• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

शीना बोरा मर्डर केस में बंद इंद्राणी मुखर्जी के बयान के कारण चिदंबरम पर कसा शिकंजा, जानिए कैसे?

|

नई दिल्ली। आईएनएक्स मीडिया मामले में पूर्व केंद्रीय वित्त मंत्री पी चिदंबरम को सीबीआई ने बुधवार देर रात गिरफ्तार कर लिया, 31 घंटे के हाई वोल्टेज ड्रामे के बाद दिल्ली में सीबीआई ने चिदंबरम को उनके जोरबाग स्थित घर से गिरफ्तार किया, आज सीबीआई उन्हें राउज एवेन्यू कोर्ट में पेश करेगी चिदंबरम की ओर से आज ही जमानत याचिका दायर की जाएगी तो वहीं सीबीआई चिदंबरम की 14 दिनों की रिमांड की मांग अदालत से कर सकती है। इस पूरे केस में INX मीडिया की प्रमोटर इंद्राणी मुखर्जी के सरकारी गवाह बनने के बाद से ही चिदंबरम की मुश्किलें लगातार बढ़ती गईं और फिर मामला गिरफ्तारी की नौबत तक जा पहुंचा।

चलिए विस्तार से जानते हैं पूरा मामला..

पूर्व केंद्रीय वित्त मंत्री पी चिदंबरम पर लगे ये आरोप

पूर्व केंद्रीय वित्त मंत्री पी चिदंबरम पर लगे ये आरोप

CBI की प्राथमिकी के आधार पर एक PMLA का मामला दर्ज किया गया जिसमें आरोप लगाया गया कि INX मीडिया को 2007 में 305 करोड़ रुपये का विदेशी धन हासिल करने में विदेश निवेश प्रोन्नति बोर्ड (एफआईपीबी) की मंजूरी में अनियमितता की गई है,इस दौरान पूवित्त मंत्री पी चिदंबरम थे, इसके बाद ED ने कहा कि उसे जांच में पता चला कि FIPB की मंजूरी के लिए आईएनएक्स मीडिया के पीटर और इंद्राणी मुखर्जी ने पी चिदंबरम से मुलाकात की थी, ताकि उनके आवेदन में किसी तरह की देरी न हो, इस तरह से जो रुपया संबंधित निकायों को मिला, वह गैरकानूनी रूप से एएससीपीएल में लगा दिया गया।

यह पढ़ें: घर से भागकर चिदंबरम ने की थी नलिनी से शादी, जानिए पूरी कहानी

इंद्राणी बनी सरकारी गवाह

इंद्राणी बनी सरकारी गवाह

इस मामले में नया मोड़ तब आया जब इस मामले में आरोपी इंद्राणी मुखर्जी ने सरकारी गवाह बन गई, इंद्राणी खुद अपनी बेटी शीना बोरा की हत्या के सिलसिले में मुंबई की बाइकुला जेल में बंद है।

इंद्राणी मुखर्जी ने दिया ये बयान

इंद्राणी ने अपने बयान में कहा कि INX मीडिया की अर्जी फॉरेन इनवेस्टमेंट प्रमोशन बोर्ड (FIPB) के पास थी, इस दौरान उन्होंने पति पीटर मुखर्जी और कंपनी के एक वरिष्ठ अधिकारी के साथ पूर्व वित्त मंत्री के दफ्तर नॉर्थ ब्लॉक में जाकर मुलाकात की थी, पीटर ने चिदंबरम से कहा था कि INX मीडिया की अर्जी एफडीआई के लिए है और उसने अर्जी की प्रति भी उन्हें सौंपी।

चिदंबरम ने पीटर से मांगी थी रिश्वत

चिदंबरम ने पीटर से मांगी थी रिश्वत

इंद्राणी ने कहा कि FIPB की मंजूरी के बदले चिदंबरम ने पीटर से कहा कि उनके बेटे कार्ति के बिजनेस में मदद करनी होगी, हालांकि इंद्राणी ने पी. चिदंबरम को कितनी रकम रिश्वत के तौर पर दी, इसका खुलासा नहीं हुआ है।

यह पढ़ें: #PChidambaram: जानिए क्या होता है लुकआउट नोटिस?

कार्ति चिदंबरम भी जमानत पर हैं

कार्ति चिदंबरम भी जमानत पर हैं

इंद्राणी ने ED को बताया कि कार्ति से उनकी और पीटर की मुलाकात दिल्ली के एक होटल में हुई, कार्ति ने इस मामले को सुलझाने के लिए 10 लाख रुपये रिश्वत के तौर पर मांगे। आपको बता दें कि CBI ने इस मामले में उनके बेटे कार्ति को भी गिरफ़्तार किया था और फ़िलहाल जमानत पर हैं।

यह पढ़ें: जानिए चिदंबरम ने कैसे तय किया तमिलनाडु के गांव से सियासत तक का सफर

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
The statements of Indrani Mukherjea and her husband Peter Mukerjea, promoters of INX Media and co-accused in the money laundering case, are said to have been crucial in implicating P Chidambaram.
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X