• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

जैश उल हिंद ने ली इजरायली दूतावास के बाहर ब्‍लास्‍ट की जिम्‍मेदारी, मैक्‍लोडगंज-धर्मकोट में बढ़ाई गई सुरक्षा

|

Israel Embassy blast Update News: दिल्ली में इजरायली दूतावास के बाहर शुक्रवार शाम हुए आईईडी विस्फोट की जांच तेज हो गई है। इसी बीच ''जैश-उल-हिंद'' (Jaish-Ul-Hind) नाम के एक आतंकी संगठन ने इस विस्फोट की जिम्मेदारी ली है। जांच में जुटी सुरक्षा एजेंसियां ने कहा है कि आज से पहले 'जैश-उल-हिंद' नाम का कोई संगठन नहीं देखा गया। दिल्ली पुलिस क्राइम ब्रांच की साइबर सेल को जैश-उल-हिंद नाम के संगठन के बारे में टेलिग्राम से पता चला। जांच में जुटी सुरक्षा एजेंसी अब उस टेलीग्राम अकाउंट की जांच कर रही है। असल में एक टेलीग्राम अकाउंट से एक स्क्रीनशॉट वायरल हुआ। जिसमें लिखा था- 'ए स्ट्राइक इन द हार्ट ऑफ दिल्ली।' धमाके वाली जगह पर जांच का फोटो भी संगठन ने मेसेज के साथ पोस्ट किया है। लेकिन हैरानी वाली बात ये है कि दिल्ली में ब्लास्ट हुआ है पर पुलिस ने हिमाचल प्रदेश के मैक्लोडगंज और धर्मकोट में सुरक्षा बढ़ा दी है।

Israel Embassy blast

असल में दिल्ली क्राइम ब्रांच उन लोगों के बारे में पता लगा रही है जिन लोगों ने विस्फोट वाले दिन दोपहर 3 बजे से 6 बजे के बीच और एपीजे अब्दुल कलाम रोड से कैब में यात्रा की थी। दिल्ली में हुए धमाके के बाद हिमाचल प्रदेश के मैक्लोडगंज और धर्मकोट में सुरक्षा व्यवस्था बढ़ा दी गई है। कांगड़ा पुलिस ने इसको लेकर अलर्ट जारी करते हुए कहा है कि हां रहने वाले इजरायलियों पर नजर रखी जाए।

अब ऐसे में आप सोच रहे हैं कि आखिर दिल्ली में विस्फोट हुआ तो मैक्लोडगंज और धर्मकोट की सुरक्षा क्यों बढ़ाई जा रही है? टाइम्स नाउ में छपी रिपोर्ट के मुताबिक मैक्लोडगंज से करीब तीन किलोमीटर दूर धर्मकोट गांव है जहां बड़ी संख्या में इजरायली आबादी रहती है। इसी वजह से इसे मिनी इजरायल भी कहा जाता है। इसी वजह से पूरे इलाके में सुरक्षा बढ़ाने को कहा गया है।

बता दें कि दिल्ली के लुटियंस इलाके में औरंगजेब रोड पर स्थित इजराइली दूतावास के निकट शुक्रवार शाम एक आईईडी विस्फोट हुआ था। दिल्ली पुलिस ने बताया कि आईईडी में शुक्रवार शाम पांच बजकर पांच मिनट पर विस्फोट हुआ था। इस दौरान कोई हताहत नहीं हुआ। सूत्रों के मुताबिक विस्फोट स्थल पर जांचकर्ताओं को इजराइली दूतावास का पता लिखा एक लिफाफा भी मिला है। जिसपर इजरायली दूतावास का पता लिखा हुआ था। धमाका उस वक्त हुआ जब, वहां से कुछ किलोमीटर दूर गणतंत्र दिवस समारोहों के समापन के तौर पर होने वाला 'बीटिंग रीट्रिट' कार्यक्रम चल रहा था। जिसमें राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, उपराष्ट्रपति एम वैकेंया नायडू और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मौजूद थे।

ये भी पढ़ें- अधीर रंजन चौधरी बोले- पीएम मोदी सिर्फ हिन्दुओं के नेता, बताया कौन होगा कांग्रेस का अगला अध्यक्ष

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Israel Embassy blast: 'Jaish-Ul-Hind' claims responsibility Mcleodganj and Dharamkot security Tight
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X