• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

लोनी मामला: बॉम्बे हाईकोर्ट से पत्रकार राणा अय्यूब को राहत, मिली 4 हफ्ते की अग्रिम जमानत

|
Google Oneindia News

मुंबई, 21 जून: गाजियाबाद के लोनी में बुजुर्ग के साथ पिटाई के केस में यूपी पुलिस ने सख्त रुख अख्तियार कर रखा है। साथ ही उसकी ओर से गलत जानकारी फैलाने के लिए कई पत्रकारों को नोटिस जारी किया गया था। जिस वजह से उन पर गिरफ्तारी का खतरा मंडरा रहा है। अब इस मामले में पत्रकार राणा अय्यूब को बड़ी राहत मिली है, जहां बॉम्बे हाईकोर्ट ने गाजियाबाद पुलिस की ओर दर्ज किए गए एक मामले में उन्हें चार हफ्ते की अग्रिम जमानत दे दी।

bail

दरअसल 18 जून को पत्रकार राणा अय्यूब ने लोनी मामले को लेकर बॉम्बे हाईकोर्ट में एक याचिका दायर की थी। जिसमें अग्रिम जमानत की मांग की गई। सुनवाई के दौरान बेंच ने कहा कि पत्रकार को न्यायिक सुरक्षा दी जा सकती, ताकी वो अदालत का दरवाजा खटखटा सकें। इस वजह से उनकी चार हफ्ते की अग्रिम जमानत मंजूर कर दी गई। हालांकि जमानत की ये अवधि अस्थायी है।

'बहुत बुरा लगता है': बुरे दौर में मनोज बाजपेयी को पत्रकार ने दिखा दी थी पीठ, कहा था- कैमरा बंद कर लो'बहुत बुरा लगता है': बुरे दौर में मनोज बाजपेयी को पत्रकार ने दिखा दी थी पीठ, कहा था- कैमरा बंद कर लो

मामला क्या है?
गाजियाबाद पुलिस ने 15 जून को पत्रकार मोहम्मद जुबैर, राणा अय्यूब, तीन कांग्रेस नेता और लेखिका सबा नकवी समेत 8 के खिलाफ मामला दर्ज किया था। पुलिस के मुताबिक ताबीज को लेकर कुछ युवकों ने एक मुस्लिम बुजुर्ग की पिटाई कर दी। उनका कहना था कि बुजुर्ग द्वारा बनाई ताबीज काम नहीं करती है, लेकिन सोशल मीडिया पर इसे धार्मिक रंग दे दिया गया। जिस वजह से दंगा भड़काने, धर्मों में दुश्मनी बढ़ाने, धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंचाने, आपराधिक साजिश रचने समेत कई आरोपों के तहत 8 लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है।

English summary
journalist Rana Ayyub transit anticipatory bail In Loni case
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X