• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

कोरोना के खिलाफ लड़ाई में भारत के साथ खड़ा है जापान, 3,500 करोड़ इमरजेंसी लोन का किया विस्तार

|

नई दिल्ली। जापान ने कोविड -19 महामारी में भारत के साथ कंधे से कंधा मिलाकर खड़ा है। एक बयान में जापान ने कहा है कि वह 3,500 करोड़ (50 बिलियन येन) के इमरजेंसी लोन समर्थन का विस्तार करेगा, जिसमें स्वास्थ्य और चिकित्सा नीति का कार्यान्वयन शामिल है। वित्त मंत्रालय के आर्थिक मामलों के विभाग के अतिरिक्त सचिव सीएस महापात्र और जापानी राजदूत सुज़ुकी सातोशी ने इस संबंध में येन ऋण के प्रावधान के संबंध में नोटों का आदान-प्रदान किया।

japan

जापानी दूतावास द्वारा एक आधिकारिक सूचना के मुताबिक इमरजेंसी सहायता लोन कोविड-19 संकट को देखते हुए भारत की लड़ाई में काम आएगा और लड़ाई में मजबूती प्रदान करेगा। यह वित्तीय सहायता भारत सरकार द्वारा स्वास्थ्य और चिकित्सा नीति के कार्यान्वयन का समर्थन करेगी, आईसीयू और संक्रमण की रोकथाम और प्रबंधन सुविधाओं से लैस अस्पतालों के विकास को बढ़ावा देगी।

japan

फ्यूचर ग्रुप की डील से मुकेश अंबानी ने सील किया रिटेल क्षेत्र का बिग बाजार, बदला-बदला है RIL का कारोबारी मिजाज?

उम्मीद लगाई गई कि यह सहायता देश में संक्रमण के प्रसार को नियंत्रित करने के अलावा, देश के समाज और अर्थव्यवस्था को रिकवर और स्थिरता में योगदान देंगी। इसके साथ ही इसमें सतत विकास भी होगा। जापान से मुहैया कराए जा रहे ऋण में चार वर्ष की छूट अवधि सहित 15 वर्षों में चुकाने की बात कही गई है। इस लोन पर प्रति वर्ष 0.01 फीसदी की ब्याज दर होगी।

japan

इसके अलावा दोनों देशों ने जापान की आधिकारिक विकास सहायता (ODA) योजना के माध्यम से 'द इकोनॉमिक एंड सोशल डेवलपमेंट प्रोग्राम' के माध्यम से भारत को 1 बिलियन येन के अनुदान पर नोटों का भी आदान-प्रदान किया। उम्मीद की जाती है कि इस अनुदान सहायता से भारत में COVID-19 सहित संक्रामक रोगों के खिलाफ लड़ाई को मजबूती मिलेगी और जापान और भारत के बीच सहयोग को और मजबूत बनाने में योगदान मिलेगा।

बिग बॉस के स्टारडम पर भारी पड़ा नेपोटिज्म, क्या सलमान के बॉयकाट की आशंका से डर गया चैनल?

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Japan stands shoulder to shoulder with India in the Kovid-19 pandemic and has said in a statement that it will expand emergency loan support of 3,500 crore (50 billion yen), including implementation of health and medical policy. CS Mohapatra, Additional Secretary, Department of Economic Affairs, Ministry of Finance and Japanese Ambassador Suzuki Satoshi exchanged notes in this regard regarding the provision of Yen loans.
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X