• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

क्या रेलवे ने किसान आंदोलन के बीच सिर्फ सिखों को भेजें PM मोदी के कल्याणकारी योजना के ईमेल, IRCTC ने दिया जवाब

|

नई दिल्ली: किसान आंदोलन के बीच कई मीडिया खबरों में ये दावा किया जा रहा था कि भारतीय रेलवे की पीएसयू इंडियन रेलवे केटरिंग एंड टूरिज्म कॉरपोरेशन (IRCTC) से अपने 1.90 करोड़ ग्राहकों को एक ईमेल भेजा है। खबरों में दावा किया गया था कि इस ईमेल में सिख समुदाय के लिए पीएम नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) सरकार द्वारा उठाए गए कदमों के बारे में जानकारी दी गई थी। (PM Modi relationship with Sikhs) रिपोर्ट के मुताबिक से 8 से 12 दिसंबर के बीच IRCTC करीब 1.90 करोड़ ग्राहकों को ईमेल भेजे थे। सोशल मीडिया पर ये खबर तेजी से फैलने के बाद IRCTC ने इसपर अपना अधिकारिक जवाब दिया है। भारतीय रेलवे ने कहा है कि उन्होंने ईमेल किसी खास समुदाय को नहीं किया है। उन्होंने ये मेल सरकार की कल्याणकारी योजनाओं को बढ़ावा देने के लिए सभी को किया है।

Narendra Modi
    किसान आंदोलन के बीच IRCTC द्वारा सिखों को भेजे पीएम मोदी के कल्याणकारी योजानाओं के इमेल्स का सच
    खबरों में दावा किया जा रहा था कि केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार किसान आंदोलन को शांत करवाने के लिए ईमेल के द्वारा रेलवे का लाभ ले रही है। लेकिन इस रिपोर्ट को भारतीय रेलवे ने खारिज कर दिया है।

    आईआरसीटीसी (IRCTC) ने अपने अधिकारिक जवाब में कहा, मीडिया के एक हिस्से में एक समाचार रिपोर्ट प्रकाशित हुई है कि सरकार आईआरसीटीसी ईमेल के माध्यम से सिखों तक अपनी बात पहुंचा रही है। लेकिन हम ये सभी को सूचित करना चाहते हैं कि किसी भी विशेष समुदाय को कोई भी खास तरह का मेल नहीं भेजा गया है। मीडिया रिपोर्ट में आईआरसीटीसी की टिप्पणियों को सही ढंग से उद्धृत नहीं किया गया है।

    IRCTC ने कहा कि यह पहली घटना नहीं है। इससे पहले भी, IRCTC द्वारा जनहित में सरकार की कल्याणकारी योजनाओं को बढ़ावा देने के लिए इस तरह की गतिविधियां की गई हैं।

    जानें क्या है पूरा माजरा?

    पीटीआई-भाषा की रिपोर्ट के मुताबिक, 8 से 12 दिसंबर तक इंडियन रेलवे कैटरिंग एंड टूरिज्म कॉर्पोरेशन, (IRCTC) रेलवे PSU ने अपने ग्राहकों को 47-पेज की बुकलेट - 'पीएम मोदी और उनकी सरकार के सिखों के साथ विशेष संबंध' को लेकर एक ईमेल किया। इस बुकलेट में मोदी सरकार द्वारा सिख समुदायों के लिए गए 13 फैसलों के बारे में जानकारी दी गई थी।

    बुकलेट हिंदी, अंग्रेजी और पंजाबी में हैं। अधिकारियों ने कहा कि ईमेल 12 दिसंबर को बंद कर दिए गए थे, जिन्हें आईआरसीटीसी के पूरे डेटाबेस में भेजा गया था।

    रेलवे ने उन रिपोर्टों का खंडन किया कि ईमेल सिर्फ सिख समुदाय के केवल सदस्यों को भेजे गए थे। आईआरसीटीसी के एक आधिकारिक बयान में कहा गया है, "सभी को मेल भेजे गए हैं, चाहे किसी भी विशेष समुदाय के हों। यह पहली घटना नहीं है। पहले भी आईआरसीटीसी द्वारा सार्वजनिक हित में सरकारी कल्याणकारी योजनाओं को बढ़ावा देने के लिए इस तरह की गतिविधियां की गई हैं।"

    ये भी पढ़ें- किसान आंदोलन के बीच IRCTC ने 2 करोड़ लोगों को भेजे ईमेल, PM मोदी और सिखों के बीच अटूट संबंध की दी जानकारी

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    Indian railways sends nearly 2 crore emails on PM Modi relationship with Sikhs IRCTC Reply
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X