है तो मैं खेद व्यक्त करता हूं।''

    कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी को इस पूरे मामले को लेकर एमपी के सीएम शिवराज सिंह चौहान ने पत्र लिखा था। जिसके बाद सोमवार (19 अक्टूबर) को सफाई देते हुए चौहान को कमलनाथ ने एक पत्र लिखा है। पत्र में कमलनाथ ने लिखा, "डबरा रैली में मैंने कोई असम्मानजनक टिप्पणी नहीं की, फिर भी बीजेपी ने झूठ बोला और जिस शब्द का आप जिक्र कर रहे हैं, उसके कई अर्थ हैं, लेकिन आपकी और आपकी पार्टी के विचारों में गलती होने के कारण आपको वो अपमानजनक लग रहा है। आप (बीजेपी) बस जनता को गुमराह करने की कोशिश कर रहे हैं।''

    निर्वाचन आयोग ने कमलनाथ से मांगा जवाब

    मध्य प्रदेश में उपचुनाव को लेकर कमलनाथ ने एक रैली में मध्य प्रदेश की महिला और बाल विकास मंत्री इमरती देवी को आइटम कहा था। इस मामले को लेकर बीजेपी ने निर्वाचन आयोग से शिकायत की थी। जिसके बाद मध्य प्रदेश के मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने कमलनाथ से पूरे मामले पर रिपोर्ट मांगी है। रविवार को बीजेपी नेताओं ने कमलनाथ के खिलाफ ऑनलाइन शिकायत की थी। कमलनाथ के बयान के विरोध में शिवराज सिंह चौहान ने सोमवार को दो घंटे का मौन उपवास रखा था।

    जानें क्या है पूरा मामला

    ग्वालियर के डबरा शहर में रविवार (18 अक्टूबर) को एक चुनावी सभा को संबोधित करते हुए, जहां बीजेपी ने इमरती देवी को मैदान में उतारा, कमलनाथ ने कहा कि कांग्रेस के उम्मीदवार एक "साधारण व्यक्ति" हैं, जबकि बीजेपी ने जिसे खड़ा किया है वो "आइटम" है।

    ज्योतिरादित्य सिंधिया के प्रति वफादार इमरती देवी और 21 अन्य विधायकों ने कमलनाथ सरकार को गिराने की प्रक्रिया में मार्च में कांग्रेस और राज्य विधानसभा से इस्तीफा दे दिया था और बीजेपी में शामिल हो गए थे।

    ये भी पढ़ें- MP bypoll: कमलनाथ के 'आइटम' वाले बयान पर चुनाव आयोग ने मांगी डिटेल रिपोर्ट

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    Kamal Nath on 'item' jibe for Imarti Devi Says Regret if my comment hurt someone Madhya Pradesh by poll
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X