• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

Jaipur Literature Festival 2021: कोरोना के खिलाफ भारत की लड़ाई की कहानी बताती रणदीप गुलेरिया की किताब

|

जयपुर। दुनिया का सबसे बड़ा साहित्‍यिक शो 'जयपुर लिटरेचर फेस्टिवल' का आगाज हो चुका है। 19 फरवरी से शुरू होकर ये फेस्टिवल 28 फरवरी तक चलेगा। इसे विचारों का सबसे शानदार पर्व कहा जाता है। यहां दुनिया के सबसे बड़े लेखक, विचारक, राजनीतिज्ञ, बिजनेस लीडर्स, खेल जगत से बड़े जानकर, मनोरंजन जगत की बड़ी हस्तियां और मानवतावादी सभी एक मंच पर होते हैं और अपनी विचारों को रखते हैं। इस साल डेलीहंट (Dailyhunt) और वनइंडिया (Oneindia) जयपुर लिटरेचर फेस्‍टिवल 2021 का इव स्ट्रीमिंग पार्टनर और डिजिटल मीडिया पार्टनर है।

Jaipur Literature Festival 2021: कोरोना के खिलाफ भारत की लड़ाई की कहानी बताती रणदीप गुलेरिया की किताब

पिछले सत्र में भारतीय लेखक, स्‍तंभकार, शोधकर्ता और सामाजिक कार्यकर्ता हर्ष मंदर ने अपनी नई किताब "Locking Down the Poor: The Pandemic and India's Moral Centre'' के बारे में चर्चा की। हर्ष मंदर बेघर लोगों के लिए काम करने के लिए भी जाने जाते हैं। मंदर ने अपनी किताब में उन समस्‍याओं के बारे में बताया है जो प्रवासी मजदूरों को उस वक्‍त झेलनी पड़ी थी जब केंद्र ने 2020 में लॉकडाउन का ऐलान किया था। लेखक ने प्रवासियों को उनके गृहनगर तक पहुंचाने के लिए ज्यादा इंतजाम नहीं करने के लिए सरकार के खिलाफ भी आवाज उठाई।

आज के सत्र में AIIMS के डायरेक्‍टर रणदीप गुलेरिया ने अपनी पुस्तक "टिल वी विन: द फाइट अगेंस्ट द कोविड -19 पेंडमिक" पर बात की। उन्‍होंने कहा कि सार्वजनिक नीति और स्वास्थ्य प्रणालियों के विशेषज्ञ चंद्रकांत लहरिया और प्रसिद्ध टीका शोधकर्ता और वायरोलॉजिस्ट गगनदीप कंग के सह-लेखक। "हर्ड इम्युनिटी एक ऐसी चीज़ है जो बहुत ही कठिन होती है, जिसे हासिल करना बहुत मुश्किल होता है और यह एक ऐसी चीज है जिसके बारे में वास्तव में व्यावहारिक रूप से नहीं सोचना चाहिए, क्योंकि समय के साथ वैरिएंट स्ट्रेन और बदलती इम्युनिटी एक ऐसा मौका बन सकती है जहां लोगों को लगाम लग सकती है या गुलेरिया ने कहा कि फिर से संक्रमण हो जाए।

लॉगइन करने के लिए यहां क्‍लिक करें

उन्‍होंने आगे कहा कि "आज हमारे सिर्फ एक टीका नहीं है। जैसे-जैसे समय के साथ और अनुसंधान चलता है, हमारे पास बेहतर वैक्सीन होंगे। लेकिन अभी, हमें यह लेना चाहिए कि अगर हमारे पास वास्तव में यह सुनिश्चित करना है कि हमारे देश में स्थिति जो है वो बिगड़े नहीं। आपको बता दें कि इस साल लिटरेचर फेस्टिवल में अमेरिकी भाषाविद् नोम चोम्स्की, 2020 बुकर पुरस्कार विजेता डगलस स्टुअर्ट, नोबेल पुरस्कार विजेता जोसेफ स्टिग्लिट्ज़ और मलाला यूसुफई, माइक्रोसॉफ्ट कॉर्पोरेशन के सह-संस्थापक बिल गेट्स और अभिनेत्री-लेखक प्रियंका चोपड़ा शामिल है।

उल्‍लेखनीय है कि कोरोना महामारी और उसके प्रोटोकॉल को देखते हुए जयपुर लिटरेचर फेस्टिवल इस बार ऑनलाइन प्रोग्राम का आयोजन कर रहा है और इसे महीने के दो वीकेंड पर प्रसारित किया जाएगा। फेस्टिवल प्रोड्यूसर ने घोषणा की है कि लिटरेचर फेस्टिवल 19 से 21 और फरवरी 26-28 फरवरी तक चलेगा। फेस्टिवल के लाइव वर्चुअल सेशन में कई थीम और लेख प्रसारित किए जाएंगे, जो दुनियाभर के दर्शकों को आकर्षित करेगा।

Jaipur Literature Festival 2021: लॉकडाउन के दौरान प्रवासियों की पीड़ा बंया करती हर्ष मंदर की किताब

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Jaipur Literature Festival 2021: Randeep Guleria's book explains India's fight against COVID-19
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X