• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

हाथरस केस: भारत ने संयुक्त राष्ट्र के आरोपों को किया खारिज, कहा- अनावश्यक टिप्पणी से बचें

|
Google Oneindia News

नई दिल्ली: हाथरस केस में पीड़ित लड़की की मौत के बाद से इस मामले पर राजनीति जारी है। हाल ही में संयुक्त राष्ट्र ने भी भारत में महिलाओं के खिलाफ यौन हिंसा के मामलों को लेकर चिंता जाहिर की थी। साथ ही भारत के अधिकारियों को तुरंत दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की सलाह दी थी। इस दौरान संयुक्त राष्ट्र ने हाथरस और बलरामपुर की घटनाओं का उल्लेख भी किया था। जिस पर अब भारतीय विदेश मंत्रालय की प्रतिक्रिया सामने आई है।

    Hathras और Balrampur की घटना पर UN अधिकारी ने जताई तो ने दिया ये जवाब | वनइंडिया हिंदी
    hathras

    मामले में विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अनुराग श्रीवास्तव ने कहा कि संयुक्त राष्ट्र रेजीडेंट को-आर्डिनेटर ने जो टिप्पणी की है, हम उसे अनुचित मानते हैं। संयुक्त राष्ट्र को ये पता होना चाहिए कि भारत में राज्य और केंद्र सरकार ने इन मामलों को कितनी गंभीरता से लिया है। उन्होंने साफ किया कि इस मामले में अच्छी तरह से जांच प्रक्रिया चल रही है, इस वजह से किसी भी बाहरी एजेंसी को इस तरह की टिप्पणी नहीं करनी चाहिए। भारतीय संविधान सभी नागरिकों को समानता की गारंटी देता है। एक लोकतंत्र के रूप में हमारे पास हमारे समाज के सभी वर्गों को न्याय प्रदान करने का एक समय-परीक्षणित रिकॉर्ड है।

    हाथरस गैंगरेप: राजस्‍थान कांग्रेस ने तानाशाह किम जोंग से की CM योगी की तुलना हाथरस गैंगरेप: राजस्‍थान कांग्रेस ने तानाशाह किम जोंग से की CM योगी की तुलना

    क्या था UN का पूरा बयान?
    संयुक्त राष्ट्र ने अपने बयान में कहा था कि हाथरस और बलरामपुर की घटनाएं इस बात की ओर इशारा करती हैं कि सामाजिक मानदंडों पर उल्लेखनीय विकास के बावजूद वंचित वर्ग की महिलाओं और लड़कियों को लिंग आधारित हिंसा झेलनी पड़ती है। इसके साथ ही भारत सरकार महिलाओं की सुरक्षा को मजबूत करने के लिए जो कदम उठा रही है, वो स्वागतयोग्य हैं। पीएम मोदी ने दोषियों के खिलाफ जो कड़ी कार्रवाई की बात कही है, उसका भी संयुक्त राष्ट्र समर्थन करता है। यूएन के मुताबिक हिंसा को बढ़ावा देने वाली सामाजिक कुरीतियों पर लगाम लगाना जरूरी है।

    क्या है हाथरस और बलरामपुर का मामला?
    हाथरस में एक दलित युवती के साथ 14 सितंबर को गैंगरेप हुआ था। इस दौरान उसकी चीभ काटने के अलावा रीढ़ की हड्डी भी आरोपियों ने तोड़ दी थी। जिसके बाद बीते मंगलवार को युवती की इलाज के दौरान मौत हो गई। इस घटना में शामिल चारों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है। हालांकि पुलिस ने अभी तक गैंगरेप की पूरी तरह से पुष्टि नहीं की है। वहीं इसी तरह की घटना यूपी के बलरामपुर में भी हुई थी, जहां पर 22 वर्षीय दलित युवती के साथ पहले गैंगरेप हुआ। उसके बाद उसकी बेरहमी से हत्या कर दी गई।

    English summary
    indian foreign ministry reject allegations of united nations in hathras case
    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X