• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

नाक और मुंह की आयोडीन से सफाई कर 15 सेकेंड में खत्म हो सकता है कोरोना, वैज्ञानिकों का दावा

|

नई दिल्ली: दुनियाभर में कोरोना वायरस (Covid-19) से साढ़े नौ लाख से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है। करोड़ों लोग कोविड-19 के संक्रमण का शिकार हो चुके हैं। दुनियाभर के वैज्ञानिक इसका इलाज और वैक्सीन खोजने में लगे हुए हैं। ऐसे में अमेरिकी वैज्ञानिकों ने आयोडीन (Iodine) से कोरोना वायरस (Coronavirus) को 15 सेकेंड के भीतर खत्म करने का दावा किया है। ये रिसर्च JAMA ओटोलरींगोलोजी-हेड एंड नेक सर्जरी (JAMA Otolaryngology-Head and Neck Surgery) में पब्लिश की गई है। रिसर्च में दावा किया है कि नाक और मुंह को आयोडीन से साफ किया जाए तो कोरोना को रोका जा सकता है और ऐसा करने से वह हमारे फेफड़ों को नुकसान नहीं पहुंचा पाएगा।

वैज्ञानिकों ने समझाया आयोडीन (Iodine) कैसे करेगा वायरस को खत्म

वैज्ञानिकों ने समझाया आयोडीन (Iodine) कैसे करेगा वायरस को खत्म

वैज्ञानिकों ने अपने रिसर्च में ये बताया है कि कोरोना के वायरस को जब 0.5 प्रतिशत कंसंट्रेशन वाले आयोडीन सॉल्यूशन में रखा गया तो वह 15 सेकेंड में ही खत्म हो गया। इसे और भी स्पष्ट रूप से समझाने के लिए वैज्ञानिकों ने कहा कि हमने इसे पुख्ता करने के लिए हमने आयोडीन के तीन एंटीसेप्टिक सॉल्यूशंस (Povidone-Iodine) तैयार किए। जिसमें आयोडीन की मात्रा 0.5%, 1.25%, और 2,5% रखी गई। जब वैज्ञानिकों ने तीनों एंटीसेप्टिक सॉल्यूशंस आयोडीन में कोरोना के वायरस को छोड़ा तो पाया गया कि 0.5% वाले में कोरोना खत्म हो गया।

वैज्ञानिकों ने कहा हमने ये यही जांच एथनॉल एल्कोहल के साथ भी किया लेकिन उसका नतीजा सकारात्मक नहीं था। जांच में एथनॉल कोरोना को पूरी तरह खत्म करने में सफल साबित नहीं हुआ।

वायरस को नाक और मुंह में ही रोका तो मरीजों की हालत गंभीर नहीं होगी

वायरस को नाक और मुंह में ही रोका तो मरीजों की हालत गंभीर नहीं होगी

वैज्ञानिकों का कहना है कि आयोडीन से सफाई कर वायरस को नाक और मुंह में ही रोका दिया जाएगा तो ये हमारे शरीर के दूसरे हिस्सों में प्रवेश नहीं कर पाएगा। यहां रोकने से वायरस फेफड़े तक नहीं पहुंच पाएगा, जिससे मरीजों की हालत नाजुक नहीं होगी। इससे जान का खतरा भी कम होगा।

वैज्ञानिकों ने दावा किया है कि ज्यादातर मामलों में देखा जा रहा है कि वायरस हमारी नाक से ही प्रवेश कर रहा है। नाक में सबसे ज्यादा ACE2 रिसेप्टर्स होते हैं, जो कोरोना को संक्रमण फैलाने में मदद करते हैं। इसके अलावा मुंह से वायरस की एंट्री होती है...इसलिए क्लीनिकल ट्रायल में नाक और मुंह की सफाई पर ही ध्यान दिया गया है।

क्या आपको COVID-19 से बचने के लिए आयोडीन से अपना मुंह और नाक धोना चाहिए?

क्या आपको COVID-19 से बचने के लिए आयोडीन से अपना मुंह और नाक धोना चाहिए?

क्या आपको COVID-19 से बचने के लिए आयोडीन अपना मुंह और नाक धोना चाहिए?, इस सवाल के जवाब में रिसर्चरों का कहना है कि डॉक्टर्स मरीजों को आयोडीन सॉल्यूशन से नाक को धोने का सही तरीका बता सकते हैं, लेकिन ये सिर्फ मेडिकल टीम की देखरेख में ही होना चाहिए। अगर ऐसा किया जाता है तो मुंह या नाक से निकलने वाले कोरोना के एयरोसॉल या ड्रॉपलेट्स के जरिए संक्रमण के खतरे को काफी कम किया जा सकता है।

ये भी पढ़ें- क्या खाने के सामान के जरिए भी फैलता है कोरोना वायरस, FSSAI ने बताया सच

वैज्ञानिकों ने घर में आयोडीन से मुंह और नाक ना धोने की दी नसीहत

वैज्ञानिकों ने घर में आयोडीन से मुंह और नाक ना धोने की दी नसीहत

रिसर्चरों ने तो साफ कर दिया है कि पॉवीडोन-आयोडीन (Povidone-Iodine) से नाक और मुंह की सफाई कोरोना का खात्मा कर सकती है लेकिन उन्होंने इसे घर में ना करने की सलाह दी है। शोधकर्ताओं ने लोगों को आगाह किया है कि वे इस घर में बिल्कुल भी ट्राई न करें। ये केवल एक डॉक्टर की देखरेख में ही किया जाना चाहिए।

शोधकर्ताओं ने यह भी कहा कि इस विधि से COVID-19 के कारण किसी को गंभीर लक्षण होने का खतरा कम हो सकता है, क्योंकि यह फेफड़ों में जाने वाले वायरल लोड को कम करने में मदद कर सकता है।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
Iodine solution kill coronavirus in 15 seconds Says researc. new study has now suggested that the use of an iodine solution can help prevent the spread of SARS-CoV-2, the virus that causes COVID-19 disease. Iodine solution had completely inactivated the virus, within 15 seconds.
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X