• search
क्विक अलर्ट के लिए
अभी सब्सक्राइव करें  
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

Ind vs Aus: गाबा में लहराया 'तिरंगा', उत्तराखंड के छोरे और पंजाबी पुत्तर ने निभाई जीत में अहम भूमिका

|

India vs Australia 4th Test: Rishabh Pant and Shubman Gill Heroes of Gabba win: 26 जनवरी से पहले ही आज तिरंगा फहराया है, वो भी ब्रिसबेन के गाबा में, जी हां, टीम इंडिया के धुरंधरों ने आज बॉर्डर-गावस्कर ट्रॉफी के चौथे टेस्ट में आस्ट्रेलिया को तीन विकेट से हराकर इतिहास रचा है और यही नहीं इस जीत के साथ ही भारतीय टीम ने चार मैचों की यह सीरीज भी 2-1 से अपने नाम कर ली है। अजिंक्य रहाणे की शानदार कप्तानी में टीम इंडिया ने जिस तरह से गाबा के मैदान पर जीत हासिल की है वो अपने आप में अनुपम है।

    Rishabh Pant, Shubman Gill, Pujara, 5 Heroes of Team India's historic win at Gabba|वनइंडिया हिंदी
    ब्रिस्बेन में टीम इंडिया ने रचा इतिहास

    ब्रिस्बेन में टीम इंडिया ने रचा इतिहास

    मालूम हो कि ऐसा पहली बार हुआ है कि किसी टीम ने 300 से ज्यादा के रनों का पीछा किया है। इस जीत के हीरो रहे उत्तराखंड के छोरे ऋषभ पंत और पंजाबी पुत्तर शुभमन गिल। बता दें कि रचनात्मक खिलाड़ी पंत ने 138 गेंदो में 89 रनों की ना केवल शानदार नाबाद पारी खेली बल्कि 'मैन ऑफ द मैच' ऋषभ पंत अब टेस्ट क्रिकेट में सबसे तेज 1,000 रन बनाने वाले इंडियन विकेटकीपर भी बन गए हैं। मालूम हो कि ऋषभ राजेंद्र पंत का जन्म 04 अक्टूबर 1997 के रुड़की, उत्तराखंड में हुआ था। इनका पैतृक निवास पिथौरागढ़ जिले का पाली नामक गांव है।

    यह पढ़ें: आज भी रहस्यमय है 'संभोग से समाधि तक'... को लिखने वाले 'ओशो', जानिए कुछ खास बातें

    उत्तराखंड के छोरे और पंजाबी पुत्तर ने निभाई अहम भूमिका

    उत्तराखंड के छोरे और पंजाबी पुत्तर ने निभाई अहम भूमिका

    तो वहीं सलामी बल्लेबाज शुभमन गिल ने 146 गेंदो में 91 रनों का योगदान दिया। दोनों के बीच के संयम, धैर्य और समझदारी ने भारत को ऐतिहासिक जीत दिला दी। पंत की पारी में 9 चौके और एक छक्का शामिल हैं तो वहीं गिल ने 8 चौके और 2 छक्के लगाकर हर क्रिकेटवासी के मन को मोह लिया। 21 साल के गिल मूल रूप से पंजाब के रहने वाले हैं, उनका जन्म स्थान फिरोजपुर है।

     चेतेश्वर पुजारा की पारी भी कमाल की रही

    चेतेश्वर पुजारा की पारी भी कमाल की रही

    हालांकि पंत और गिल के अलावा चेतेश्वर पुजारा की पारी भी कमाल की रही है। गाबा फतेह में भी उन्होंने भी शानदार भूमिका निभाई है। उन्होंने 211 गेंदो में 56 रनों की पारी खेलकर टीम इंडिया को मजबूती प्रदान की जिससे कि पहाड़ सा दिखने वाला लक्ष्य आसान हो गया है। टेस्ट के महारथि कहे जाने वाले पुजारा एक चट्टान की तरह टीम के साथ खड़े रहे, उनकी यादगार पारियों में गाबा की पारी दर्ज हो गई है जिसे कोई कभी भूल नहीं पाएगा।

    ऑस्ट्रेलिया में भारत ने दूसरी बार टेस्ट सीरीज जीती है

    ऑस्ट्रेलिया में भारत ने दूसरी बार टेस्ट सीरीज जीती है

    मालूम हो कि ऑस्ट्रेलिया में भारत ने दूसरी बार टेस्ट सीरीज जीती है इससे पहले इंडिया ने 2018-19 दौरे पर कंगारूओं को चारों खाने चित्त किया था। ऑस्ट्रेलियाई टीम 1988 के बाद यानी 33 साल से गाबा के मैदान पर टेस्ट मैच नहीं हारी थी।

    टीम इंडिया ने दिखाया कमाल

    बता दें कि आस्ट्रेलिया ने पहली पारी में 369 रन बनाए थे, जिसके जवाब में भारत पहली पारी में 336 रन ही बना सका था। इसके बाद आस्ट्रेलिया ने दूसरी पारी में 294 रन बनाए थे। भारत को 328 रनों की मुश्किल चुनौती मिली थी, जिसे उसने अपने हार न मानने की जिद से हासिल कर लिया।

    पीएम मोदी ने की तारीफ

    पीएम मोदी ने की तारीफ

    पीएम मोदी ने भी ट्वीट कर भारतीय क्रिकेट टीम को बधाई दी है, उन्होंने ट्वीट किया कि हम सभी ऑस्ट्रेलिया में भारतीय क्रिकेट टीम की सफलता पर बहुत खुश हैं, उनकी ऊर्जा और जुनून पूरे खेल के दौरान दिखाई दे रहा था। टीम को बधाई! आपके भविष्य के प्रयासों के लिए शुभकामनाएं।

    यह पढ़ें: Tandav web series: गुरपाल बनकर खुश हैं सुनील ग्रोवर, बोले-'डार्क कैरेक्टर दमदार'

    देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
    English summary
    Team india creates History, Rishabh Pant and Shubman Gill Heroes of Gabba win, People told that Rishabh Pant and Shubman Gill, are 23 and 21 (!!!) respectively. These youngsters are unreal.
    For Daily Alerts
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X