• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

JNU वीसी का बड़ा बयान, कहा- कुछ छात्र बना रहे हैं यूनिवर्सिटी में आतंक का माहौल

|

नई दिल्ली। जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय में हुई हिंसा को लेकर छात्रों का विरोध प्रदर्शन लगातार जारी है। वहीं दूसरी तरफ कई छात्र जेएनयू के कुलपति एम जगदीश कुमार के इस्तीफे की मांग कर रहे हैं। जेएनयू हिंसा को लेकर मचे बवाल के बीच शनिवार को जेएनयू के कुलपति एम जगदीश कुमार ने छात्रों से बात की और एक बड़ा बयान दिया। कुलपति ने कहा कि हॉस्टल में कुछ छात्र ऐसे हैं जो आतंक का माहौल बना रहे हैं।

    JNU की VC का बड़ा आरोप, कुछ Student बना रहे हैं University में Terror का माहौल । वनइंडिया हिंदी
    कुलपित एम जगदीश ने छात्रों के साथ की बैठक

    कुलपित एम जगदीश ने छात्रों के साथ की बैठक

    गौरतलब है कि 5 जनवरी को कुछ नकाबपोश हमलावरों ने कैंपस में घुसकर छात्रों और टीचर्स के साथ मारपीट की। इस घटना को लेकर देश भर में आक्रोश है और विरोध प्रदर्शन हो रहे हैं। इस मामले पर शनिवार को जेएनयू वीसी एम जगदीश कुमार ने कहा कि कुछ एक्टिविस्ट छात्रों द्वारा इस हद तक आतंक फैलाया गया है कि कई छात्रों को हॉस्टल छोड़ना पड़ा। पिछले कई दिनों से, हमने कैंपस में सुरक्षा सुनिश्चित करने के प्रयास में सुरक्षा बढ़ा दी है, ताकि निर्दोष छात्रों को चोट न पहुंचे।

    हॉस्टल में गैरकानूनी ढंग से रह रहे छात्र

    दरअसल जेएनयू में हुई हिंसा के बाद पहली बार कुलपति एम जगदीश कुमार ने जेएनयू के छात्रों के साथ बैठक की। इस बैठक में कुलपति ने छात्रों से कहा कि कैंपस में हो रही दिक्कतों की सबसे बड़ी समस्या हॉस्टल में गैरकानूनी ढंग से रह रहे छात्र हैं, जो बाहरी भी हो सकते हैं। वीसी ने आगे कहा कि इसकी पूरी संभावना है कि 5 जनवरी में हुई हिंसा में वह भी शामिल हो सकते हैं क्योंकि उनके पास करने को कुछ और नहीं है। कुछ छात्र कार्यकर्ताओं ने इस हद तक आतंक मचाया कि कुछ छात्रों को हास्टल तक छोड़ना पड़ा। पिछले कुछ दिनों से हमने सुरक्षा बढ़ा दी है और कोशिश है कि निर्दोष छात्रों को चोट न पहुंचे।

    संदिग्ध छात्रों में आईशी घोष का भी नाम

    मालूम हो कि शुक्रवार को दिल्ली पुलिस ने प्रेस कॉन्फेंस में बड़ा खुलासा करते हुए हिंसा में सम्मिलित 9 संदिग्ध छात्रों का नाम लिया, इसमें सबसे ज्यादा चौंकाने वाला नाम जेएनयू छात्रसंघ की अध्यक्ष आईशी घोष का नाम था। पुलिस की क्राइम ब्रांच टीम ने कहा कि हिंसा से पहले छात्रों ने व्हाट्सएप ग्रुप बनाकर सबके इकट्ठा किया था। दिल्ली पुलिस ने हमले से जुड़े छात्रों के नाम का खुलासा किया है। इनमें सुशील कुमार (पूर्व छात्र), पंकज मिश्रा (माही मांडवी हॉस्टल), आइशी घोष (जेएनयूएसयू अध्यक्ष), भास्कर विजय, सुजेता तालुकदार, प्रिय रंजन, योगेंद्र भारद्वाज पीएचडी-संस्कृत, विकास पटेल (पीले शर्ट में एमए कोरियन) और डोलन सामंता नाम के लोगों की पहचान की गई है। डीसीपी क्राइम ब्रांच ने डॉ जॉय टिर्की ने बताया कि किसी भी संदिग्ध को अभी तक हिरासत में नहीं लिया गया है मगर हम जल्द ही उनसे पूछताछ शुरू करेंगे।

    विरोध प्रदर्शन के बीच देश में लागू हुआ नागरिक संशोधन कानून, जारी किया नोटिफिकेशन

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    JNU VC big statement said some students are doing terror in university
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X