• search
क्विक अलर्ट के लिए
नोटिफिकेशन ऑन करें  
For Daily Alerts

5G नेटवर्क तकनीक के लिए साथ मिलकर काम करेंगे भारत, अमेरिका और इजराइल

|

नई दिल्ली। भारत, इजरायल और अमेरिका ने विभिन्न डवलेमेंटल क्षेत्रों में एकदूसरे के सहयोग के तहत अगली पीढ़ी की उभरती 5जी नेवटर्क तकनीक में आपसी सहयोग के लिए काम करना शुरू कर दिया है। एक शीर्ष अधिकारी जानकारी देते हुए बताया कि तीनों देश एक पारदर्शी, खुले, विश्वसनीय और सुरक्षित 5जी संचार नेटवर्क के लिए भी काम करेंगे।

5g

WHO ने कहा, COVAX वैक्सीन योजना में शामिल होने के योग्य है भारत, जानिए क्या होंगे इसके फायदे?

विकास और तकनीकी क्षेत्र में त्रिपक्षीय पहल की शुरूआत PM मोदी ने की थी

विकास और तकनीकी क्षेत्र में त्रिपक्षीय पहल की शुरूआत PM मोदी ने की थी

गौरतलब है विकास और तकनीकी क्षेत्र में त्रिपक्षीय पहल की शुरूआत प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने तीन साल पहले जुलाई 2017 में इजराइल की ऐतिहासिक यात्रा के दौरान शुरू किया था। समुदाय के नेताओं ने कहा कि यह विकास और प्रौद्योगिकी क्षेत्रों में त्रिपक्षीय पहल इसी का हिस्सा है, जो पीपुल टू पीपुल संपर्क पर सहमति बनी थी।

5 जी तकनीक नेटवर्क में तीनों देशों का सहयोग पहला कदम है

5 जी तकनीक नेटवर्क में तीनों देशों का सहयोग पहला कदम है

यूएस एजेंसी फॉर इंटरनेशनल डेवलपमेंट (यूएसएआईडी) के डिप्टी एडमिनिस्ट्रेटर बोनी ग्लिक के मुताबिक 5 जी तकनीक नेटवर्क में तीनों देशों का सहयोग पहला कदम है। पिछले सप्ताह आयोजित रणनीतिक, तकनीकी और विकास व जल सहयोग पर यूएस-इंडिया-इज़राइल फोरम के चर्चा के बाद ग्लिक ने कहा, ‘हम विज्ञान, शोध, विकास और अगली पीढ़ी की तकनीक में मिलकर काम कर रहे हैं और इस भागीदारी के जरिए हम आधिकारिक तौर पर इन संबंधों की पुष्टि कर रहे हैं और आधिकारिक रूप से इस रिश्ते के महत्व की पुष्टि करते हुए हम इसे आगे बढ़ाएंगे।

हम भागीदारों के साथ काम करके काफी रोमांचित हैंः बोनी ग्लिक

हम भागीदारों के साथ काम करके काफी रोमांचित हैंः बोनी ग्लिक

इससे पहले ग्लिक ने अमेरिका-भारत-इस्राइल के बीच वर्चुअल शिखर बैठक को संबोधित करते हए कहा, हम दुनिया की विकास से जुड़ी चुनौतियों को हल करने के लिए इन भागीदारों के साथ काम करके काफी रोमांचित हैं। इस बैठक को भारत में इस्राइल के राजदूत रॉन मलका और उनके समकक्ष संजीव सिंगला ने भी संबोधित किया। ग्लिक ने आगे कहा, हम जिस क्षेत्र पर सहयोग कर रहे हैं, वह विशेष रूप से अगली पीढ़ी की 5 जी तकनीक में डिजिटल नेतृत्व और नवोन्मेष है।

नवीन प्रौद्योगिकी में सिलिकॉन वैली, बेंगलुरु व तेल अवीव ने प्रतिष्ठा अर्जित की

नवीन प्रौद्योगिकी में सिलिकॉन वैली, बेंगलुरु व तेल अवीव ने प्रतिष्ठा अर्जित की

बकौल ग्लिक, जुलाई में मैंने 5जी और डिजिटल विकास पर कई समान विचारधारा वाले दाताओं के साथ एक चर्चा की अध्यक्षता की थी। मेरे लिए यह बेहद महत्वपूर्ण था कि भारत और इजरायल उस बातचीत का हिस्सा हो और उनके योगदान के कारण चर्चा अधिक सार्थक रही। ग्लिक के अनुसार सिलिकॉन वैली, बैंगलुरु और तेल अवीव ने सभी अग्रणी, नवीन प्रौद्योगिकी हब के रूप में प्रतिष्ठा अर्जित की है, और यह सही है।

भारत और इज़राइल के बीच सहकर्मी-सहकर्मी संबंध थेः जेवियर पिदरा

भारत और इज़राइल के बीच सहकर्मी-सहकर्मी संबंध थेः जेवियर पिदरा

यूएसएआईडी में एशिया के लिए ब्यूरो के डिप्टी असिस्टेंट एडमिनिस्ट्रेटर जेवियर पिदरा ने कहा कि भारत और इज़राइल के बीच सहकर्मी-सहकर्मी संबंध थे, जो हमेशा यह देखना चाहते थे कि वो कैसे अपनी संबंधित गतिविधियों को आगे बढ़ा सकते हैं। दोनों देश वैश्विक स्तर पर आत्मनिर्भरता की खोज में सामान्य लक्ष्यों, संसाधनों और तुलनात्मक लाभ भी उठा सकते हैं।

इस मॉडल की सुंदरता इसलिए थी,क्योंकि प्रौद्योगिकी एक समान थी

इस मॉडल की सुंदरता इसलिए थी,क्योंकि प्रौद्योगिकी एक समान थी

2017 में इज़राइल में मोदी को तकनीक-त्रिकोण (सिलिकॉन वैली-तेल अवीव और बैंगलोर) की अवधारणा प्रस्तुत करने वाले इंडिस्पोरा के एमआर रंगास्वामी ने कहा कि इस मॉडल की सुंदरता इसलिए थी,क्योंकि प्रौद्योगिकी तीन चीजों में एक समान थी और सभी प्रकार के अविश्वसनीय चीजें बाहर से आई थीं। शिकागो के एक भारतीय-अमेरिकी डॉ. भरत बरई ने कहा कि तीन देशों के बीच पीपुल टू पीपुल संबंध, व्यापार, विज्ञान और प्रौद्योगिकी न केवल संबंधों को मजबूत करेंगे, बल्कि तीसरी दुनिया के देशों में विकासात्मक गतिविधियों में भी मदद करेंगे।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Oneindia Hindi के फेसबुक पेज को लाइक करें
English summary
India, Israel and the United States have started working on mutual cooperation in the next generation emerging 5G network technology under the cooperation of each other in various developmental areas. Giving information, an official said that the three countries will also work for a transparent, open, reliable and secure 5G communication network.
For Daily Alerts
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
X