• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

बारामूला में गई मिर्जापुर के रवि कुमार सिंह की जान , आखिरी शब्‍द थे-फोन रखो, एनकाउंटर पर जा रहा हूं

|

मिर्जापुर। जम्‍मू कश्‍मीर के बारामूला में जारी एनकाउंटर मंगलवार देर रात तीन आतंकियों के खात्‍मे के साथ ही अपने अंजाम पर पहुंच गया। सेना, सीआरपीएफ और जम्‍मू कश्‍मीर पुलिस की तरफ से चलाए गए ज्‍वॉइन्‍ट ऑपरेशन में उस आतंकी को ढेर कर दिया गया जिसने बीजेपी के नेता वसीम बारी की हत्‍या कर दी थी। बारामूला के क्रीएरी इलाके में तीन आतंकियों को ढेर किया गया है। ऑपरेशन में सुरक्षाबलों को बड़ी सफलता हासिल लगी लेकिन सेना ने अपने दो जवानों को गंवा दिया। हिमाचल प्रदेश के रहने वाले 24 साल के प्रशांत ठाकुर और उत्‍तर प्रदेश के मिर्जापुर जिले के रहने वाले रवि कुमार सिंह इस एनकाउंटर में शहीद हो गए हैं। ये दोनों ही सेना की ग्रेनेडियर रेजीमेंट से आते थे।

यह भी पढ़ें-50 आतंकियों को ढेर करने वाले CRPF असिस्‍टेंट कमांडेंट नरेश कुमार

    Jammu Kashmir : Baramulla Encounter के शहीदों को श्रद्धांजलि,चार जवान हुए थे शहीद | वनइंडिया हिंदी
    दीवाली पर था घर आने का वादा

    दीवाली पर था घर आने का वादा

    नॉर्दन आर्मी कमांडर लेफ्टिनेंट जनरल वाईके जोशी ने जवानों की शहादत पर अपनी संवेदनाए व्‍यक्त की हैं। वहीं उत्‍तर प्रदेश के मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने जवान के परिवारों वालों को 50 लाख रुपए देने का ऐलान किया है। साथ ही उनके परिवार के एक सदस्‍य को सरकारी नौकरी देने का आश्‍वासन भी दिया गया है। रवि, आतंकियों से लड़ते हुए गंभीर रूप से घायल हो गए थे। इलाज के दौरान उन्‍होंने दम तोड़ दिया। वह आखिरी बार इस वर्ष फरवरी में अपने घर आए थे और घरवालों से वादा कर गए कि दीवाली पर फिर से घर आएंगे। नियति को कुछ और ही मंजूर था, कोरोना वायरस महामारी की वजह से रवि को छुट्टी नहीं मिल सकी। रवि अब कभी घर नहीं लौटेंगे।

    दो साल पहले ही हुई थी शादी

    दो साल पहले ही हुई थी शादी

    बारामूला एनकाउंटर सोमवार सुबह से ही जारी था। दो साल पहले रवि की शादी हुई थी और वह हमेशा अपने घर पर पत्‍नी प्रियंका और मां से बात करते थे। एनकाउंटर के दौरान जब उन्‍हें मूव करने के ऑर्डर मिले तो वह उस समय फोन पर बात कर रहे थे। सुबह के करीब 11 बजे थे कि अचानक उन्हें टीम के साथ जाने का ऑर्डर मिला। रवि उस समय पत्‍नी प्रियंका से बात कर रहे थे। उन्‍होंने कहा, 'फोन रखो, मैं लौटकर बात करता हूं, एक एनकाउंटर के लिए निकल रहा हूं।' इसके बाद रवि का कोई कॉल नहीं आया। उनकी कंपनी में साथी जवान ने फोन करके घर पर बताया कि उन्‍हें गोली लग गई है।

    CO ने पिता को दी बेटे की शहादत की खबर

    CO ने पिता को दी बेटे की शहादत की खबर

    रवि ने अपनी पत्‍नी से कहा कि वह उन्‍हें दोबारा फोन करेंगे लेकिन अब उनका फोन कभी नहीं आएगा। दो साल पहले ही उनकी शादी हुई थी। शहीद रवि आखिरी बार जब अपने घर आए थे तो उनके चचेरे भाई की शादी थी। 13 फरवरी को हुई उस शादी में रवि ने अपनी मां और पत्‍नी से जो वादा किया था वह अब कभी भी पूरा नहीं हो सकेगा। सोमवार को देर रात करीब एक बजे रवि के कमांडिंग ऑफिसर (सीओ) ने उनके शहीद होने की जानकारी फोन करके पिता संजय सिंह को दी। उसके बाद से ही घर में कोहराम मचा हुआ है। किसी को यकीन नहीं हो पा रहा है कि अब रवि उनके बीच नहीं हैं।

    बारामूला में शहीद पांच जवान

    बारामूला में शहीद पांच जवान

    बारामूला एनकाउंटर में पांच जवान शहीद हुए हैं, दो जवान सीआरपीएफ के, दो सेना के और एक जम्‍मू कश्‍मीर पुलिस के स्‍पेशल पुलिस ऑफिसर थे। जम्‍मू कश्‍मीर पुलिस की तरफ से बताया गया है कि दो आतंकियों को सोमवार रात ही ढेर कर दिया गया था जबकि तीसरा आतंकी मंगलवार को मारा गया है। एक आतंकी लश्‍कर-ए-तैयबा का कमांडर सज्‍जाद हैदर था। सज्‍जाद ने ही बीजेपी नेता वसीम बारी, उनके परिवार समेत उनके भाई और पिता की हत्‍या कर दी थी।

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    Indian Army's Ravi Kumar Singh gave his life in Baramulla he was from Mirzapur, Uttar Pradesh.
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X