• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

भारत में कोरोना वैक्सीन के आवेदन को जॉनसन एंड जॉनसन ने लिया वापस

|
Google Oneindia News

नई दिल्ली, 2 अगस्त। भारत के दवा नियामक ने सोमवार को कहा कि जॉनसन एंड जॉनसन ने बिना कोई कारण बताए देश में अपनी कोविड-19 वैक्सीन के ट्रायल के प्रस्ताव को वापस ले लिया है। बता दें कि अमेरिकी आधारिक इस कंपनी ने अप्रैल में कहा था कि वह अपनी कोरोना वैक्सीन का भारत में ट्रायल करने के लिए मंजूरी मांग रही है। जॉनसन एंड जॉनसन की ओर से वैक्सीन के प्रस्ताव को वापस लेने से भारत के कोरोना वायरस टीकाकरण अभियान पर नकारात्मक असर पड़ सकता है। देश की बड़ी आबादी का टीकाकरण करने के लिए भारत को भारी मात्रा में वैक्सीन की जरूरत है। वर्तमान में भारत में केवल एक विदेशी वैक्सीन (रूस की स्पूतनिक वी) का प्रयोग हो रहा है।

johnson & johnson

85 फीसदी कारगर है वैक्सीन
इससे पहले जॉनसन एंड जॉनसन ने दावा किया था कि उसकी वैक्सीन कोरोना के खिलाफ 85 फीसदी कारगर है।

खून का थक्का जमने की आई थी शिकायतें
अमेकिरा में जॉनसन एंड जॉनसन वैक्सीन से कुछ लाभार्थियों में खून का थक्का जमने जैसी शिकायतें आई थीं, जिसके बाद इस वैक्सीन का ट्रायल बंद कर दिया गया था। कंपनी ने अप्रैल महीने में भारत में अपनी वैक्सीन के ट्रायल के लिए आवेदन दिया था।

यह भी पढ़ें: सीएम योगी ने लगवाई कोरोना वैक्सीन की दूसरी डोज, कहा- आप सब भी अवश्य लगवाएं

डेल्टा वेरिएंट पर कारगर वैक्सीन
जॉनसन एंड जॉनसन ने दावा किया है कि उसकी वैक्सीन कोरोना के खतरनाक डेल्टा वैरिएंट और अन्य वैरिएंट के खिलाफ कारगर है।

भारत ने अभी तक चार टीकों को दी मंजूरी
भारत में चल रहे कोरोना वायरस टीकाकरण अभियान में चार टीके इस्तेमाल में लाए जा रहे हैं, जिनमें एस्ट्राजेनेका का कोविशील्ड, भारत बायोटेक की कोवैक्सिन, रूस की स्पूतनिक वी और मॉडर्न की वैक्सीन शामिल है।

English summary
Johnson & Johnson withdraws the application of Corona Vaccine in India
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X